पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक अल्ली अनगर

पटकथा लेखन फॉर्मेटिंग के मूलभूत सिद्धांत

क्या आप पटकथा लेखन के क्षेत्र में नए हैं? या बस फॉर्मेटिंग के कुछ मूलभूत सिद्धांतों को फिर से दोहराना चाहते हैं? यदि ऐसा है तो आप बिलकुल सही जगह आये हैं! आज के ब्लॉग पोस्ट में, हम प्रारम्भ से शुरू करने वाले हैं -- जिसमें हम अक्षर के आकार, हाशिये और आपकी पटकथा के 5 मुख्य तत्वों सहित पटकथा के फॉर्मेटिंग की मौलिक चीजों को शामिल करेंगे।

यदि आप कभी अपनी पटकथा को बेचने का प्रयास करने की योजना बना रहे हैं तो इसके लिए फॉर्मेटिंग बहुत जरुरी है। अपनी पटकथा को सही आकार देना अच्छा प्रभाव डालने और अपनी पटकथा पढ़े जाने की संभावना को बढ़ाने के सबसे आसान तरीकों में से एक है।

हमारे नए, आगामी SoCreate प्लेटफॉर्म सहित, ज्यादातर पटकथा लेखन सॉफ्टवेयर, आपके लिए फॉर्मेटिंग प्रबंधित करेंगे, लेकिन यदि कभी संयोगवश आपको खुद (या टाइपराइटर के प्रयोग से) संपादन करने की जरुरत पड़ती है तो यहाँ आपके लिए कुछ मूलभूत सिद्धांत प्रदान किये गए हैं।

लाइन में अपनी जगह पकड़ो, पटकथा लेखक! हम SoCreate स्क्रीन राइटिंग सॉफ़्टवेयर को लॉन्च करने के करीब पहुंच रहे हैं, सीमित संख्या में बीटा परीक्षक।

अक्षर

हमेशा 12-पॉइंट कूरियर का प्रयोग करें! कूरियर प्राइम या कूरियर न्यू सहित इसके अन्य प्रकारों को भी स्वीकार किया जा सकता है।

हाशिया

हाशिये को इन मापों के अनुसार समायोजित किया जाना चाहिए:

  • बायां हाशिया: 1.5"

  • दायां हाशिया: 1.0"

  • ऊपर और नीचे के हाशिये: 1.0"

पृष्ठ संख्या

पेज हेडर में पृष्ठ की संख्याओं को दायीं ओर व्यवस्थित करें। आपके पेज हेडर में पृष्ठ संख्या के अतिरिक्त कुछ नहीं होना चाहिए। आपको पटकथा के पहले पृष्ठ पर पृष्ठ संख्या डालने की जरुरत नहीं होती है।

अब जबकि आपके पृष्ठ की फॉर्मेटिंग निर्धारित हो गयी हैं, तो अब अपने विचारों को बाहर निकालने का समय आ गया है। पहले पृष्ठ पर बड़े अक्षरों में "FADE IN" और इसके बाद अपूर्ण विराम (:) टाइप करने के साथ शुरुआत करें।

आपकी पटकथा के 5 मुख्य अवयव:

1. स्लग लाइन

स्लग लाइन, जिसे मुख्य दृश्य के शीर्षक के रूप में भी जाना जाता है, आपकी पटकथा में हर नए दृश्य की शुरुआत में आता है। इसे 3 भागों में बांटा जा सकता है:

  • अंदर या बाहर [अंदर के स्थानों को INT (आंतरिक) और बाहर के स्थानों को EXT (बाहरी) के रूप में दर्शाया जाता है]

  • स्थान

  • दिन का समय

पटकथा लेखन फॉर्मेटिंग के मूलभूत सिद्धांत स्लग लाइन

ध्यान दें, सभी स्लग लाइन को बड़े अक्षरों में लिखा जाता है।

2. घटनाक्रम

हमारे पास अपने दृश्य का स्लग लाइन है, अब, हमें अपने पाठक को बताना है कि दृश्य में क्या हो रहा है, चरित्र क्या कर रहे हैं, और कौन सी आवाज़ें सुनाई दे रही हैं। घटनाक्रम के विवरणों को जितना संभव हो संक्षिप्त रखना चाहिए। अपने दृश्य के बारे में अनावश्यक वर्णन से पाठकों को बोर ना करें।

घटनाक्रम के विवरण में पहली बार चरित्रों का परिचय देते समय उनके नाम बड़े अक्षरों में होने चाहिए। चरित्रों को प्रस्तुत करने के बाद, उनके नामों को सामान्य तरीके से लिखा जा सकता है।

