पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक विक्टोरिया लूसिया

किसी सार्वजनिक हस्ती के बारे में वैध तरीके से कहानी कैसे लिखें

किसी सार्वजनिक हस्ती के बारे में वैध तरीके से कहानी कैसे लिखें

असली ज़िन्दगी की घटनाओं और असली लोगों को केंद्र में रखकर कई फ़िल्मों, टेलीविज़न शो, और उपन्यासों का निर्माण किया गया है। लेखक होने के नाते, हमारे लिए अपने आसपास होने वाली चीज़ों से प्रेरणा न लेना लगभग नामुमकिन है। प्रेरणा लेना एक अलग बात है, लेकिन अगर आप किसी ज़िंदा व्यक्ति के बारे में कुछ लिखना चाहते हैं तो वो कैसे किया जा सकता है? क्या किसी मशहूर इंसान के बारे में लिखना वैध है? आज हम किसी मशहूर इंसान या सार्वजनिक हस्ती के बारे में कहानी लिखने की वैधता के बारे में बात करने वाले हैं।

हैलो पटकथा लेखक! क्या आप SoCreate का पटकथा लेखन सॉफ्टवेयर आजमाने वाले पहले लोगों में से एक बनना चाहते हैं? अगर हाँ तो इस पेज से बाहर निकले बिना, यहाँ

तथ्यों और घटनाओं के बारे में लिखना

तथ्य और घटनाएं सार्वजनिक डोमेन में आती हैं। कोई व्यक्ति किसी ऐतिहासिक घटना का मालिक नहीं हो सकता। कोई भी इसके बारे में लिख सकता है। अपने ख़ुद के तरीके से उस घटना के बारे में लिखते समय, आपका लेखन कॉपीराइट द्वारा सुरक्षित होता है। हालाँकि, अगर आप किसी लेख से प्रेरित हैं जो आपने उस घटना के बारे में पढ़ा था तो अब आप किसी और के लेखन से प्रेरित हुए हैं। आप किसी असली घटना के लिए उनकी राय से प्रेरित हुए हैं, जो कॉपीराइट से सुरक्षित है। इसलिए, आपको घटनाओं के उनके संस्करण के आधार पर अपनी पटकथा लिखने के लिए असली लेखक से अधिकार लेने होंगे। मान लीजिए कि आप सार्वजनिक रूप से ज्ञात तथ्यों के आधार पर एक कहानी लिख रहे हैं, जिसे आपने कई स्रोतों से हासिल किया है क्योंकि उसके बारे में जानकारी अच्छी तरह से ज्ञात है। ऐसी स्थिति में, कोई कानूनी मुद्दा उत्पन्न होने की संभावना नहीं होती है।

जीवन अधिकार

किसी असली व्यक्ति पर आधारित फ़िल्म बनाने के लिए आपने "जीवन अधिकार" पाने के बारे में सुना होगा, लेकिन जीवन अधिकार असल में होता क्या है? जीवन अधिकार किसी घटना, जो किसी के जीवन में हुई थी, व्यक्ति के बारे में विवरण और मीडिया के किसी रूप में उनकी छवि का प्रयोग करने के लिए किया गया एक समझौता है। जीवन अधिकार किसी व्यक्ति के जीवन की कहानी या उनके जीवन में घटित किसी घटना को शामिल कर सकते हैं।

आपको ऐसा लग सकता है कि, "मैं तो एक लेखक हूँ। मुझे अपने लेखन पर ध्यान देना है! क्या कानूनी मुद्दों के बारे में फिक्र करना किसी और का काम नहीं होना चाहिए?" मैं आपकी बात समझती हूँ, लेकिन अंत में आप लेखक के रूप में अपनी पटकथा बेचना चाहते हैं। जीवन अधिकार होने पर यह स्टूडियो या वितरक को बहुत आकर्षक लग सकता है, क्योंकि फिर उन्हें इसे अपने से लेने की चिंता नहीं करनी पड़ेगी और उनके पास आपकी पटकथा को मना करने का कारण भी कम होगा। जीवन अधिकार पाना ज़्यादातर आपकी कहानी के विषय द्वारा किये जाने वाले मुकदमों से सुरक्षा प्राप्त करने के बारे में होता है, और स्टूडियो को मुकदमों में फंसना अच्छा नहीं लगता, इसलिए उनके लिए उससे सुरक्षा होना आवश्यक है। अक्सर भविष्य में आने वाली किसी कानूनी समस्या को शुरुआत में ही ख़त्म करना, समस्या आने के बाद कानूनी टीम को काम पर रखकर केस लड़ने से ज़्यादा सस्ता होता है।

