पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक विक्टोरिया लूसिया

नए लेखकों के लिए पटकथा लेखन से जुड़े 6 अनोखे रोजगार

नए लेखकों के लिए पटकथा लेखन से जुड़े 6 अनोखे रोजगार

जब आप शुरुआत में पटकथा लिखना शुरू करते हैं, तो अपनी ज़रूरतें पूरी करने के लिए आपको दूसरी नौकरी करनी पड़ सकती है। अगर आप इस उद्योग के अंदर कोई काम खोज सकें या अपनी नौकरी पर कहानीकार के रूप में अपने कौशलों का इस्तेमाल कर सकें तो आपके लिए सबसे अच्छा होगा। यहाँ पर नए पटकथा लेखकों के लिए कुछ अनोखे और फ़ायदेमंद रोजगारों के बारे में बताया गया है।

  • पटकथा लेखन से संबंधित रोजगार का आईडिया 1: शिक्षक

    मैं एक पटकथा लेखिका हूँ, लेकिन इस समय मैं एलए में नहीं रह रही हूँ, इसलिए उद्योग के अंदर काम की तलाश करना मेरे लिए थोड़ा मुश्किल है। मैं फ्रीलांस शिक्षिका के रूप में काम करती हूँ, और अपने इलाके में रहने वाले बच्चों को वीडियो निर्माण सिखाती हूँ। मैंने स्कूलों और स्थानीय रंगमंच कंपनी के साथ काम करते हुए यह किया है। पढ़ाना बहुत मज़ेदार होता है, और छोटे-छोटे रचनाकारों के साथ काम करना मुझे बेहद पसंद है! अगर आप मेरी तरह हैं और हॉलीवुड के बाहर रहते हैं (या अगर आप हॉलीवुड में हैं तो भी), तो दूसरों को पढ़ाना पैसे कमाने का बढ़िया तरीका हो सकता है। यह आपके कौशल को बेहतर बनाता है, और मुझे लगता है अपने काम को हमेशा दूसरों की रचनात्मकता के सामने लाना बहुत फ़ायदेमंद साबित होता है।

  • पटकथा लेखन से संबंधित रोजगार का आईडिया 2: लेखक

    मैं ये काम भी करती हूँ! SoCreate के लिए ब्लॉग लिखना शानदार अनुभव रहा है। मुझे लगता है पटकथा लेखन पर ब्लॉग लिखना काफ़ी हद तक पढ़ाने जैसा ही है, क्योंकि ये उन चीजों को मज़बूत बनाता है जो मुझे पता हैं। इसके लिए मुझे शोध करने और नयी चीज़ें सीखने की भी ज़रूरत पड़ती है, जिससे मुझे अपने लेखन में सुधार करने में मदद मिलती है।

    SoCreate के लिए लिखना काफ़ी अनोखा अवसर रहा है, क्योंकि इससे मुझे विशेष रूप से पटकथा लेखन के बारे में लिखने का मौका मिलता है। फिर भी, लिखने से संबंधित कोई भी काम आगे बढ़ने में आपकी मदद कर सकता है और इससे आप अपने लिखने के कौशलों का प्रयोग कर पाएंगे। चाहे ये ब्लॉग हो, लेख हो, या निबंध, अपना पटकथा लेखन का करियर शुरू करते समय लिखना आपके लिए बहुत अच्छा विकल्प हो सकता है।

  • पटकथा लेखन से संबंधित रोजगार का आईडिया 3: पटकथा का पाठक

    मैं ऐसे कुछ लेखकों को जानती हूँ जिन्होंने प्रतियोगिताओं या फ़ीडबैक देने वाली पटकथा लेखन वेबसाइटों के लिए पाठक के रूप में काम किया है। पटकथाएं पढ़ना अपने पटकथा लेखन का कौशल सुधारने के सबसे अच्छे तरीकों में से एक है, इसलिए यह तेज़ी से आगे बढ़ते हुए पटकथा लेखक के लिए एक बहुत अच्छा काम है। दूसरों की पटकथाओं को देखना और यह समझना कि प्रतियोगिताओं और कारोबार में लोग किस चीज़ की तलाश कर रहे हैं, अपने काम की समझ को बेहतर बनाने में बहुत ज़्यादा मददगार साबित होता है।

  • पटकथा लेखन से संबंधित रोजगार का आईडिया 4: किसी टेलीविज़न शो पर पीए

    मैं ख़ास तौर पर टेलीविज़न के बारे में बात करना चाहती थी क्योंकि अक्सर लोग पटकथा लेखन के बारे में सलाह देते समय इसे भूल जाते हैं। अगर आपको टीवी में दिलचस्पी है तो किसी शो पर निर्माण सहायक (पीए) के रूप में काम करना बहुत शानदार अवसर हो सकता है। पीए का पद इस कारोबार की दहलीज़ पर अपना पाँव जमाने का बेहतरीन मौका है, जिससे आपको ऊपर जाने में मदद मिल सकती है, और आख़िरकार आप किसी लेखक के सहायक बन सकते हैं। यह लेखक के कमरे तक पहुंचने का बढ़िया आईडिया है।

  • पटकथा लेखन से संबंधित रोजगार का आईडिया 5: एजेंट का सहायक

    पटकथा के पाठक की तरह ही, इस काम में भी आप अपना बहुत सारा समय पढ़ने में बिताएंगे, लेकिन एजेंट का सहायक बनना एजेंट के साथ रिश्ता बनाने का एक बहुत अच्छा मौका है। इससे आपको उद्योग के व्यावसायिक पहलू की अच्छी समझ होगी और आप अपने विचारों और योजनाओं को ऐसी भाषा में बदलना सीखेंगे जिसे एजेंट और निर्माता समझ सकें।

