पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक कर्टनी मेजरनिच

अनुभवी टीवी लेखक रॉस ब्राउन के साथ, अपनी पटकथा के लिए नया आईडिया कैसे सोचें

अनुभवी टीवी लेखक और निर्माता रॉस ब्राउन ने 80 और 90 के दशक के अमेरिका के कुछ सबसे पसंदीदा सिटकॉम पर काम किया है, जिनमें "स्टेप बाय स्टेप," "द फैक्ट्स ऑफ़ लाइफ," "हूज़ द बॉस," और "द कॉस्बी शो" शामिल हैं, इसलिए उन्हें लगभग हर दिन अपनी कहानी के लिए नए आईडिया सोचने की ज़रुरत पड़ती थी। हम जानना चाहते थे: फुल टाइम काम करने वाले रचनात्मक लोग यह कैसे करते हैं? उनके जवाब ने मुझे आश्चर्यचकित कर दिया, और उनकी लिखने की फ्रीक्वेंसी को देखते हुए, आपको अपनी अगली पटकथा शुरू करने के लिए अपने ख़ुद के आईडिया के बारे में सोचने के लिए इस तकनीक का प्रयोग करने में कोई समस्या नहीं होनी चाहिए।

जब हमने ब्राउन से पूछा कि वो अपनी पटकथाओं के लिए कथानक कैसे सोचते हैं तो उन्होंने हमें बताया कि "अपनी ज़िन्दगी में कुछ भावनात्मक महसूस करना नया आईडिया पाने की मेरी सबसे बड़ी तकनीक है। या फिर जब मैं किसी दूसरे इंसान की ज़िन्दगी को देखता हूँ और उनकी ज़िन्दगी को देखकर मेरा मन विचलित हो जाता है, या फिर मैं जब अपनी ख़ुद की ज़िन्दगी में कुछ महसूस करता हूँ तो उससे मुझे नए आईडिया आते हैं।"

मैंने सोचा था कि ब्राउन कुछ बिल्कुल अलग कहेंगे, जैसे वो लोगों को देखते हैं, या बहुत सारी किताबें पढ़ते हैं, या ख़बरों पर नज़र रखते हैं, या ऐसी ही दूसरी चीज़ें जिन्हें मैं अक्सर सुनती हूँ। लेकिन कहानी के आईडिया के रूप में किसी भावना को पहचानना दो कारणों से बहुत समझदारी भरा विचार है। पहला कारण यह है कि हम हमेशा अपने दर्शकों को कुछ महसूस करवाना चाहते हैं और उनकी भावनाओं तक पहुंचकर अपनी बात समझाने की कोशिश करते हैं, इसलिए अगर हम इसे असली ज़िन्दगी में महसूस करते हैं तो हमें यह ज़्यादा अच्छी तरह से समझ आएगा कि किस चीज़ से वो भावना प्रेरित होती है। दूसरा कारण यह है कि हम दिन भर, हर दिन कुछ न कुछ महसूस करते हैं, इसलिए आपको सामग्री की कोई कमी नहीं होती; निराशा, नीरसता, उत्साह, उत्तेजना, चिड़चिड़ापन, और सच्ची ख़ुशी वो सारी भावनाएं हैं जिन्हें आपके चरित्र भी महसूस कर सकते हैं।

"यह शर्मिंदगी हो सकती है। मैं ऐसा महसूस कर सकता हूँ कि वहां मैं कितना बुरा था, या कुछ ऐसा ही। लेकिन जब मैं भावनात्मक रूप से कोई मजबूत चीज़ महसूस करता हूँ तो मेरा दिमाग तेज़ी से चलने लगता है और यहीं कहीं एक कहानी बन जाती है, क्योंकि ज़्यादातर कहानियों के केंद्र में भावनाएं ही होती हैं।"
रॉस ब्राउन
पटकथा लेखक और निर्माता

आज, अभी आपको कैसा महसूस हो रहा है? वहां से शुरू करें।

"यह शर्मिंदगी हो सकती है। मैं ऐसा महसूस कर सकता हूँ कि वहां मैं कितना बुरा था, या कुछ ऐसा ही। लेकिन जब मैं भावनात्मक रूप से कोई मजबूत चीज़ महसूस करता हूँ तो मेरा दिमाग तेज़ी से चलने लगता है और यहीं कहीं एक कहानी बन जाती है, क्योंकि ज़्यादातर कहानियों के केंद्र में भावनाएं ही होती हैं।"

मैं एक दैनिक अख़बार के कॉमिक स्ट्रिप कलाकार को जानती हूँ जिसे हर दिन चुटकुलों के बारे में सोचना पड़ता है। हर दिन। क्या आप यह सोच सकते हैं कि अगर किसी दिन आपके पास कहने के लिए कोई मज़ेदार चीज़ न हो तो क्या होगा? फिर भी, हर दिन, वो अपना काम पूरा करता है।

