पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक विक्टोरिया लूसिया

खलनायक का किरदार कैसे लिखें

खलनायक का किरदार कैसे लिखें

थानोस, डार्थ वडर, हांस ग्रुबर - ये तीनों यादगार खलनायक हैं। खलनायक नायक को किसी विशेष परिस्थिति के लिए प्रतिक्रिया करने पर मजबूर करते हैं। खलनायक के बिना, नायक बस अपना सामान्य जीवन व्यतीत करता है। खलनायक संघर्ष लाता है। खलनायक नायक की तुलना करने के लिए और उसे ज़्यादा अच्छे से समझने के लिए एक माध्यम प्रदान करता है। एक प्रभावशाली खलनायक का किरदार फ़िल्म को बेहतर बना सकता है, जबकि कोई कमज़ोर खलनायक फ़िल्म को नीचे भी गिरा सकता है। क्या आप यह सोच रहे हैं कि आप अपनी कहानी को ज़्यादा अच्छा बनाने के लिए अपनी अगली पटकथा में खलनायक का किरदार कैसे लिख सकते हैं? एक अच्छा खलनायक लिखने के लिए सभी ज़रुरी चीज़ों के बारे में जानने के लिए आगे पढ़ें।

हैलो पटकथा लेखक! क्या आप SoCreate का पटकथा लेखन सॉफ्टवेयर आजमाने वाले पहले लोगों में से एक बनना चाहते हैं? इस पेज से बाहर निकले बिना अभी

याद रखें कि आपका खलनायक भी एक इंसान हैं

एक रोचक खलनायक बनाने के लिए उनके बारे में समझने और उन्हें जानने के लिए आपको उतना ही समय बिताना पड़ता है, जितना आप नायक को जानने और समझने में बिताते हैं। आप केवल इस सोच के साथ खलनायक नहीं बना सकते कि "वो बुरे होते हैं," क्योंकि वो पुराने ज़माने की बात है। आपको ज़्यादा सोचना होगा। खलनायकों में कमियां और आंतरिक संघर्ष होने चाहिए, जो उन्हें प्रेरित करते हैं। अपने लक्ष्य हासिल करने के लिए उनकी एक अपनी आंतरिक ज़रुरत होनी चाहिए, जो इस सोच से परे होती है कि वो तबाही, पैसे आदि चाहते हैं। क्या आपका खलनायक अपने कार्यों के बारे में सुनिश्चित है? क्या वो अपने व्यवहार के लिए मजबूर है? इन चीज़ों का पता लगाना काफी दिलचस्प होता है, जो आपके खलनायक को ज़्यादा मानवीय बनाता है।

अपने खलनायक को विश्वास करने के लिए कुछ दें

खलनायकों के भी अपने आदर्श होते हैं। या, उनके आदर्श होने चाहिए। असली जीवन में, सभी लोग किसी चीज़ पर विश्वास करते हैं, और यह विश्वास ही उन्हें अपने काम के लिए प्रेरित करता है। तो फिर फ़िल्म का खलनायक अलग क्यों हो? नायक-खलनायक के आदर्शों को एक-दूसरे से टकराते हुए देखने पर उनकी मुठभेड़ में रोमांच पैदा होता है। खलनायक के आदर्श का मतलब यह हो सकता है कि उन्हें इस बात पर विश्वास हो कि उनके काम से चीज़ें बेहतर होंगी या शायद उन्हें किसी परिस्थिति के लिए न्याय मिल जायेगा।

"द अवेंजर्स" फ़िल्मों के खलनायक थनोस को लगता है कि सभी सजीव वस्तुओं को ज़िंदा रखने के लिए दुनिया की आधी आबादी को नष्ट करना सबसे अच्छा होगा, और उसका यह विश्वास अपने ग्रह को बहुत ज़्यादा आबादी की वजह से नष्ट होते हुए देखने के आधार पर विकसित हुआ है। उसकी सोच अवेंजर्स के नायकों से मेल खाती है, क्योंकि उनका उद्देश्य भी संसार की रक्षा करना है, लेकिन अपना लक्ष्य पूरा करने का उनका तरीका अलग है, और इसकी वजह से उनके बीच संघर्ष उत्पन्न होता है।

कभी-कभी … आपके खलनायक को जीतना पड़ता है

ऐसा खलनायक बहुत ज़्यादा प्रभावी नहीं होता जो हर बार नायक से हार जाता है और जिसकी कोई भी योजना सफल नहीं होती। दर्शकों को यह मानने की ज़रुरत होती है कि आपका खलनायक खतरा है, और इसलिए, हमें उन्हें कभी-कभी सफल होते हुए और नायक को हारते हुए देखने की ज़रुरत होती है। अंत में, नायक जीत सकता है, लेकिन वहां तक पहुंचना मुश्किल होना चाहिए, और आपके दर्शक को यह पता नहीं होना चाहिए कि अंत में कौन जीतेगा। अगर आपका नायक जीत भी जाता है तो वो किसी दूसरे क्षेत्र में हार सकता है; खलनायक को रोकने के लिए उन्हें अपनी निजी ज़िन्दगी का त्याग करना पड़ सकता है, खलनायक बदलते समय का संकेत हो सकता है, या खलनायक कई खलनायकों में से केवल पहला हो सकता है।

