पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक कर्टनी मेजरनिच

अच्छे पटकथा लेखक से महान पटकथा लेखक बनने के 3 तरीके

टिंसलटाउन का आकर्षण बहुत तेज़ होता है, विशेष रूप से US में रहने वाले लेखकों के लिए। भारत में, यह मुंबई या नाइजीरिया में लेगोस हो सकता है, लेकिन हर जगह का आकर्षण एक जैसा है: इन जगहों को महानता से जोड़ा जाता है। अगर आपने यहाँ अपनी पहचान बना ली है तो बहुत अधिक संभावना है कि आप अपनी लेखन प्रतिभा के लिए मशहूर होंगे, आपने फ़िल्म निर्माण इंडस्ट्री में मजबूत नेटवर्क बनाया होगा, और सबसे महत्वपूर्ण बात यह कि आपको स्थायी रूप से भुगतान मिल रहा होगा। लेकिन महान, सफल पटकथा लेखक से जोड़ी जाने वाली ये चीज़ें केवल कुछ भाग्यशाली लोगों को नहीं मिलती। इन लेखकों ने अपने लेखन को अच्छे से महान तक पहुंचाया होता है और निरंतर अभ्यास और मेहनत से अपनी प्रतिभा पर काम करके उद्योग में अपनी जगह बनाई होती है। और आपको पता है क्या? आप भी यह कर सकते हैं।

लाइन में अपनी जगह पकड़ो, पटकथा लेखक! हम SoCreate स्क्रीन राइटिंग सॉफ़्टवेयर को लॉन्च करने के करीब पहुंच रहे हैं, सीमित संख्या में बीटा परीक्षक।

आख़िरकार, यह एक सच्चाई है। केवल प्रतिभा आपको वहां तक नहीं पहुंचा सकती, और अनुभवी टीवी लेखक और निर्माता रॉस ब्राउन यह मानते हैं। वर्तमान में, रॉस सैंटा बारबरा की एंटिऑक यूनिवर्सिटी में MFA प्रोग्राम के लिए क्रिएटिव राइटिंग पढ़ाते हैं, लेकिन उनका करियर कार्यक्रमों के लेखन और निर्माण के साथ शुरू हुआ था, जिनमें "द फैक्ट्स ऑफ़ लाइफ," "हूज़ द बॉस?" और "स्टेप बाय स्टेप" शामिल हैं। छात्रों के लिए उनका कठिन सबक?

"कोई लेखक अच्छे से महान में कैसे बदलता है? अंत में, लिखने में बेहतर होने के केवल तीन तरीके हैं: पढ़ना, लिखना, और पढ़ने और लिखने के बारे में बातें करना।"

बस इतना ही। पढ़ें और लिखें। समय दें। बलिदान करें। और आप बेहतर होते जाएंगे!

"इनमें से सबसे ज़रुरी है, लिखना," रॉस ने कहा। "उदाहरण के लिए, अगर आप टेनिस प्लेयर बनना चाहते हैं तो आप कुछ साल तक टेनिस के बारे में पढ़कर विंबलडन जीतने की उम्मीद नहीं कर सकते हैं। आपको टेनिस खेलना होगा।"

अपनी किताब "आउटलायर्स" में, मैकलम ग्लैडवेल ने कहा है कि कुछ महान लोगों से बात करने के बाद, चाहे वो एथलिट हो या संगीतकार, उन्हें पता चला कि किसी चीज़ में माहिर होने के लिए लगभग 10,000 घंटे का समय लगता है। अब, उस 10,000 घंटे तक पहुंचने में आप कितना समय लेते हैं यह आपके ऊपर है। इसलिए, अगर आप अबसे पांच साल में ख़ुद को एक सफल पटकथा लेखक के रूप में देखते हैं तो आप ख़ुद इसकी गणना करें। इसके बाद, अपनी पटकथा लेखन की योजना बनाएं

"अपनी कला का अभ्यास करें," रॉस ने आगे कहा।

कोई लेखक अच्छे से महान में कैसे बदलता है? अंत में, लिखने में बेहतर होने के केवल तीन तरीके हैं: पढ़ना, लिखना, और पढ़ने और लिखने के बारे में बातें करना।
रॉस ब्राउन
पूर्व टीवी लेखक और निर्माता

कई लेखकों के लिए पटकथा लेखन सॉफ्टवेयर के अंदर काम करना पटकथा लिखने के सबसे कष्टदायक हिस्सों में से एक है, जो आपको बहुत हतोत्साहित कर सकता है और आपकी रचनात्मकता में बाधक बनता है।

कोई पुराने ज़माने का पटकथा लेखन सॉफ्टवेयर सीखे बिना, SoCreate उन 10,000-घंटों में से कुछ घंटे कम करने में और अपने आख़िरी ड्राफ्ट तक तेज़ी से पहुंचने में आपकी मदद कर सकता है 😊। बस इतना याद रखें, आपको बस एक पटकथा से ज़्यादा की ज़रुरत होती है… बल्कि कई सारी पटकथाओं की ज़रुरत होती है। आप इतना पढ़ने और लिखने के बाद आसानी से जान जानेंगे कि कौन सी चीज़ काम करती है, मैं इस बात की गारंटी देती हूँ।