जीवन अधिकार का केवल यह मतलब नहीं है कि आपका विषय आपके ऊपर मुकदमा नहीं करेगा, बल्कि वो आपको विषय के लिए एक्सेस भी प्रदान करते हैं। आप विषय से बात कर सकते हैं और जो कहानी आप बताने की कोशिश कर रहे हैं, उसके बारे में ज़्यादा गहराई से और व्यक्तिगत रूप से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। उनका सहयोग और परियोजना के साथ आना आपके लिए मददगार होता है।

अब, इस बात को ध्यान में रखें कि जीवन अधिकार सस्ते नहीं होते हैं। आप एक ऑप्शन की तरह जीवन अधिकार प्राप्त कर सकते हैं, जैसे कोई निर्माता आपकी पटकथा को चुनने का अधिकार ख़रीदता है। आप शुरू में 10 प्रतिशत भुगतान कर सकते हैं, और बाकी पैसों का भुगतान तब करते हैं जब फ़िल्म या टीवी शो निर्मित हो जाता है। लेकिन डीना एपलटन की किताब "हॉलीवुड डीलमेकिंग: नेगोशिएटिंग टैलेंट अग्रीमेंट्स" के अनुसार, जीवन का अधिकार $25,000 से लेकर दस गुना तक हो सकता है, यह इस बात पर निर्भर करता है कि कहानी टीवी शो के लिए है या फ़िल्म के लिए।

किसी मनोरंजन वकील से इस बारे में ज़्यादा जानकारी पाएं कि आप जीवन अधिकार कैसे पा सकते हैं और इसमें आपको कितना समय लगता है।

सार्वजनिक बनाम निजी हस्ती

जब कोई व्यक्ति जनता के सामने रहता है और उनके जीवन के पहलुओं के बारे में सबको पता होता है तो अक्सर जीवन अधिकारों की ज़रुरत के बिना उन तथ्यों को लेकर लिखना स्वीकार्य और सही होता है। अगर कोई व्यक्ति मर गया है तो मानहानि और गोपनीयता पर हमले की चिंता उनके साथ ही चली जाती है, जिसकी वजह से उनके लिए जीवन अधिकार पाने की ज़रुरत आम तौर पर ख़त्म हो जाती है।

सार्वजनिक हस्ती कोई ऐसा व्यक्ति होता है, जिसका नाम घर-घर में जाना जाता है। आम तौर पर, सार्वजनिक हस्ती को किसी तरह का शोहरत या प्रचार मिला होता है। निजी हस्ती जनता की नज़रों में नहीं आया होता है। लेकिन कोई निजी हस्ती बिना किसी कोशिश के भी प्रसिद्धि हासिल कर सकता है, वो अपनी ज़िन्दगी में एक उचित गोपनीयता बनाये रखते हैं, इसलिए उनके मामले में जीवन के अधिकार की ज़रुरत पड़ सकती है (उदाहरण के लिए, "द ब्लाइंड साइड," में चित्रित सच्ची कहानी)।

पहला संशोधन क्या है?

अमेरिका में, पहला संशोधन काफी हद तक एक लेखक की रक्षा करता है और उन्हें वास्तविक घटनाओं और लोगों का अपना काल्पनिक संस्करण बनाने की अनुमति देता है। तो फिर लेखकों को जीवन अधिकार लेने की चिंता करने की क्या ज़रुरत है? एक बार फिर से, किसी व्यक्ति की कहानी के अधिकारों को प्राप्त करना किसी स्टूडियो की नज़र में आपकी पटकथा को एक साफ़-सुथरी परियोजना बनाता है। इससे पता चलता है कि आपका काम जिस व्यक्ति पर आधारित है, वह आपको अपनी कहानी बताने में सहयोग करने के लिए राज़ी हो गए हैं, इसलिए आगे चलकर कानूनी सिरदर्द की संभावना कम होती है। यह मूल रूप से "बाद में परेशान होने से सुरक्षित रहना ज़्यादा अच्छा है" वाली स्थिति है।

संदेह की स्थिति में

कानूनी मुद्दों के बारे में इन सारी बातों की वजह से आपको तनाव हो सकता है, और इसलिए आप अपने काम को उस असली व्यक्ति से ज़्यादा से ज़्यादा अलग रखना चाहते हैं जिसपर यह आधारित है। आप किरदारों के नाम बदल सकते हैं और घटनाएं जिस तरह से घटित होती हैं उनमें बदलाव कर सकते हैं। अपनी पटकथा को "किसी पर आधारित" के बजाय "असली व्यक्ति या असली कहानी से प्रेरित" के रूप में बताने से भी अपने काम को वास्तविकता से अलग करने में मदद मिल सकती है। लेकिन ध्यान दें: इतना सब करने के बावजूद, कभी-कभी विषय को आसानी से पहचाना जा सकता है, और अगर आपने पहले से अधिकार नहीं ले रखे हैं तो आपके ऊपर कानूनी कार्यवाही हो सकती है।