उसका उपाय यह है कि उसने अपनी रोज़मर्रा की आदतों में रचनात्मकता शामिल कर ली है ताकि उसके पास प्रेरणा की कमी न हो।

कहानी के आईडिया के लिए अपनी भावनाओं पर ध्यान देने और उनका लाभ उठाने को अपनी आदत बनाएं।

तुरंत एक कहानी सोचने के लिए चलिए यह अभ्यास करें।

  1. एक ऐसी भावना के बारे में सोचिये जो आपने महसूस की।

  2. उस भावना तक पहुंचाने वाली घटनाओं के बारे में बताएं।

  3. इस परिदृश्य में कौन या क्या शामिल था?

  4. इस भावना की विपरीत भावना क्या है?

  5. आख़िरी बार आपने वो विपरीत भावना कब महसूस की थी?

  6. उन विपरीत भावनाओं का इस्तेमाल करके, एक ऐसा दृश्य लिखें जो आपको एक भावना से दूसरी भावना तक ले जाती है।

ये मेरी भावनाएं हैं।

  1. चिड़चिड़ापन और शरीर दर्द।

  2. मेरे कुत्ते ने मुझे खरोंच कर उठाया और मेरे चेहरे पर लार गिरा दिया।

  3. मेरा कुत्ता और मेरा बॉयफ्रेंड।

  4. शांति।

  5. समुद्रतट पर रोज़ की तरह टहलने के दौरान।

पटकथा का भाग - नए आईडिया सोचने के लिए भावना का इस्तेमाल

INT. बेडरूम, सुबह

अँधेरा।

कर्टनी

आउच! हे भगवान! क्या है, डोमिनो।

कर्टनी का बॉयफ्रेंड लाइट जलाता है। विशाल हर्लेक्विन ग्रेट डेन, डोमिनो, कर्टनी के ऊपर चढ़ा हुआ है, और उसके लटके हुए जबड़े से लार टपक रहा है। कर्टनी को घिन्न आ जाती है और वो कंबल के नीचे दर्द से शिकायत करती है।

बॉयफ्रेंड

गुड मॉर्निंग सनशाइन। कॉफ़ी?

कट टू

INT. रसोईघर, कोहरे वाली सुबह

बॉयफ्रेंड सुबह जल्दी उठता है और हाथ में दो कप गर्मागर्म कॉफ़ी लेकर रसोईघर से बाहर निकलता है। कर्टनी मेज़ पर बैठकर, अपने पजामा से जल्दी-जल्दी कुत्ते के बाल साफ करती है।

बॉयफ्रेंड

काजू के दूध के साथ एक क्यूरिग ऑफ़-ब्रांड

कर्टनी

धन्यवाद।

बॉयफ्रेंड डाइनिंग टेबल पर कर्टनी के बगल में बैठ जाता है और बाहर समुद्र को निहारता है। जैसे ही कर्टनी लिविंग रूम से प्लास्टिक खड़खड़ाने की आवाज़ सुनती है उसकी आँखें बड़ी हो जाती हैं और त्योरियां चढ़ जाती हैं। वो तेज़ी से अपनी कुर्सी से कूद पड़ती है।

कर्टनी

डोमिनो! क्या कर रहे हो –

डोमिनो अपने दांतों के बीच प्लास्टिक का एक नया खिलौना लिए हुए टेबल के पास आता है। डिप्टी डॉग की तरह उसके जबड़े दोनों तरफ से फूले हुए हैं।

कर्टनी

ओह, भगवान का शुक्र है, ये तुम्हारा खिलौना है।

बॉयफ्रेंड

कितना अच्छा दृश्य है न? मुझे शाम को तुम दोनों के साथ टहलने के लिए जाने का इंतज़ार रहेगा।

कर्टनी वापस बैठ जाती है। डोमिनो उसका पैर सहलाकर, पजामे में दोबारा सफ़ेद बाल लगा देता है। अपनी प्यारी आँखों से डोमिनो ऊपर देखता है, और कर्टनी का मुंह चाटता है, जिस तक वो आसानी से पहुंच जाता है।

कर्टनी

ठीक, मैं भी तुमसे प्यार करती हूँ। हाँ, टहलने में मज़ा आएगा।

कर्टनी एक गहरी सांस लेती है, अपनी कॉफ़ी का एक घूंट पीती है, और अपने चेहरे पर किसी शिकन के बिना समुद्र की तरफ़ निहारती है।

कर्टनी

वाह, हमें यह अच्छा मिल गया, है न?

