पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक विक्टोरिया लूसिया

लिखने की प्रेरणा कैसे पाएं

पाएं लिखने की प्रेरणा

कभी-कभी अचानक ही आपके अंदर प्रेरणा आ जाती है। और कभी-कभी प्रेरणा ढूंढना रेगिस्तान में पानी ढूंढने के बराबर हो सकता है। तो, प्रेरित रहने के क्या तरीके हैं? किसी कामकाज़ी लेखक को निरंतर प्रेरणा कैसे मिलती है, जिसे एक शेड्यूल के हिसाब से चलना पड़ता है? यह ब्लॉग प्रेरणा से जुड़ी सभी चीज़ों के लिए आपका स्रोत है, इसलिए इसे बुकमार्क करें और जब कभी भी आपको जल्दी से प्रेरणा की ज़रुरत पड़े तो इसपर वापस आएं!

प्रेरणा बनाये रखना

किसी रचनात्मक क्षेत्र में काम करना और नयी प्रेरणा खोजना मुश्किल हो सकता है। आपको यह महसूस हो या न हो, आपको रचनात्मक रहना पड़ता है, तो फिर आप ऐसी प्रक्रिया कैसे बनाते हैं जिससे सफलता मिलना निश्चित होता है?

आपको एक ऐसे तरीके की ज़रुरत पड़ेगी जिससे आपके दिमाग में हमेशा नए आईडिया आते रहें, जिसका मतलब है कि आपको ख़ुद को ऐसी चीज़ों से घेरे रखना पड़ेगा जो आपमें दिलचस्पी जगाती हैं। नयी किताबें पढ़ें, स्मार्ट टीवी शो देखें, और ऐसा मीडिया देखें जो आपको चुनौती देता है। नए लोगों से मिलें या लोगों को देखें। दिलचस्प सवाल करें।

लेकिन आपको लिखने के लिए अपना जुनून भी बनाये रखना होगा। सौभाग्य से, SoCreate के पास आईडिया की एक सूची मौजूद है, जिससे पेशेवर लेखकों को प्रेरित रहने में मदद मिल सकती है

कामकाज़ी लेखक होने के नाते, किसी तरह की संरचना और शेड्यूल आपके करियर में सफल होने के लिए ज़रुरी होगी। पेशेवर लेखक होने पर, आप बैठकर प्रेरणा आने का इतंज़ार नहीं कर सकते। प्रेरित महसूस न करने पर भी आपको काम करने में समर्थ होना पड़ता है। आप पटकथा लेखन के अनुशासन का जितना ज़्यादा अभ्यास करते हैं और अपने लिखने के शेड्यूल पर अडिग रहते हैं, उतना ही ज़्यादा आप प्रेरणा का इंतज़ार किये बिना लिखने के आदी होंगे। आपकी दिनचर्या आपको सिखाएगी कि काम करते समय प्रेरणा आ सकती है और आएगी! कभी-कभी अपने दिमाग को रचनात्मक तरीके से इस्तेमाल करना और चुनौतीपूर्ण परियोजना पर काम करना अपने अंदर प्रेरणा जगाने का सबसे अच्छा तरीका होता है।

कभी-कभी आपका लिखने का बिल्कुल मन नहीं होता, और इसमें कोई बड़ी बात नहीं है! रचनात्मक लोगों के लिए, या यूं कहें तो किसी के लिए भी यह बहुत सामान्य है कि कभी-कभी आपका कोई चीज़ करने का मन नहीं होता या आप हताश महसूस करते हैं, लेकिन अनुभवी लोग जानते हैं कि ऐसी परिस्थिति से ख़ुद को बाहर कैसे निकाला जाता है। रचनात्मक मुश्किलों को तेज़ी से बदलने के सुझाव के लिए, अपनी पटकथा लेखन की उदासी से बाहर आने के 3 तरीकों पर एक नज़र डालें।

जब बाकी सारी चीज़ें आपको प्रेरित करने में नाकामयाब हो जाती हैं तब आप महान व्यक्तियों के पटकथा लेखन से संबंधित प्रेरणादायक अनमोल वचनों पर निर्भर हो सकते हैं। वो भी उस परिस्थिति से गुजर चुके हैं जहाँ आप इस वक़्त हैं, और कभी-कभी हमें उस रिमाइंडर की ज़रुरत पड़ती है।

मेरे कुछ पसंदीदा?

"कोई पहला ड्राफ्ट न लिखने से ज़्यादा अच्छा है, खराब पहला ड्राफ्ट लिखना।" - विल शेट्टर्ली

"भले ही आपको हर तरफ से भावनात्मक रूप से मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा हो, फिर भी कभी उस चीज़ में अपना विश्वास न खोएं जो आप करने की कोशिश कर रहें हैं। कोई भी हाँ पाने से पहले आपको बहुत सारे ना मिलेंगे। और यह ठीक है।" - जेनिफर ली