"भले ही आप एक अच्छे पटकथा लेखक हैं, महान बनने के लिए, अच्छी पटकथाएं पढ़ें," रॉस ने अंत में कहा। "ख़ुद से पूछें कि कौन सी चीज़ उन्हें महान बनाती है। ख़ुद से पूछें कि आप अपनी पटकथा को ज़्यादा अच्छा कैसे बना सकते हैं।"

आप अपने लेखन को जल्दी से अच्छे से महान में बदल सकते हैं, और कौन जाने, हमें भी आपका नाम कहीं जगमगाता हुआ दिख जाए।

कड़ी मेहनत पेशेवर लेखकों को नौसिखिया लेखकों से अलग बनाती है, और सफलता कमानी पड़ती है,

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

Veteran TV Writer Ross Brown Tells Screenwriters How to Approach a Rewrite

दिग्गज टीवी लेखक रॉस ब्राउन पटकथा लेखकों को बताते हैं कि अपनी पटकथा दोबारा कैसे लिखी जाती है

मुझे भरोसा है आपने यह पहले भी सुना है कि दोबारा लिखना ही लिखना होता है। चाहे यह आपका पहला ड्राफ्ट हो या 100वां संशोधन, अपनी पटकथा को अच्छा आकार देने के लिए कुछ आसान चीज़ें की जा सकती हैं। "रॉस ब्राउन ने बताया, "दोबारा लिखना बहुत मुश्किल भरा हो सकता है क्योंकि हम सभी अपनी लिखी हुई चीज़ को देखकर यह कहना चाहते हैं कि, 'यह शानदार है। मुझे इसमें एक भी शब्द बदलने की ज़रुरत नहीं है!' और ऐसा बहुत कम होता है।," उन्होंने "स्टेप बाय स्टेप" और "द कॉस्बी शो" जैसे बेहद लोकप्रिय कार्यक्रम लिखे हैं। अब वह सांता बारबरा के एंटिऑक विश्वविद्यालय में MFA प्रोग्राम के निर्देशक के रूप में...
Why a Screenplay's Second Act is Like a Marriage, According to Veteran TV Writer Ross Brown

अनुभवी टीवी लेखक के अनुसार, अपनी पटकथा में दूसरे अंक की समस्याओं से कैसे छुटकारा पाएं

"किसी फ़िल्म का दूसरा अंक बहुत मुश्किल होता है। मैं शादी से इसकी तुलना करता हूँ," रॉस ब्राउन ने कहा। ठीक है, रॉस, मैं आपकी बात सुन रही हूँ! मुझे अच्छी उपमा बहुत पसंद है, और अनुभवी टीवी लेखक, निर्देशक, और निर्माता रॉस ब्राउन ("स्टेप बाई स्टेप," "द कॉस्बी शो," "नेशनल लैम्पून्स वेकेशन") के पास ऐसी बहुत सी उपमाएं मौजूद हैं। वह एंटिऑक विश्वविद्यालय में MFA प्रोग्राम के निर्देशक हैं, इसलिए वो छात्रों को पटकथा लेखन की कला के बारे में इस तरीके से पढ़ाना जानते हैं कि छात्र इसे अच्छे से समझ सकें। इसलिए, इस साक्षात्कार में, उनकी छात्रा के रूप में, मैंने उनसे वही सवाल पूछा...
Veteran TV Writer Ross Brown Tells Writers How to Come Up With New Ideas

अनुभवी टीवी लेखक रॉस ब्राउन के साथ, अपनी पटकथा के लिए नया आईडिया कैसे सोचें

अनुभवी टीवी लेखक और निर्माता रॉस ब्राउन ने 80 और 90 के दशक के अमेरिका के कुछ सबसे पसंदीदा सिटकॉम पर काम किया है, जिनमें "स्टेप बाय स्टेप," "द फैक्ट्स ऑफ़ लाइफ," "हूज़ द बॉस," और "द कॉस्बी शो" शामिल हैं, इसलिए उन्हें लगभग हर दिन अपनी कहानी के लिए नए आईडिया सोचने की ज़रुरत पड़ती थी। हम जानना चाहते थे: फुल टाइम काम करने वाले रचनात्मक लोग यह कैसे करते हैं? उनके जवाब ने मुझे आश्चर्यचकित कर दिया, और उनकी लिखने की फ्रीक्वेंसी को देखते हुए, आपको अपनी अगली पटकथा शुरू करने के लिए अपने ख़ुद के आईडिया के बारे में सोचने के लिए इस तकनीक का प्रयोग करने में कोई समस्या नहीं होनी चाहिए...

टिप्पणियां