पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक विक्टोरिया लूसिया

बच्चों से कहानियां कैसे लिखवाएं

लिखवाएं बच्चों से कहानियां

आख़िरकार, हम चाहते हैं कि सभी बच्चे लेखन कौशल सीखें और उनमें महारत हासिल करें। रचनात्मक लेखन बच्चों की कल्पनाओं को सक्रिय कर सकता है, मोटर कौशल में सुधार कर सकता है और उन्हें दूसरों से अलग सोचने में मदद कर सकता है। लेकिन अगर आपका बच्चा लिखना नहीं चाहता है या कहानी लिखना शुरू करना नहीं जानता है तो आप क्या करते हैं? लेखन गतिविधियों को अपने बच्चे की दैनिक दिनचर्या में शामिल करने के पाँच तरीके खोजें।

बच्चों को SoCreate बहुत पसंद आएगा! इस पेज से बाहर निकले बिना, सॉफ्टवेयर के लिए लाइन में उनकी जगह बचाकर रखें।

अपने बच्चे के साथ कहानी के आईडिया पर विचार-मंथन करें

सबसे पहले, अपने बच्चे के साथ मिलकर कोई आईडिया सोचें। अपने बच्चों से उनकी मनपसंद कहानियों के बारे में पूछें और यह भी पूछें कि उन्हें वो क्यों पसंद हैं। ज़्यादा छोटे बच्चों के लिए, बोर्ड बुक्स और पिक्चर बुक्स से प्रेरणा लें। यदि आपका बच्चा थोड़ा बड़ा है, तो एक अध्याय पुस्तक ज़्यादा उपयुक्त हो सकती है। फिर देखें कि क्या उन कहानियों के बारे में कुछ भी उनके अपने अनूठे विचार को प्रेरित कर सकता है। आप अपने बच्चे से उनके वास्तविक जीवन के उन अनुभवों के बारे में भी पूछ सकते हैं, जिसपर उन्हें लगता है कि अच्छी और रोमांचक कहानी बन सकती है। उदाहरण के लिए, जब उन्होंने अपना दांत खोया था या जब उन्हें सरप्राइज़ मिला था।

अगर इनमें से कुछ भी काम नहीं आता तो बच्चों के लिए लिखने के संकेत हमेशा मौजूद हैं। यहाँ कुछ संकेत दिए गए हैं जिनसे उन युवा लेखकों को मदद मिल सकती है जो अटक गए हैं।

  • आप किसी सुनसान द्वीप पर फंस गए हैं; आप क्या करते हैं?

  • मैंने खिड़की से बाहर झाँका और वो नज़ारा देखकर मुझे अपनी आँखों पर यकीन नहीं हुआ...

  • बताएं कि अगर आप मशहूर होते तो आपका जीवन कैसा होता।

  • अपने पालतू जानवर के दृष्टिकोण से एक दिन के बारे में लिखें।

  • अगर आप समय में यात्रा कर पाते तो आप कहाँ और कब जाते?

  • किसी ऐसे किरदार की कहानी लिखें जो एक बड़ा रहस्य छिपा रहा है।

  • खोए हुए ख़ज़ाने के बारे में लिखें।

  • अपनी सड़क पर स्थित एक खौफनाक घर के बारे में कहानी लिखें।

  • आपको अपने किसी दोस्त के साथ ज़िन्दगी की अदला-बदली करने का मौका मिलता है। वो कैसी है?

  • एक दिन, सुबह उठने पर आप पाते हैं कि आप जानवरों से बात कर सकते हैं। आप जो पहली चीज करते हैं वो है...

बच्चों के अनुकूल चरित्र बनाएं

आईडिया मिलने के बाद, चरित्र और परिवेश का विकास करने में अपने बच्चे की मदद करें। मुख्य चरित्र कौन है, वो कैसे हैं? हो सकता है कि वो चरित्र आपके बच्चे के पसंदीदा टीवी शो या बोर्ड बुक के चरित्रों से मिलता-जुलता हो।

चरित्र के दोस्त कौन हैं? अपने बच्चे को अपने दोस्तों के समूह से प्रेरणा लेना सिखाएं।

यह कहानी कहाँ होती है? हो सकता है आपके बच्चे की कोई मनपसंद जगह हो जहाँ उन्हें जाना अच्छा लगता है या यह कोई जानी-पहचानी जगह हो सकती है, जैसे उनका स्कूल, खेल का मैदान, या दादी का घर। किसी जानी-पहचानी चीज़ के साथ शुरू करें, या उनकी कल्पना को उन्हें किसी शानदार जगह पर ले जाने दें!