काश मैं आपसे कह पाती कि चीज़ें बस ये बोलने जितनी आसान हैं कि, "हाँ, आपको जीवन अधिकार लेने की ज़रुरत है," या "नहीं, इसकी चिंता न करें, बस अपनी कहानी लिखें"। हर परिस्थिति अलग होती है। आपका विषय किस स्तर की हस्ती है, वो ज़िंदा है या मर चुका है, और उनके परिवार का बर्ताव कैसा है, ये सभी चीज़ें इसमें अपनी भूमिका निभा सकती हैं कि आपके ख़िलाफ़ कोई कानूनी कार्यवाही की जाएगी या नहीं।

मैं आपको याद दिला दूँ कि मैं कोई वकील नहीं हूँ। इसलिए, अगर आपके पास कोई विशेष सवाल है तो किसी मनोरंजन वकील से परामर्श करना फायदेमंद होगा, जो कानून के बारे में आपको ज़्यादा अच्छे से बता सकते हैं और आपकी परिस्थिति के संबंध में जानकारी दे सकते हैं। प्रेरित रहें, और लिखते रहें!

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

पता करेंअमेरिका में पटकथा लेखन के क्रेडिट

अमेरिका में पटकथा लेखन के क्रेडिट कैसे पता करें

आपको स्क्रीन पर पटकथा लेखन के इतने सारे अलग-अलग क्रेडिट्स क्यों दिखाई देते हैं? कभी आप देखते हैं "पटकथा लेखक & पटकथा लेखक द्वारा पटकथा," और कभी यह होता है "पटकथा लेखक और पटकथा लेखक।" "कहानी" का क्या मतलब होता है? क्या "पटकथा," "लेखक," और "स्क्रीन स्टोरी" के क्रेडिट्स में कोई अंतर होता है? राइटर्स गिल्ड ऑफ़ अमेरिका में सभी क्रेडिट्स के लिए नियम होते हैं, जो रचनात्मक लोगों की सुरक्षा के लिए होते हैं। आज मैं आपको पटकथा लेखन के क्रेडिट्स का पता लगाने के तरीके बताने वाली हूँ, जो कभी-कभी आपको उलझन में डाल सकते हैं। & बनाम और - एम्परसैंड (&) लेखन टीम का उल्लेख करते समय इस्तेमाल...

निर्धारित करें पटकथा लेखन के अवशिष्टों को

पटकथा लेखन के अवशिष्टों को कैसे निर्धारित करें

जहाँ तक पटकथा लेखकों के भुगतान पाने की बात आती है, इसे लेकर बहुत सारी उलझनें, सवाल, संक्षिप्त शब्द, और फैंसी शब्द मौजूद हो सकते हैं। जैसे, अवशिष्ट को ही ले लीजिये! यह क्या है? क्या यह लिखने के बाद बस लम्बे वक़्त तक चेक पाना होता है? हाँ, लेकिन बस इतना ही नहीं है, और चूँकि इसका नाता भुगतान पाने से है, इसलिए आपको इस बारे में ज़्यादा जानना चाहिए कि पटकथा लेखन में अवशिष्टों को कैसे निर्धारित किया जाता है। अवशिष्ट क्या है? संयुक्त राज्य में, अवशिष्टों को छोटे-छोटे भागों में तब दिया जाता है, जब WGA के अनुबंध के अंतर्गत किसी WGA हस्ताक्षरकर्ता कंपनी (यानी, कोई ऐसी कंपनी जिसने...

स्क्रीनराइटिंग गिल्ड में हिस्सा लें

स्क्रीनराइटिंग गिल्ड में कैसे हिस्सा लें

स्क्रीनराइटिंग गिल्ड सौदा करने वाला एक सामूहिक संगठन या संघ है, जो विशेष रूप से पटकथा लेखकों के लिए होता है। गिल्ड का मुख्य काम स्टूडियो या निर्माताओं के साथ व्यावसायिक बातचीत में पटकथा लेखकों का प्रतिनिधित्व करना होता है और साथ ही वो यह सुनिश्चित करते हैं कि उनके पटकथा लेखक सदस्यों के अधिकार सुरक्षित रहें। गिल्ड लेखकों को हेल्थ केयर और पेंशन योजनाओं जैसे बहुत सारे लाभ प्रदान करते हैं, साथ ही अपने सदस्यों के आर्थिक और रचनात्मक अधिकार (लेखक को रॉयल्टी दिलवाना या किसी लेखक की पटकथा को चोरी होने से बचाना) सुरक्षित करते हैं। क्या आप इसे समझ नहीं पा रहे हैं? चलिए इसका...