पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक विक्टोरिया लूसिया

पारंपरिक पटकथा के लगभग हर एक भाग के लिए पटकथा लेखन के उदाहरण

पारंपरिक पटकथा के लगभग हर एक भाग के लिए पटकथा लेखन के उदाहरण

जब आप पहली बार पटकथा लिखना शुरू करते हैं तो आप जल्दी में होते हैं! आपके पास बहुत अच्छा आईडिया होता है, आप इसे टाइप करने के लिए बेसब्र होते हैं। शुरुआत में, यह समझ पाना मुश्किल हो सकता है कि पारंपरिक पटकथा के विभिन्न पहलु कैसे दिखाई देने चाहिए। इसलिए, यहाँ पर पारंपरिक पटकथा के मुख्य भागों के लिए पटकथा लेखन के पांच उदाहरण दिए गए हैं!

शीर्षक पेज

आपके शीर्षक पेज पर कम से कम जानकारी मौजूद होनी चाहिए। यह बहुत ज़्यादा भरा हुआ नहीं लगना चाहिए। सबसे पहले आपको शीर्षक (बड़े अक्षरों में), उसके बाद अगली लाइन में "लेखक," उसके नीचे लेखक का नाम, और नीचे बायीं तरफ़ संपर्क विवरण रखना चाहिए। यह बायीं तरफ़ दी गयी छवि जैसा दिखाई देना चाहिए।

आप दिनांक (दायीं तरफ़, संपर्क विवरण के विपरीत), या ड्राफ्ट नंबर भी शामिल कर सकते हैं, लेकिन एक बार फिर, मैं आपको याद दिलाना चाहूंगी कि शीर्षक पेज को कम से कम भरा हुआ रखें।

दृश्य की हेडिंग

इसे स्लग लाइन के रूप में भी जाना जाता है, और इससे पाठक को पता चलना चाहिए कि कोई दृश्य अंदर (आंतरिक, जिसे INT. के रूप में लिखा जाता है) हो रहा है या बाहर (बाहरी, जिसे EXT. के रूप में लिखा जाता है), उसकी स्थिति क्या है, और दिन का समय है या रात का। यह बहुत आसान है:

पटकथा का संक्षिप्त भाग - दृश्य की हेडिंग का उदाहरण

INT. बीमा कार्यालय - दिन

गतिविधि का विवरण

दृश्य में जो चीज़ देखी जाती है, गतिविधि उसका विवरण होता है। गतिविधि की पंक्तियां वर्तमान काल में लिखी जानी चाहिए और इसे दृश्यात्मक रूप से ज़्यादा विवरण प्रदान करना चाहिए।

पटकथा का संक्षिप्त भाग - गतिविधि के विवरण का उदाहरण

INT. बीमा कार्यालय - दिन

जेसिका अपनी सेक्रेटरी, कैरेन, को देखने के लिए जैसे ही पलटती है तो उसे घूरने लगती है, जो उम्मीद भरी निगाहों से उसकी तरफ़ देख रही होती है। कैरेन उसके सामने कागज़ात का एक बड़ा फ़ोल्डर पकड़े हुए परेशान खड़ी है।

संवाद

संवाद काफ़ी सीधे और स्पष्ट होते हैं। आपके चरित्र यही बोलते हैं। सभी चरित्रों के नाम बड़े अक्षरों में होने चाहिए, और संवाद उसके नीचे होना चाहिए।

पटकथा का संक्षिप्त भाग - संवाद का उदाहरण

कैरेन

जेस, क्या तुम ठीक हो? मैं पिछले पांच मिनट से तुम्हें बुला रही थी।

जेसिका

हाँ, मैं ठीक हूँ। पता नहीं, बस मेरा ध्यान थोड़ा भटक गया था। दिन में सपने देख रही थी, शायद।

कैरेन

पक्का तुम जिसके सपने देख रही थी वो इन रिपोर्ट्स से कहीं ज़्यादा दिलचस्प होगा, स्कॉटी को इसपर तुम्हारा साइन चाहिए।

जेसिका अपना माथा रगड़ते हुए हाँ में सिर हिलाती है, क्योंकि उसके सिर में दर्द शुरू हो गया है।

जेसिका

ठीक है, तुम इसे नीचे रख दो।

कैरेन मेज के किनारे रिपोर्ट्स रखकर चली जाती है।

फ़्लैशबैक

आप स्लग लाइन का प्रयोग करके और "फ़्लैशबैक शुरू होता है" लिखकर आसानी से फ़्लैशबैक फॉर्मेट कर सकते हैं: और इसके बाद फ़्लैशबैक ख़त्म होने पर, आप दूसरा स्लग लाइन डाल सकते हैं जो कहता है "फ़्लैशबैक समाप्त होता है।"

पटकथा का संक्षिप्त भाग - फ़्लैशबैक का उदाहरण

फ़्लैशबैक शुरू होता है:

EXT. मेला – दिन

10 साल की जेसिका फेरिस व्हील पर सबसे ऊपर बैठी हुई है। वो नीचे भीड़ में अपनी माँ को खोजती है।

जेसिका

माँ! माँ!