कहानी की शुरुआत, मध्य और अंत सोचें

अब जबकि आपको अपना कथानक, चरित्र, और परिवेश मिल गया है तो अपने बच्चे से उनकी कहानी की शुरुआत, मध्य, और अंत के बारे में पूछें। कहानी को आकार देने में मदद करने के लिए सवाल पूछकर इसे समझने में उनकी सहायता करें: चरित्रों के साथ क्या रोमांचक हो सकता है? शानदार अंत क्या होगा?

बच्चों को संघर्ष शामिल करना सिखाएं

इस बात का ध्यान रखें कि आपके बच्चे को पता हो कि हर कहानी के लिए संघर्ष की ज़रूरत होती है। बच्चों के लिए, संघर्ष को समझाने का एक आसान तरीका यह है कि उनके मुख्य चरित्र के लक्ष्यों के रास्ते में कुछ आ रहा है। अगर लक्ष्य दादी के घर जाना है, तो शायद रास्ते में बर्फ़ीला तूफ़ान आ जाए। यदि लक्ष्य स्कूल की किसी परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करना है, तो शायद बिल्ली मुख्य चरित्र को पढ़ाई से भटका सकती है। संघर्ष कहानी को आगे बढ़ाता है और चीज़ों को दिलचस्प रखता है। उनकी पसंदीदा किताबों या फ़िल्मों में से संघर्ष के उदाहरण दें। उनकी कहानी का संघर्ष क्या है?

अंत लिखें

अपने बच्चे से पूछें कि मुख्य चरित्र अपने लक्ष्य तक पहुंचने के लिए संघर्ष को कैसे पार करता है। उनका संकल्प सीधा-सादा है, या उसमें कोई मोड़ है? आपके बच्चे के अनुसार पाठक के लिए कौन ज़्यादा दिलचस्प होगा? अंत में, पूछें कि संघर्ष सुलझने के बाद चरित्र का जीवन कैसा होता है। आख़िरकार दादी के घर पहुंचने के बाद या परीक्षा में A+ पाने के बाद चरित्र को कैसा लगता है?

बच्चों के लिए अन्य लेखन गतिविधियां

उम्मीद है, ये चरण कहानी लिखने में आपके बच्चे का मार्गदर्शन करने में आपकी मदद करेंगे। अगर उन्हें इस तरह से लिखने में मज़ा नहीं आता, तो बच्चों के लिए इन अन्य लेखन गतिविधियों में से कोई आज़माएं।

  • उन्हें कविता लिखना सिखाएं।

  • अगर आपके बच्चे को विडियो गेम खेलना ज़्यादा पसंद है, तो उन्हें किसी वीडियो गेम का आईडिया लिखने के लिए कहें जिसे वे डिज़ाइन करना चाहेंगे।

  • "कहानी खत्म करें" का खेल खेलें। एक व्यक्ति कहानी शुरू करता है और कहानी ख़त्म होने तक दूसरे व्यक्ति के साथ बारी-बारी से कहानी आगे बढ़ती है।

  • अपने बच्चे को डायरी लिखने के बारे में बताएं, जहाँ वो अपने दिन के बारे में लिख सकते हैं।

  • एक साथ कोई रेसिपी लिखें।

  • अपने बच्चे से किसी ऐसी गतिविधि के बारे में प्रेरक निबंध लिखवाएं जो वो करना चाहते हैं या यह उस खिलौने के बारे में हो सकता है जिसे वो पाना चाहते हैं। उनके पास यह क्यों होना चाहिए?

