पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक अल्ली अनगर

पारंपरिक पटकथा लेखन में शीर्षक पेज कैसे फॉर्मेट करें

पारंपरिक पटकथा लेखन में शीर्षक पेज कैसे फॉर्मेट करें

ठीक से स्वरूपित शीर्षक पृष्ठ के साथ एक मजबूत पहली छाप बनाओ।

हालाँकि, आपकी पटकथा पाठक का ध्यान आकर्षित करने में सफल होगी या नहीं इसमें आपके लॉगलाइन और पहले 10 पेजों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है, लेकिन अच्छी तरह फॉर्मेट किये गए शीर्षक पेज से ज्यादा बेहतर पहला प्रभाव किसी और चीज का नहीं पड़ता है।

"आपको कभी भी अपना अच्छा पहला प्रभाव छोड़ने का दूसरा मौका नहीं मिलता।"

क्या आपको नहीं पता कि शीर्षक पेज से सर्वश्रेष्ठ, पहला प्रभाव कैसे बनाएं? डरने की कोई जरुरत नहीं है! आप बिलकुल सही जगह आये हैं। हम आपको उन सभी अवयवों के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे जिन्हें आपको अपने शीर्षक पेज पर शामिल करना चाहिए और नहीं शामिल करना चाहिए।

अपनी बाकी की पटकथा के समान, आपके शीर्षक पेज पर सभी टेक्स्ट कूरियर, 12-पॉइंट फॉन्ट में फॉर्मेट किये जाने चाहिए। किनारे इस प्रकार सेट होने चाहिए:

  • बायां किनारा: 1.5”

  • दायां किनारा: 1.0”

  • ऊपरी और निचला किनारा: 1.0”

सामने का भाग और मध्य:

  1. आपकी पटकथा का शीर्षक सबसे पहले होना चाहिए!
    • शीर्षक बड़े अक्षरों में लिखा होना चाहिए। यह मोटा या रेखांकित भी हो सकता है, लेकिन चाहे कुछ भी हो, यह हमेशा बड़े अक्षरों में होना चाहिए।
    • शीर्षक पेज पर क्षैतिज रूप से बीच में होना चाहिए।
    • शीर्षक पेज के लगभग 1/4 से 1/3 नीचे से शुरू होना चाहिए (1" ऊपरी किनारे के नीचे लगभग 20-22 स्पेस)।
  2. इसके बाद होता है, द्वारा-पंक्ति।
    • द्वारा-पंक्ति आपकी शीर्षक पंक्ति से लगभग 2 स्पेस नीचे होनी चाहिए।
    • द्वारा-पंक्ति कुछ ऐसे लिखी हो सकती है: "द्वारा" या "इनके द्वारा लिखित।"
  3. इस भाग का सबसे अंतिम लेकिन महत्वपूर्ण अंग: लेखक(लेखकों) का नाम।

    यहाँ खुद (और अपनी टीम) को पटकथा पूरी करने का श्रेय दें जिसके आप पूरी तरह से हक़दार हैं।

    • यदि पटकथा केवल आपने बनाई है तो केवल अपना नाम डालें।
    • यदि पटकथा 2 से ज्यादा लेखकों के सहयोग से निर्मित की गयी है तो लेखकों के नाम को एम्परसेंड (&) से अलग करें।
    • यदि पटकथा पर 2 से ज्यादा पटकथा लेखकों ने स्वतंत्र रूप से काम किया है तो नामों को "और" से अलग करें।
  4. आवश्यकता पड़ने पर, आप लेखक के नाम के नीचे अतिरिक्त श्रेय भी शामिल कर सकते हैं।

    आवश्यकता पड़ने पर, आप लेखक के नाम के नीचे अतिरिक्त श्रेय भी शामिल कर सकते हैं। इसमें कहानी और अनुरूपण श्रेय शामिल किये जायेंगे।

    • अतिरिक्त श्रेय लेखक के नाम के लगभग 4 स्पेस नीचे कहीं आना चाहिए।
    • अतिरिक्त श्रेय कुछ ऐसा हो सकता है: "इनकी कहानी से प्रेरित" या "इनके उपन्यास पर आधारित"
    • मूल स्रोत के लेखक का नाम 2 स्पेस नीचे शामिल करें।

नीचे दायां कोना:

  1. संपर्क जानकारी

    अपने शीर्षक पेज के नीचे दाएं कोने में, अपनी संपर्क जानकारी शामिल करें (या अपने एजेंट की)। अपना नाम (या अपने एजेंट का नाम) और ईमेल पता डालना ना भूलें। अपने घर का पता और फोन नंबर भी शामिल किया जा सकता है लेकिन यह आवश्यक नहीं है।

  2. एकल दूरी

    आपके शीर्षक पेज का यह भाग एक स्पेस के साथ होना चाहिए। कूरियर, 12-पॉइंट फॉन्ट का प्रयोग जारी रखें।

एक मूल शीर्षक पृष्ठ स्क्रीनराइटर बाइबिल में दिए गए इस उदाहरण की तरह लग सकता है, डेविड ट्रॉटियर की एक पाठ्यपुस्तक (दाएं से नीचे)।

ठीक है, अब जबकि हमने उन सभी चीजों के बारे में बता दिया है जिन्हें शामिल करने की जरुरत होती है, चलिए अब थोड़ा उन चीजों के बारे में बात करते हैं जिन्हें शामिल नहीं किया जाना चाहिए।

क्या शामिल ना करें?