यह कहावत याद रखें, "आपका नायक केवल उतना ही अच्छा होता है, जितना आपका खलनायक होता है।" ऐसा कहा जाने का एक कारण है। एक दिलचस्प खलनायक एक दिलचस्प नायक बनाता है। खलनायक बनाते समय, वो बस बुरे या सनकी नहीं होने चाहिए, बल्कि उससे कहीं ज़्यादा होने चाहिए; उनकी गतिविधियों का समर्थन करने के लिए उनके पास कोई कारण और विश्वास होना चाहिए। चाहे आप नायक को लिख रहे हों या खलनायक को, उन पहलुओं को बनाने पर ध्यान केंद्रित करें, जो वास्तविक और भरोसेमंद लगे। लिखने के लिए शुभकामनाएं!

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

अपनी कहानी के किरदारों को विकसित करें

अपनी कहानी के किरदारों को विकसित करें

किरदार के विकास से संबंधित इन सवालों के साथ अपनी कहानी के किरदारों को विकसित करें

हम सभी ने ऐसा कोई न कोई फ़िल्म या टीवी शो देखा होगा, जहाँ हम किरदार से ख़ुद को बहुत ज़्यादा जोड़कर देख पाते हैं। उसका किरदार उससे काफी मिलता-जुलता है, जैसा आप ख़ुद को देखते हैं या जैसा आप बनना चाहते हैं, और इसलिए आप उस किरदार को लेकर जुनूनी महसूस करते हैं। उस किरदार को अपनी चुनौतियों पर जीत हासिल करते हुए देखकर आप उससे जुड़ जाते हैं। हमने बेजान किरदारों की वजह से किसी चीज़ में अपनी दिलचस्पी खोने का भी अनुभव किया है। वो असली लोग नहीं लगते। इसलिए, पटकथा लेखक होने के नाते, हम ऐसे किरदार कैसे बना सकते हैं, जो बेजान होने के बजाय रोचक हों? अपने किरदारों को ज़्यादा अच्छे से समझने और उन्हें आगे विकसित करने के लिए मैंने किरदार से जुड़े 20 सवालों की एक सूची तैयार की है...
How to Develop Great Characters in Your Screenplay, with Writer Bryan Young

3 का नियम, साथ ही आपकी पटकथा में चरित्र के विकास के लिए और ज़्यादा उपाय

पटकथा में चरित्रों के विकास के लिए सभी मार्गदर्शकों में से पटकथा लेखक, ब्रायन यंग, से मैंने इन दो उपायों के बारे में कभी नहीं सुना था। ब्रायन एक पुरस्कार विजेता कहानीकार हैं, जो फ़िल्मों, पॉडकास्ट, किताबों और StarWars.com, Scyfy.com, HowStuffWorks.com, आदि पर पोस्ट लिखने के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने अपने समय में बहुत कुछ पढ़ा और लिखा है, इसलिए कहानी कहने की कला के फॉर्मूले की बात आने पर उन्होंने यह पता लगा लिया है कि उनके लिए कौन सी चीज़ कारगर साबित होती है। उनके चरित्र विकास के उपायों पर ध्यानपूर्वक विचार करके देखें कि वो आपके काम के हैं या नहीं...

अपनी पटकथा में ऐसे चरित्र लिखें जिनसे लोगों का मन न भरे

अपनी पटकथा में ऐसे चरित्र कैसे लिखें जिनसे लोगों का मन न भरे

किसी सफल पटकथा के कई अलग-अलग पहलू होते हैं: इसमें कहानी, संवाद, परिवेश होते हैं। पटकथा में जो चीज़ मुझे सबसे ज़रूरी लगती है और जिसके साथ मैं शुरुआत करती हूँ वो है, चरित्र। मेरे मामले में, कहानी के ज़्यादातर आईडिया एक विशेष मुख्य चरित्र के साथ शुरू होते हैं जिसके साथ मैं ख़ुद को जोड़ पाती हूँ। यहाँ पर ऐसे चरित्र लिखने के लिए कुछ उपाय बताये गए हैं जिन्हें आपके दर्शक ज़रूर पसंद करेंगे! अपनी पटकथा के चरित्रों को शुरू से जानें। वास्तव में लिखना शुरू करने से पहले की प्रक्रिया के ज़्यादातर हिस्से में मैं अपने चरित्रों की रूपरेखा तैयार करती हूँ। इस रूपरेखा में वो सभी चीज़ें शामिल होती हैं...