आपको यह ब्लॉग पोस्ट कैसा लगा? चीज़ें शेयर करना अच्छी बात है! इसलिए अगर आप इसे अपने मनपसंद सोशल प्लेटफॉर्म पर शेयर करते हैं तो हमें बहुत अच्छा लगेगा।

अगली बार जब आपके बच्चे को लिखने में मुश्किल आएगी तब आप तैयार रहेंगे! उम्मीद है, इस ब्लॉग के सुझाव और सलाह उन्हें प्रोत्साहित करने में आपकी मदद कर सकते हैं। लेखन बच्चों के सीखने के लिए एक आवश्यक कौशल है, लेकिन यह हमेशा आसान नहीं होता। अभ्यास करते हुए ही आप निपुण होते हैं। लगे रहें। लिखने के लिए शुभकामनाएं!

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

बच्चों की कहानियां पटकथा लेखकों को कहानी कहने की कला के बारे में क्या सीखा सकती हैं

बच्चों की कहानियां पटकथा लेखकों को कहानी कहने की कला के बारे में क्या सीखा सकती हैं

बच्चों की किताबों, टेलीविज़न कार्यक्रमों, और फ़िल्मों के माध्यम से हम पहली बार कहानियों को जानते हैं। ये शुरूआती कहानियां दुनिया के लिए हमारी समझ और पारस्परिक प्रभाव को आकार देने में मदद करती हैं। बड़े होने के बाद उनकी अहमियत कम नहीं होती; बल्कि, बच्चों की कहानियों से हमें पटकथा लेखन के बारे में एक-दो चीज़ें सीखने में मदद मिल सकती है! सरल अक्सर बेहतर होता है - बच्चों की कहानियां हमें एक आईडिया लेकर, इसके आवश्यक अर्थ को बाहर निकालना सिखाती हैं। मैं आपको इसे बेहद आसान बनाने के लिए नहीं कह रही, बल्कि अपने आईडिया को सबसे सरल तरीके से ज़ाहिर करने की बात कर रही हूँ...

लिखें एनीमेशन के लिए

एनीमेशन के लिए कैसे लिखें

अगर आपको ऐसा लगता है कि लाइव-एक्शन पटकथा लेखन में बहुत ज़्यादा दृश्य इस्तेमाल होते हैं तो ज़रा रुक जाइये क्योंकि आपने अभी तक एनीमेशन के लिए लिखी गयी पटकथा नहीं देखी है! हालाँकि, कुछ लोग एनीमेशन को शैली कहना पसंद करते हैं, लेकिन मैं इसे कहानी कहने की कला का बिल्कुल अलग माध्यम मानती हूँ। आज हम जानने वाले हैं कि एनीमेशन के लिए कैसे लिखा जाता है, चाहे वो कोई एनिमेटेड टेलीविज़न शो हो या फिर फ़िल्म, और यह प्रक्रिया पारंपरिक पटकथा लेखन से अलग होती है...

फिक्शन के मुख्य प्रकार

फिक्शन के मुख्य प्रकार

SoCreate में हमने यह मिशन बना लिया है कि हम कहानी कहने की कला को एक ऐसी गतिविधि बना देंगे, जिसका सभी लोग आनंद उठा सकते हैं। सबसे नौजवान से लेकर सबसे स्थापित रचनाकारों तक, हम चाहते हैं कि लेखक अब तक की सबसे विविध, अनूठी और रोमांचक कहानियां लिखने में ख़ुद को सशक्त महसूस करें। लेकिन कभी-कभी ऐसा होता है कि सीमाएं हमें ज़्यादा रचनात्मक बना देती हैं। और इसलिए आज मैं आपको उन सभी प्रकार के फिक्शन के बारे में बताने वाली हूँ, जो संभव हो सकते हैं - या फिर यूं कहें तो पहले किये जा चुके हैं। हालाँकि, बहुत कम कहानियां ऐसी हैं जिन्हें इन बॉक्सों में पूरी तरह से फिट किया जा सकता है, लेकिन ज़्यादातर फिक्शन वाली कहानियों में नीचे दी गई शैलियों के तत्व मौजूद होते हैं। कौन जाने, शायद आप भी कोई नई कल्पना कर लें...