दृश्य समाप्त।

ठीक है तो उस दृश्य में बहुत कुछ नहीं हो रहा है। लेकिन मैंने पांच मिनट से भी कम समय में पेज पर कुछ लिखने के लिए अपनी भावना का इस्तेमाल किया है। अगर मैं यह कर सकती हूँ तो आप यह मुझसे ज़्यादा अच्छे से कर सकते हैं 😊, और यहाँ से, मैं इस कहानी के साथ कहीं भी जा सकती हूँ। यह मेरे कुत्ते, डोमिनो, की कहानी बन सकता है। हो सकता है शाम को समुद्र के किनारे टहलते समय कोई प्रेरक घटना हो जाये। और शायद पूरी पटकथा कृतज्ञता के बारे में किसी संदेश पर केंद्रित हो जाए। ऐसा हो सकता है। इसे आजमाएं!

क्या आप अभ्यास के लिए तैयार हैं? चलिए अपनी भावनाओं के बारे में बात करें।

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

Screenwriter Bryan Young Tells Screenwriters How to Stay Inspired

अगर आपकी कोई पटकथा नहीं बिक रही है तो भी प्रोत्साहित रहना क्यों ज़रूरी है

ठोकर लगने पर भी आगे बढ़ते रहना मुश्किल है। आप जितने चाहे उतने प्रेरणादायक वाक्य पढ़ सकते हैं, लेकिन वापस खड़ा होना कभी भी आसान नहीं होता। इसीलिए, मुझे लेखक, पॉडकास्टर, और फ़िल्म निर्माता ब्रायन यंग की यह सलाह बहुत पसंद आयी। वह StarWars.com, Syfy, और HowStuffWorks.com पर हमेशा आते रहते हैं। उनकी सलाह में भावना का कम और दिमाग का ज़्यादा इस्तेमाल है। आप एक रिमाइंडर के रूप में उनकी इस सलाह को हमेशा अपने पास रख सकते हैं कि आपको यह नहीं सोचना होता है कि ये होगा या नहीं होगा, बल्कि ये सोचें कि कब होगा। "अगर आपकी...
How to Become a Disciplined Screenwriter, According to Writer & Journalist Bryan Young

लेखक और पत्रकार ब्रायन यंग बताते हैं कि अनुशासित पटकथा लेखक कैसे बनें

कुछ रचनात्मक लोगों को अनुशासन रखने में परेशानी होती है। हम चाहते हैं कि हमारे अंदर स्वाभाविक रूप से विचारों का प्रवाह होता रहे, और हम प्रेरित महसूस करने पर ही काम करते हैं। अगर आप भी ऐसे हैं तो आप पटकथा लेखक और पत्रकार ब्रायन यंग (SyFy.com, HowStuffWorks.com, StarWars.com) के इन प्रेरणादायक उपायों को ज़रुर सुनना चाहेंगे। वो हमें बताते हैं कि वो किस तरह से लिखने पर अपना ध्यान केंद्रित करते हैं, और जहाँ तक पिछले कई सालों से लिखने के लिए ख़ुद से किये गए वादे की बात आती है, उसके बारे में वो हमें एक बहुत प्रभावशाली चीज़ बताते हैं। यंग ने हमें बताया, "निजी तौर पर...
20

पटकथा लेखन के बारे मेंप्रेरणादायकअनमोल वचन

पटकथा लेखन के बारे में 20 प्रेरणादायक अनमोल वचन

क्या आज आपको लिखने के लिए थोड़ी प्रेरणा की जरुरत है? पटकथा लेखन से संबंधित हमारे 20 पसंदीदा अनमोल वचन देखिये! "मुझे लगता है लेखक इसे लेकर बहुत चिंतित रहते हैं कि सबकुछ पहले ही कह दिया गया है। निश्चित रूप से यह पहले कहा गया है, लेकिन आपके द्वारा नहीं।" - आशा डॉर्नफेस्ट. "अच्छी फिल्म बनाने के लिए आपको केवल तीन चीजों की जरुरत है - स्क्रिप्ट, स्क्रिप्ट और स्क्रिप्ट।" - अल्फ्रेड हिचकॉक. "इस बात का ध्यान रखें कि आपकी स्क्रिप्ट बिलकुल तैयार हो। यदि यह पेज पर नहीं है तो यह स्क्रीन पर कभी भी जादू से नहीं दिखाई देगी।" - रिचर्ड ई. ग्रांट. "कहानी कहे बिना कोई भी संस्कृति विकसित नहीं हो सकती है। जब समाज बार-बार भड़कीली, खोखली और छद्म कहानियां सुनता है तो इसका पतन होता है। हमें सच्चे व्यंग और त्रासदी, ...

टिप्पणियां