पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक कर्टनी मेजरनिच

फ़िल्म इतिहास में यह महीना – दिसंबर राउंडअप

  • इतिहास में इस दिन

    द लॉर्ड ऑफ़ द रिंग्स:
        द रिटर्न ऑफ़ द किंग

    पटकथा

    • फ्रान वाल्श
    • फिलिपा बॉयेंस
    • पीटर जैक्सन

    द लॉर्ड ऑफ़ द रिंग्स: द रिटर्न ऑफ़ द किंग -

    इस ट्राइलॉजी की पहली दो फ़िल्मों की तरह, "द लॉर्ड ऑफ़ द रिंग्स: द रिटर्न ऑफ़ द किंग" की पटकथा भी फ्रान वाल्श, फिलिपा बॉयेंस, और पीटर जैक्सन ने लिखी थी। यह फ़िल्म सर्वश्रेष्ठ पिक्चर के लिए ऑस्कर अवॉर्ड जीतने वाली आज तक की सबसे पहली फैंटसी एडवेंचर फ़िल्म है, और इसने रिकॉर्ड-तोड़ ऑस्कर जीते हैं, जिनमें सर्वश्रेष्ठ पटकथा सहित नौ दूसरी श्रेणियां भी शामिल हैं। 2004 के ऑस्कर में इस फ़िल्म ने उस श्रेणी के सारे अवॉर्ड जीते थे, जिनके लिए इसे नॉमिनेट किया गया था। इसे फैंटसी फ़िल्म निर्माण में लैंडमार्क माना जाता है।

  • इतिहास में इस दिन

    स्कारफेस

    पटकथा

    • ओलिवर स्टोन

    स्कारफेस -

    ओलिवर स्टोन ने अपने कोकीन की लत से जूझते हुए "स्कारफेस" का रूपांतरित संस्करण लिखा था। दरअसल, इस काम को पूरा करने के लिए वो यूएस से पेरिस चले गए थे, क्योंकि उन्हें डर था कि यूएस में रहने पर वो अपनी इस लत से छुटकारा नहीं पा सकेंगे। यह फ़िल्म 1932 में आयी इसी नाम की फ़िल्म की रीमेक थी, लेकिन अप्रवासी गैंगस्टर के इस ज़्यादा आधुनिक कथानक में शराब के बजाय ड्रग्स का इस्तेमाल किया गया है। शुरुआत में, अल पचीनो इस फ़िल्म में भी मूल फ़िल्म का समय काल रखना चाहते थे, लेकिन बाद में उन्हें एहसास हुआ कि इसे पर्दे पर उतारना मुश्किल होगा। "स्कारफेस" को कल्ट क्लासिक माना जाता है, और इसे एएफआई की टॉप 10 गैंगस्टर फ़िल्मों में शामिल किया गया है।

  • इतिहास में इस दिन

         द नेकेड गन:
    फ्रॉम द फाइल्स
        ऑफ़ पुलिस स्क्वाड!

    पटकथा

    • डेविड ज़कर
    • जिम अब्राहम्स
    • जैरी ज़कर और पैट प्रॉफ्ट

    द नेकेड गन: फ्रॉम द फाइल्स ऑफ़ पुलिस स्क्वाड! -

    आज तक की सबसे अच्छी कॉमेडी फ़िल्मों में से एक के रूप में मानी जाने वाली, "द नेकेड गन: फ्रॉम द फाइल्स ऑफ़ पुलिस स्क्वाड!" की पटकथा डेविड ज़कर, जिम अब्राहम्स, जैरी ज़कर, और पैट प्रॉफ्ट ने लिखी थी, जो टीवी सीरीज़ "पुलिस स्क्वाड" के मुख्य किरदार पर आधारित थी, जिसकी पटकथा भी उन्होंने ही लिखी थी। इस फ़िल्म को इसकी तेज़ रफ़्तार, स्लैपस्टिक कॉमेडी के लिए जाना जाता है, और आलोचकों एवं दर्शकों दोनों से मिली सफलता की वजह से इसके दो सीक्वल बनाये गए, जिनमें "द नेकेड गन 2 1/2: द स्मेल ऑफ़ फियर," और "नेकेड गन 33 1/3: द फाइनल इंसल्ट" शामिल हैं।