वो हर जगह देखती है, इससे पहले कि आख़िरकार उसे...

महिला की आवाज़ (O.S.)

जेसिका।

फ़्लैशबैक समाप्त होता है।

मुझे उम्मीद है, पटकथा लेखन के इन उदाहरणों से आपको शुरुआत करने के लिए ज़रूरी टूल्स मिल जायेंगे। लिखने के लिए शुभकामनाएं!

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

पारंपरिक पटकथा लेखन में शीर्षक पेज कैसे फॉर्मेट करें

ठीक से स्वरूपित शीर्षक पृष्ठ के साथ एक मजबूत पहली छाप बनाओ।

पारंपरिक पटकथा लेखन में शीर्षक पेज कैसे फॉर्मेट करें

हालाँकि, आपकी पटकथा पाठक का ध्यान आकर्षित करने में सफल होगी या नहीं इसमें आपके लॉगलाइन और पहले 10 पेजों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है, लेकिन अच्छी तरह फॉर्मेट किये गए शीर्षक पेज से ज्यादा बेहतर पहला प्रभाव किसी और चीज का नहीं पड़ता है। "आपको कभी भी अपना अच्छा पहला प्रभाव छोड़ने का दूसरा मौका नहीं मिलता।" क्या आपको नहीं पता कि शीर्षक पेज से सर्वश्रेष्ठ, पहला प्रभाव कैसे बनाएं? डरने की कोई जरुरत नहीं है! आप बिलकुल सही जगह आये हैं। हम आपको उन सभी अवयवों के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे जिन्हें आपको अपने शीर्षक पेज पर शामिल करना चाहिए और नहीं शामिल करना चाहिए। अपनी बाकी की पटकथा के समान, आपके शीर्षक पेज पर सभी टेक्स्ट कूरियर, 12-पॉइंट फॉन्ट में फॉर्मेट किये ...

पटकथा लेखन फॉर्मेटिंग के मूलभूत सिद्धांत

क्या आप पटकथा लेखन के क्षेत्र में नए हैं? या बस फॉर्मेटिंग के कुछ मूलभूत सिद्धांतों को फिर से दोहराना चाहते हैं? यदि ऐसा है तो आप बिलकुल सही जगह आये हैं! आज के ब्लॉग पोस्ट में, हम प्रारम्भ से शुरू करने वाले हैं -- जिसमें हम अक्षर के आकार, हाशिये और आपकी पटकथा के 5 मुख्य तत्वों सहित पटकथा के फॉर्मेटिंग की मौलिक चीजों को शामिल करेंगे। यदि आप कभी अपनी पटकथा को बेचने का प्रयास करने की योजना बना रहे हैं तो इसके लिए फॉर्मेटिंग बहुत जरुरी है। अपनी पटकथा को सही आकार देना अच्छा प्रभाव डालने और अपनी पटकथा पढ़े जाने की संभावना को बढ़ाने के सबसे आसान तरीकों में से एक है। हमारे नए, आगामी SoCreate प्लेटफॉर्म सहित, ज्यादातर पटकथा लेखन सॉफ्टवेयर, आपके लिए फॉर्मेटिंग प्रबंधित करेंगे, लेकिन ...

पारंपरिक पटकथा लेखन में फोन कॉल फॉर्मेट करें: परिदृश्य 1

केवल एक चरित्र दिखाई और सुनाई देता है।

पारंपरिक पटकथा लेखन में फोन कॉल को कैसे फॉर्मेट करें: परिदृश्य 1

अपनी पटकथा में फोन कॉल फॉर्मेट करना मुश्किल हो सकता है। इससे पहले कि आप यह करना शुरू करें, इस बात का ध्यान रखें कि आपको उस फोन कॉल के प्रकार की अच्छी समझ हो जिसे आप अपने दृश्य में चाहते हैं और साथ ही आपको पारंपरिक पटकथा लेखन में इसे सही से फॉर्मेट करना आता हो। पटकथा के फोन कॉल के लिए 3 मुख्य परिदृश्य होते हैं: परिदृश्य 1: केवल एक चरित्र दिखाई और सुनाई देता है। परिदृश्य 2: दोनों चरित्र सुनाई देते हैं, लेकिन केवल एक दिखाई देता है। परिदृश्य 3: दोनों चरित्र दिखाई और सुनाई देते हैं। ऐसे फोन वार्तालापों के लिए, जहाँ केवल एक चरित्र दिखाई और सुनाई देता है, दृश्य को उसी तरह से फॉर्मेट करें जैसे आप सामान्य संवाद करेंगे। जब ऑफ-स्क्रीन चरित्र फोन के दूसरी तरफ बात करता है तो उस समय को सूचित ...

टिप्पणियां