  • कॉपीराइट सूचना

  • अपनी WGA पंजीकरण संख्या

  • ड्राफ्ट की तिथियां

  • ड्राफ्ट/संशोधन की संख्या

  • रचनात्मकता (माफ़ करें दोस्तों, चलिए रचनात्मकता को कहानी के लिए बचाकर रखते हैं। फॉर्मेटिंग के दिशानिर्देशों पर चलना सबसे अच्छा होता है।)

अब जबकि आपके पास सारे उपकरण हैं, चलिए इसे शुरू करते हैं!

पटकथा लेखन के लिए शुभकामनाएं!

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

अपनी पटकथा के पहले 10 पन्ने लिखने के 10 उपाय

अपनी पटकथा के पहले 10 पन्ने लिखने के 10 उपाय

हमारे पिछले ब्लॉग पोस्ट में, हमने आपको पटकथा लेखन के पहले 10 पन्नों के बारे में "मिथक" या वास्तव में कहें तो तथ्य के बारे में बताया। ऐसा नहीं है कि केवल वे महत्वपूर्ण होते हैं, लेकिन जहाँ तक आपकी पूरी पटकथा पढ़े जाने की बात आती है तो निश्चित रूप से वो सबसे ज्यादा मायने रखते हैं। इसपर ज्यादा जानकारी पाने के लिए कृपया हमारे पिछले ब्लॉग पर जाएँ: "मिथक का खंडन: क्या केवल पहले 10 पन्ने अहमियत रखते हैं?" अब जबकि हमें उनकी महत्ता के बारे में अच्छी समझ है तो चलिए उन कुछ तरीकों के बारे में जानते हैं जिनका ध्यान रखकर हम अपनी पटकथा के पहले कुछ पन्नों को शानदार बना सकते हैं! 1. वो दुनिया तैयार करें जिसके चारों ओर आपकी कहानी घूमती है। अपने पाठकों को कुछ संदर्भ प्रदान करें। दृश्य तैयार करें। ...

चरित्र आर्क्स लिखें

आर्क की कला में माहिर बनें

चरित्र आर्क्स कैसे लिखें

दुर्भाग्य से, कुछ शानदार विशेषताओं वाले मुख्य चरित्र के बारे में विचार होना अपनी पटकथा को अगले बड़े ब्लॉकबस्टर या पुरस्कार-विजेता टीवी शो में बदलने के लिए काफी नहीं होता। यदि आप सचमुच चाहते हैं कि आपकी पठकथा पाठकों को और अंत में दर्शकों को आकर्षित करे तो आपको चरित्र आर्क की कला में माहिर होना पड़ेगा। चरित्र आर्क क्या है? ठीक है, तो मुझे अपनी कहानी में चरित्र आर्क की जरुरत है। लेकिन यह है क्या? चरित्र आर्क उस सफर या परिवर्तन को दर्शाता है जिससे आपका मुख्य चरित्र गुजरता है या जिनका अनुभव करता है। आपकी कहानी की कथावस्तु आपके द्वारा निर्मित किये गए चरित्र आर्क के चारों ओर घूमती है। मूल रूप से हर एक कहानी चरित्र के विकास से जुड़ी होती है, और कथानक और संघर्ष वास्तव में वो विकास लाने ...
Award-Worthy Advice from Award-Winning Screenwriter, Peter Dunne

पुरस्कार विजेता पटकथा लेखक, पीटर डन, की पुरस्कार-योग्य सलाह

पुरस्कार-विजेता निर्माता और पटकथा लेखक, पीटर डन, 2017 के सेंट्रल कोस्ट लेखक सम्मलेन में इसपर हमें अपना सुझाव देते हैं कि हमारा सर्वश्रेष्ठ लेखन कब होता है। "हम सबसे अच्छा तब लिखते हैं जब हम सोचना बंद कर देते हैं। हमने जो लिखा है उसे देखकर अक्सर हमें हैरानी होती है। वास्तव में, अगली सुबह उठकर अपना काम देखने पर आप कह सकते हैं, 'वाह, यह मैंने लिखा था?' लेखन तब हमारे पास आता जब हम अपनी सोच को जाने देते हैं। लेखक होने के नाते हमें यह समझना होगा कि हमारे लिए लेखन एक ऐसा साधन है जिससे हम अपने आपको खोजते हैं; यह सबको बताने के लिए नहीं है कि हम कौन हैं, बल्कि लेखन हमें खुद को यह बताने का अवसर देता है कि हम वास्तव में चीजों के बारे में कैसा महसूस करते हैं।" -पीटर डन ...

टिप्पणियां