  • इतिहास में इस दिन

    अडॉप्टेशन

    पटकथा

    • चार्ली कॉफ़मैन

    अडॉप्टेशन -

    चार्ली कॉफ़मैन ने "अडॉप्टेशन" की पटकथा में अपनी कहानी लिखी है, जिसे निकोलस केज ने निभाया था। हालाँकि, कॉफ़मैन शुरुआत में सुजैन ओर्लीन की नॉन-फिक्शन किताब को पर्दे के लिए लिखने वाले थे, लेकिन उस दौरान उन्हें लेखक के इतने बुरे अवरोध से गुज़रना पड़ा कि उन्हें किताब को पटकथा में बदलने के अपने संघर्ष के बारे में लिखने के अलावा और कुछ भी नहीं सुझा। उनका यह उपाय काम आया, और आज ही के दिन इस फ़िल्म का प्रीमियर किया गया, जिसे दर्शकों ने अपना बहुत सारा प्यार दिया, और इसकी पटकथा को शानदार, असली, और दुर्लभ कहा गया। इसकी पटकथा को अकादमी पुरस्कारों में सर्वश्रेष्ठ अनुकूलित पटकथा के लिए नॉमिनेट किया गया था। रॉटेन टोमैटोज़ पर इस फ़िल्म को 91 प्रतिशत "सर्टिफाइड फ्रेश" रेटिंग मिली है।

  • इतिहास में इस दिन

    टूट्सी

    पटकथा

    • लैरी जेलबार्ट
    • मरी शिसगल
    • डॉन मैकगायर

    टूट्सी -

    "टूट्सी" की कहानी एक घमंडी अभिनेता पर आधारित है जिसे अपनी ख़राब प्रतिष्ठा की वजह से कहीं काम नहीं मिलता, इसलिए भूमिका पाने के लिए वो औरत बनने का ढोंग करने लगता है। इस कॉमेडी फ़िल्म की पटकथा लैरी जेलबार्ट और मरी शिसगल ने जेलबार्ट और डॉन मैकगायर की एक कहानी के आधार पर लिखी थी। बैरी लेविंसन और एलेन ने भी इसकी पटकथा पर काम किया था, लेकिन उन्हें इसका श्रेय नहीं दिया गया। यह 1982 की सबसे लोकप्रिय फ़िल्मों में से एक थी, और सदी बदलने से ठीक पहले, लाइब्रेरी ऑफ़ कांग्रेस ने इसे नेशनल फ़िल्म रजिस्ट्री में शामिल करने का फैसला किया था।

  • इतिहास में इस दिन

    द लॉर्ड ऑफ़ द रिंग्स:
    द टू टॉवर्स

    पटकथा

    • फ्रान वाल्श
    • फिलिपा बॉयेंस
    • पीटर जैक्सन और स्टीफन सिनक्लेयर

    द लॉर्ड ऑफ़ द रिंग्स: द टू टॉवर्स -

    फ्रान वाल्श, फिलिपा बॉयेंस, पीटर जैक्सन, और स्टीफन सिनक्लेयर द्वारा लिखी गयी "द लॉर्ड ऑफ़ द रिंग्स: द टू टॉवर्स" इस ट्राइलॉजी की दूसरी फ़िल्म थी, जो पहली फ़िल्म, "द फ़ेलोशिप ऑफ़ द रिंग" के एक साल बाद आयी थी। कर्मचारियों ने इस पूरी ट्राइलॉजी के लिए एक ही समय में मुख्य फोटोग्राफी पूरी कर ली थी, इसके बाद अगले कुछ सालों में उन्होंने पिक-अप शॉट पूरे किये। लेखकों ने फ़िल्म को किताब से बिल्कुल मिलता-जुलता नहीं लिखा था, क्योंकि उन्हें लगा कि फ़िल्म समझने के लिए सही कालक्रम ज़रुरी है। कहा जाता है कि निर्माण के समय पटकथाओं को और ज़्यादा विकसित किया गया क्योंकि कलाकार अपने किरदारों को ज़्यादा गहराई से समझना चाहते थे।