करियर की प्रेरणा

क्या आप अपने करियर और लेखक बनने के सपने पर टिके रहने के लिए प्रेरणा पाना चाहते हैं? शायद कुछ पटकथा लेखकों के किस्से और कहानियों से आपको मदद मिल सकती है, जो कभी उसी जगह पर थे, जहाँ आज आप खड़े हैं। एक महत्वाकांक्षी पटकथा लेखिका की ज़िन्दगी के एक दिन के बारे में बनाया गया यह ब्लॉग देखें। आप SoCreate की "सो, राइट योर बिल्स अवे" प्रतियोगिता के विजेता ज़ैकरी रॉवेल का 90 दिन में शुरू से अंत तक पटकथा लिखने के सफर के बारे में ब्लॉग भी देख सकते हैं, जो अब इसके अधिकार बेच चुके हैं।

अगर आपकी प्रेरणा पटकथा लेखन से जुड़े मौजूदा सवालों के जवाब के रूप में आती है तो कार्यकारी लेखकों के साथ SoCreate के कुछ बेहतरीन साक्षात्कार देखें, जो कुछ ऐसे सवालों के जवाब देते हैं:

कभी-कभी प्रेरणा सेब की तरह अचानक आपके सिर पर गिर जाती है तो कभी आपको ख़ुद यह पता लगाना पड़ेगा कि काम करते वक़्त आप इसे अपने अंदर कैसे उत्पन्न कर सकते हैं। यह बस प्रक्रिया का हिस्सा है। लगातार लिखने से आपके दिमाग में नए आईडिया आएंगे, आपको नयी रचनात्मक सफलताएं मिलेंगी, और कुल मिलाकर आप उस काम से अच्छी तरह परिचित हो पाएंगे और समझ पाएंगे जो आप कर रहें हैं। यहाँ से आप केवल ऊपर जा सकते हैं! लिखने की प्रेरणा पाने के इस सफर के लिए और लिखने के लिए आपको बहुत सारी शुभकामनाएं!

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

लिखें पटकथा

पटकथा कैसे लिखें

आपका स्वागत है! पटकथा लिखने के लिए आप मेरे व्यापक गाइड पर आ गए हैं। मैं आपको पटकथा के विभिन्न जीवन-चक्रों से लेकर चलते हुए उनके बारे में आपका मार्गदर्शन करुँगी, जिसमें अपनी पटकथा की परिकल्पना सोचने से लेकर इसे दुनिया में लाने तक शामिल है। अगर आप पटकथा लिखने की सोच रहे हैं तो आप बिल्कुल सही जगह हैं। चलिए इसे शुरू करें! विचार-मंथन: सबसे पहली बात, आप किस बारे में लिखने वाले हैं? लिखना शुरू करने से पहले हमें आईडिया सोचने पड़ते हैं। अब यह सोचने का वक़्त आ गया है कि आपकी पटकथा की क्या शैली होगी, और अपनी कहानी बताने के लिए आप कौन सी संरचना इस्तेमाल करने वाले हैं...

अच्छी कहानी कैसे बनती है?

अच्छी कहानी कैसे बनती है?

माध्यम चाहे जो भी हो - पटकथा लेखन, उपन्यास लेखन, या यहाँ तक कि निबंध - कहानी सबसे महत्वपूर्ण पहलू है। अच्छी कहानी के बिना आपके पास क्या होता है? अच्छे किरदार रोचक हैं, लेकिन वो कहाँ जा रहे हैं? आपने जो दृश्य सेट किया है वो बहुत खूबसूरत है, लेकिन उसमें हो क्या रहा है? आपको अपने दर्शकों को इस बात पर ध्यान देने के लिए मजबूर करना पड़ता है कि क्या चल रहा है, और आप वो कहानी के माध्यम से करते हैं जो उन्हें आकर्षित करती है और उनकी दिलचस्पी जगाती है। तो, अच्छी कहानी कैसे बनती है? आज, मैं आपको इसके ज़रुरी भागों के बारे में बताने वाली हूँ। नाटक - आपको संघर्ष की ज़रुरत होती है! नाटक कम करके ख़ुद को धोखा देने की कोशिश न करें...
Disney Writer Ricky Roxburgh Has This Advice for Aspiring Screenwriters

एमी-विजेता लेखक रिकी रॉक्सबर्ग के साथ, अपने लिए पटकथा लेखन का सही शेड्यूल कैसे बनाएं

क्या देरी करना पटकथा लेखक का सबसे बड़ा दुश्मन है? सबसे ज़्यादा हानिकारक से सबसे कम हानिकारक के क्रम में, मेरे हिसाब से देरी करना इस क्रम में आत्म-संदेह और रचनात्मक अवरोधों के साथ ऊपर स्थित है। लेकिन अच्छी बात यह है कि हमारे पास इन सभी चुनौतियों का समाधान है, और आपको बस उन्हें लागू करने की ज़रुरत होती है। पहला चरण: लिखने का एक ऐसा समय बनाएं जिसपर आप टिक सकें। मुझे सचमुच लगता है कि अगर लेखक चीज़ें पूरी करने और बेहतर होने को लेकर गंभीर है तो उनका अपना एक शेड्यूल होना बहुत ज़रुरी है। और पता है क्या? मेरी इस बात का समर्थन करने के लिए मेरे पास एक एमी-विजेता विशेषज्ञ की राय भी है...

टिप्पणियां