  • पटकथा लेखन से संबंधित रोजगार का आईडिया 6: स्टूडियो में मिलने वाला कोई भी रोजगार

    अगर आप लॉस एंजेल्स या किसी भी फ़िल्म निर्माण केंद्र में स्थानीय रूप से रहते हैं तो किसी स्टूडियो में कोई भी काम पाना बेशकीमती अनुभव हो सकता है। सुरक्षा से लेकर मेल रूम तक, स्टूडियो में मिलने वाले किसी भी रोजगार से आपको एक्सेस और नेटवर्किंग के मूल्यवान अवसर मिल सकते हैं। किसी का सहायक बनना सबसे अच्छा पद होता है। इस काम से आपको रोज़मर्रा की चीज़ों में ज़्यादा शामिल होने का मौका मिलेगा और आप आने वाली प्रतिभाओं और कार्यकारी लोगों से मिल पाएंगे।

ये सभी उन कुछ रोजगारों में से एक हैं जो लेखक अपने करियर की शुरुआत में कर सकते हैं। इनमें से हर एक के अपने फ़ायदे और नुकसान हैं। आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि इस कारोबार में प्रवेश करने के कई तरीके होते हैं, और रोजगार से आपको इसमें प्रवेश करने में मदद मिल सकती है, लेकिन नहीं भी मिल सकती है, और ऐसा भी हो सकता है कि आपको इसमें जाने का कोई और रास्ता मिल जाए! लिखना जारी रखें और अपने रोजगार के दौरान नेटवर्क बनाने के अवसरों के प्रति जागरूक रहें, ताकि जब वो अवसर आपको मिलें तो आप उनका लाभ उठा सकें! आपके लिए शुभकामनाएं और लिखते रहें!

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

पटकथा लेखक कहाँ रहते हैं:
दुनिया भर में पटकथा लेखन के केंद्र

पटकथा लेखक कहाँ रहते हैं: दुनिया भर में पटकथा लेखन के केंद्र

दुनिया भर में फ़िल्मों के प्रमुख केंद्र कौन से हैं? कई शहरों, राज्यों, और देशों में फ़िल्म उद्योग का फलता-फूलता कारोबार मौजूद है, और अब तकनीक की वजह से किसी ख़ास जगह रहे बिना पटकथा लेखक के रूप में काम करना पहले से कहीं ज़्यादा आसान हो गया है, हॉलीवुड के अलावा, उन स्थानों के बारे में जागरूक रहने में कोई हर्ज़ नहीं है जिन्हें फ़िल्म और टीवी के लिए जाना जाता है। यहाँ आपके लिए दुनिया भर में मौजूद फ़िल्म निर्माण और पटकथा लेखन के केंद्रों की सूची दी गयी है! लॉस एंजेल्स। हम सभी जानते हैं कि 100 साल से भी ज़्यादा पुरानी संरचना, बेमिसाल शिक्षा कार्यक्रमों, और बेहतरीन फ़िल्म इतिहास...

अपनी पटकथा में ऐसे चरित्र लिखें जिनसे लोगों का मन न भरे

अपनी पटकथा में ऐसे चरित्र कैसे लिखें जिनसे लोगों का मन न भरे

किसी सफल पटकथा के कई अलग-अलग पहलू होते हैं: इसमें कहानी, संवाद, परिवेश होते हैं। पटकथा में जो चीज़ मुझे सबसे ज़रूरी लगती है और जिसके साथ मैं शुरुआत करती हूँ वो है, चरित्र। मेरे मामले में, कहानी के ज़्यादातर आईडिया एक विशेष मुख्य चरित्र के साथ शुरू होते हैं जिसके साथ मैं ख़ुद को जोड़ पाती हूँ। यहाँ पर ऐसे चरित्र लिखने के लिए कुछ उपाय बताये गए हैं जिन्हें आपके दर्शक ज़रूर पसंद करेंगे! अपनी पटकथा के चरित्रों को शुरू से जानें। वास्तव में लिखना शुरू करने से पहले की प्रक्रिया के ज़्यादातर हिस्से में मैं अपने चरित्रों की रूपरेखा तैयार करती हूँ। इस रूपरेखा में वो सभी चीज़ें शामिल होती हैं...

अपनी पटकथा में

कहानी का मोड़ लिखें

कहानी का मोड़! अपनी पटकथा में मोड़ कैसे लिखें

यह सब एक सपना था? वो असल में उसका बाप था? पूरे समय हम पृथ्वी ग्रह पर थे? फ़िल्मों में कहानी के मोड़ का एक लंबा-चौड़ा इतिहास रहा है, और इसका अच्छा कारण भी है। किसी फ़िल्म के मोड़ से पूरी तरह से हैरान होने से ज़्यादा मज़ेदार और क्या हो सकता है? कहानी का अच्छा मोड़ चाहे जितना भी मज़ेदार क्यों न हो, लेकिन हम सभी इसके विपरीत अनुभव के बारे में भी बहुत अच्छी तरह से जानते हैं, जहाँ हमें बहुत पहले ही कहानी में आने वाले मोड़ का पता चल जाता है। तो, आप अपना ख़ुद का असरदार मोड़ कैसे लिखते हैं? यहाँ आपके लिए कुछ उपाय दिए गए हैं जिनकी मदद से आप अपनी पटकथा में...

टिप्पणियां