  • इतिहास में इस दिन

    मिलियन
     डॉलर बेबी

    पटकथा

    • पॉल हेगिस
    • एफ.एक्स. टूले

    मिलियन डॉलर बेबी -

    पॉल हेगिस ने बॉक्सिंग ट्रेनर एफ.एक्स. टूले द्वारा लिखी गयी छोटी कहानियों के आधार पर "मिलियन डॉलर बेबी" की पटकथा लिखी थी। अकादमी ने इसकी पटकथा को सर्वश्रेष्ठ पटकथा के लिए नॉमिनेट किया था, हालाँकि फ़िल्म को इस श्रेणी में जीत हासिल नहीं हुई, लेकिन इसने सर्वश्रेष्ठ पिक्चर, सर्वश्रेष्ठ निर्देशक, सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री और सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता के लिए ऑस्कर जीता था। हालाँकि, हेगिस ने अमेरिकन स्क्रीनराइटर एसोसिएशन का डिस्कवर स्क्रीनराइटिंग अवॉर्ड, और सैटेलाइट अवॉर्ड्स का सर्वश्रेष्ठ अनुकूलित पटकथा का पुरस्कार जीता था।

  • इतिहास में इस दिन

        एडवर्ड
        सिजरहैंड्स

    पटकथा

    • टिम बर्टन

    एडवर्ड सिजरहैंड्स -

    "बीटलजूस" के निर्माण के समय, कैरोलिन थॉम्पसन ने टिम बर्टन के लिए "एडवर्ड सिजरहैंड्स" एक स्पेक स्क्रिप्ट के रूप में लिखा था। बर्टन के दिमाग में ब्लेड से बने हाथों वाले किरदार का शुरुआती आईडिया उस समय आया था, जब वो बचपन में कैलिफ़ोर्निया के बर्बैंक में रहते थे। उन्होंने एक किरदार का चित्र बनाया था, जो एक ऐसे इंसान को दर्शाता था जो उनकी ही तरह अकेला था। बर्टन को थॉम्पसन का उपन्यास जैसा लिखने का स्टाइल पसंद था और इसलिए उन्होंने उन्हें इसकी पटकथा लिखने के लिए कहा। उन्होंने इसे बर्टन के लिए एक "प्रेम की कविता" के रूप में लिखा था, और आगे चलकर इस फ़िल्म को सर्वश्रेष्ठ नाटकीय प्रस्तुति के लिए ह्यूगो अवॉर्ड, और सर्वश्रेष्ठ फैंटसी फ़िल्म के लिए सैटर्न पुरस्कार से नवाज़ा गया।

  • इतिहास में इस दिन

    द ग्रेट
       ट्रेन रॉबरी

    पटकथा

    • एडविन एस. पोर्टर

    द ग्रेट ट्रेन रॉबरी -

    व्यापक तौर पर अमेरिका की पहली एक्शन फ़िल्म मानी जाने वाली, "द ग्रेट ट्रेन रॉबरी" 1903 में इसी महीने आयी थी। इसे एडविन एस. पोर्टर ने ही लिखा, निर्मित और निर्देशित किया था। यह फ़िल्म केवल 12 मिनट लंबी है, लेकिन एक ही समय पर दो अलग-अलग स्थान दिखाने के लिए प्रयोग की गयी क्रॉस-कटिंग तकनीक की वजह से इस फ़िल्म ने इतिहास रच दिया था। यह लोकेशन पर शूट की जाने वाली पहली फिल्मों में से एक थी, जिसमें गतिशील कैमरावर्क शामिल था, जो उससे बहुत अलग था जो उस समय के दर्शकों को देखने को मिलता था।