निम्नलिखित अन्य घटनाक्रम हैं जिन्हें अक्सर बड़े अक्षरों में लिखा जाता है:

  • दृश्यात्मक या विशेष प्रभाव।

  • उस घटनाक्रम के दृश्य में कैद होने वाली ध्वनियां।

  • पहली बार महत्वपूर्ण रंगमंच सामग्रियों, कपड़ों, या अन्य विवरणों का उल्लेख।

  • ऐसी कोई भी अन्य चीज जिसपर लेखक पाठक का ध्यान आकर्षित करना चाहता है।

3. चरित्र का नाम

यह आसान है--कौन सा चरित्र बोल रहा है? चरित्र के नाम को हमेशा बड़े अक्षरों में रखा जाता है और यह बाएं हाशिये से 3.5" जगह छोड़कर लिखा जाता है। अपनी पूरी पटकथा में चरित्र के नामों के साथ सुसंगत रहें। यदि आपके एक चरित्र का नाम "जॉन डो" है, तो इस बात का ध्यान रखें कि हर बार उसके बोलने पर, आप उसके संवाद में "जॉन डो" नाम शामिल करें, ना कि "जॉन," "मि. डो" आदि।

पटकथा लेखन फॉर्मेटिंग के मूलभूत सिद्धांत चरित्र का नाम
चरित्र विस्तार

कभी-कभी आपको अपने चरित्र के नाम और चरित्र के विस्तार को बदलने की जरुरत पड़ सकती है। दो विस्तार हैं:

  • ऑफ-स्क्रीन के लिए O.S: इसे तब प्रयोग किया जाता है जब दृश्य में भौतिक रूप से मौजूद कोई चरित्र बोलता है लेकिन दर्शकों को दिखाई नहीं देता।

  • वॉइस ओवर के लिए V.O.: इसे तब प्रयोग किया जाता है जब दृश्य में चरित्र भौतिक रूप से मौजूद नहीं होता है लेकिन पंक्तियां बोलता है। यह टेलीफोन के दूसरी तरफ बोलने वाला कोई व्यक्ति हो सकता है या फ्लैशबैक के दृश्य के दौरान बोलने वाला व्यक्ति हो सकता है।

पटकथा लेखन फॉर्मेटिंग के मूलभूत सिद्धांत चरित्र विस्तार

4. निक्षिप्त

इस स्थान पर आप अभिनेता के लिए इसके बारे में थोड़े और निर्देश दे सकते हैं कि उन्हें अपनी पंक्ति कैसे बोलनी चाहिए। निक्षिप्त 3.0" जगह छोड़कर लिखे जाते हैं। इन्हें काफी कम मात्रा में प्रयोग करने का प्रयास करें! प्रत्येक पंक्ति के लिए ऐसे निर्देश की जरुरत नहीं होती है।

पटकथा लेखन फॉर्मेटिंग के मूलभूत सिद्धांत  निक्षिप्त

5. संवाद

यह अंतिम बिंदु है, लेकिन निश्चित रूप से इसकी महत्ता कम नहीं है। आपके चरित्र जो वास्तव में कहते हैं उसे संवाद कहते हैं। संवाद हाशिये से 2.5" जगह छोड़कर लिखना चाहिए और इसे अधिकतम 5.5" तक बढ़ाया जा सकता है।

पटकथा लेखन फॉर्मेटिंग के मूलभूत सिद्धांत संवाद

तो अब आपको पटकथा की फ़ॉर्मेटिंग के सबसे मूल सिद्धांत मिल गए हैं!

तो अब आपको पटकथा की फॉर्मेटिंग के सबसे मूल सिद्धांत मिल गए हैं। निश्चित रूप से, फॉर्मेटिंग के ऐसे कई अन्य अवयव हैं जिन्हें इस पोस्ट में शामिल नहीं किया गया है। यदि ऐसा कोई विशेष अवयव है जिसके बारे में आप और अधिक जानना चाहते हैं तो नीचे अपनी टिप्पणी प्रदान करें और हम अपने अगले पोस्ट में इसे शामिल करने का प्रयास करेंगे। और अधिक जानकारी के लिए, निम्नलिखित स्त्रोत्रों की जांच करें जिन्हें हमने खुद अपनी पटकथा की फॉर्मेटिंग की समझ को बेहतर बनाने के लिए प्रयोग किया है:

सामान्य फॉर्मेटिंग

स्लग लाइन और दृश्य के शीर्षक

घटनाक्रम लेख और संवाद

पटकथा फॉर्मेटिंग की टिप्पणियां एरिक रोथ द्वारा लिखित फॉरेस्ट गंप की पटकथा से ली गयी हैं।

लेखकों को हमारी बहुत सारी शुभकामनाएं!

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

SoCreate लोगो

हम आपके लिए लाये हैं SoCreate, पटकथा लेखन का भविष्य!

आज एक नया दिन है। यह वो दिन है जब हमने एक नए आयाम में जाने के लिए बाँध बनाना शुरू करते हुए अपनी टाइम मशीन के डायल को आगे बढ़ा दिया था, जो एक ऐसा भविष्य है जहाँ स्क्रीन के लिए लिखने वाले रचनाकार उन सभी सख्त संरचनाओं से मुक्त हो जाते हैं जिनका उन्हें इस समय पालन करना पड़ता है। मैं एक लंबे अरसे से इस भविष्य की कल्पना करता आया हूँ। यह वो भविष्य है जिसपर पिछले 10 सालों की कड़ी मेहनत, समर्पण, और मेरे परिवार के जीवन भर की जमा-पूंजी लगी है। यह एक नति परिवर्तन बिन्दु है जो रचनात्मक कामों को साकार करने के तरीके में बहुत बड़ा बदलाव लाने वाला है। यह वो नयी सच्चाई होगी...

पारंपरिक पटकथा लेखन में फोन कॉल फॉर्मेट करें: परिदृश्य 1

केवल एक चरित्र दिखाई और सुनाई देता है।

पारंपरिक पटकथा लेखन में फोन कॉल को कैसे फॉर्मेट करें: परिदृश्य 1

अपनी पटकथा में फोन कॉल फॉर्मेट करना मुश्किल हो सकता है। इससे पहले कि आप यह करना शुरू करें, इस बात का ध्यान रखें कि आपको उस फोन कॉल के प्रकार की अच्छी समझ हो जिसे आप अपने दृश्य में चाहते हैं और साथ ही आपको पारंपरिक पटकथा लेखन में इसे सही से फॉर्मेट करना आता हो। पटकथा के फोन कॉल के लिए 3 मुख्य परिदृश्य होते हैं: परिदृश्य 1: केवल एक चरित्र दिखाई और सुनाई देता है। परिदृश्य 2: दोनों चरित्र सुनाई देते हैं, लेकिन केवल एक दिखाई देता है। परिदृश्य 3: दोनों चरित्र दिखाई और सुनाई देते हैं। ऐसे फोन वार्तालापों के लिए, जहाँ केवल एक चरित्र दिखाई और सुनाई देता है, दृश्य को उसी तरह से फॉर्मेट करें जैसे आप सामान्य संवाद करेंगे। जब ऑफ-स्क्रीन चरित्र फोन के दूसरी तरफ बात करता है तो उस समय को सूचित ...

पारंपरिक पटकथा लेखन में फोन कॉल फॉर्मेट करें

दोनों चरित्र सुनाई देते हैं, लेकिन केवल एक दिखाई देता है।

पारंपरिक पटकथा लेखन में फोन कॉल को कैसे फॉर्मेट करें: परिदृश्य 2

अपने पिछले ब्लॉग पोस्ट में, हमने आपको 3 मुख्य प्रकार के फोन कॉल्स के बारे में बताया जो एक पटकथा में आपको मिल सकते हैं: आज के पोस्ट में, हम परिदृश्य 2 के बारे में चर्चा करेंगे: जिसमें दोनों चरित्रों को सुना जाता है, लेकिन केवल एक दिखाई देता है। परिदृश्य 1 पर ज्यादा जानकारी पाने के लिए, कृपया हमारे पिछले ब्लॉग "पारंपरिक पटकथा लेखन में फोन कॉल को कैसे फॉर्मेट करें: परिदृश्य 1" पर जाएँ। जिस फोन वार्तालाप में दोनों चरित्रों को सुना जाता है, लेकिन दर्शक को केवल एक दिखाई देता है, उसमें ना दिखाई देने वाले चरित्र के वॉइस ओवर ("V.O.") के लिए चरित्र विस्तार शामिल किया जाता है। लेखक बहुत सारे कारणों से दूसरे चरित्र को ना दिखाने का चयन कर सकता है। इसके दो सामान्य कारण हैं: 1) लेखक ऑन-स्क्रीन चरित्र की ...

टिप्पणियां