  • इतिहास में इस दिन

    हीट

    पटकथा

    • माइकल मैन

    हीट -

    "हीट" 1995 की क्राइम ड्रामा है जो एक अपराधी और उसे पकड़ने की कोशिश करने वाले डिटेक्टिव पर आधारित है। माइकल मैन ने इसे उस टीवी सीरीज़ के रीमेक के रूप में लिखा, निर्मित और निर्देशित किया था, जिसपर वो काम करते थे लेकिन वो कभी रिलीज़ नहीं हुई। समीक्षकों ने बौद्धिक संवादों, अच्छाई और बुराई, अपराधी बनाम पुलिस के गहरे विश्लेषण के लिए इसकी पटकथा की बहुत सराहना की थी। इस फ़िल्म ने बेहद लोकप्रिय वीडियो गेम, ग्रैंड थेफ्ट ऑटो III और ग्रैंड थेफ्ट ऑटो V, को प्रेरित किया। इस साल मैन ने "हीट" के लिए एक प्रीक्वल उपन्यास पूरा किया है, जो 2020 में रिलीज़ हो सकता है।

  • इतिहास में इस दिन

    जॉर्जेस
    मेलीज़

    • 1861 - 1938

    जॉर्जेस मेलीज़ -

    जॉर्जेस मेलीज़ का जन्म 158 साल पहले आज के दिन हुआ था और उन्हें साइंस फिक्शन फ़िल्म शैली के प्रवर्तकों में से एक के रूप में जाना जाता है। उनकी फ़िल्में, "अ ट्रिप टू द मून" और "द इम्पॉसिबल वॉयेज" दोनों अनोखी भूमियों और साहसिक कारनामों पर आधारित हैं। उन्हें स्पेशल इफेक्ट्स बनाना और उनका इस्तेमाल करना बहुत पसंद था और उन्हें टाइम लैप्स, डिज़ॉल्व, और हैंड-पैंटेड फ़िल्म जैसी तकनीकों के लिए जिम्मेदार माना जाता है।

  • इतिहास में इस दिन

    अपोकलिप्टो

    पटकथा

    • मेल गिब्सन
    • फरहाद सफीना

    अपोकलिप्टो -

    मेल गिब्सन और फरहाद सफीना द्वारा लिखा गया "अपोकलिप्टो" एक युवा माया, पति, और पिता, जैगुआर पॉ, के साहसिक सफर पर आधारित है, जो इंसानी बलि के रूप में मारे जाने का खतरा आने पर अपनी ज़िन्दगी के लिए लड़ता है। यह फ़िल्म एक विशेष एक्शन-एडवेंचर है जिसके मुख्य संवाद माया में हैं, जिन्हें दर्शकों के लिए सबटाइटल के साथ अनुवादित किया गया है। गिब्सन चाहते थे कि दर्शक न केवल संवादों, बल्कि पर्दे पर होने वाले घटनाक्रमों से भी ख़ुद को जोड़ पाएं, उन्होंने इस फ़िल्म का निर्देशन भी किया था। फ़िल्म को ज़्यादा से ज़्यादा सटीक बनाने के लिए मेल गिब्सन और फरहाद सफीना ने एक परामर्शदाता की भी मदद ली थी जो माया इतिहास में विशेषज्ञ थे।

  • इतिहास में इस दिन

    गैंग्स ऑफ़
    न्यूयॉर्क

    पटकथा

    • जे कॉक्स
    • स्टीवन ज़िलियन
    • केनेथ लोनर्गन

    गैंग्स ऑफ़ न्यूयॉर्क -

    निर्देशक मार्टिन स्कॉर्सेस ने इस फ़िल्म के आने से 20 साल पहले ही हर्बर्ट असबरी की "गैंग्स ऑफ़ न्यूयॉर्क: एन इनफॉर्मल हिस्ट्री ऑफ़ द अंडरवर्ल्ड" के अधिकार खरीद लिए थे। उस समय, स्कॉर्सेस आज की तरह बड़ा नाम नहीं थे और इसलिए उन्हें इस फ़िल्म का निर्माण करने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। किताब को पटकथा के रूप में बदलने के लिए जे कॉक्स, स्टीवन ज़िलियन, और केनेथ लोनर्गन की मदद ली गयी, जो कई सर्वश्रेष्ठ सूचियों में चार्ट-टॉपर बनी।

  • इतिहास में इस दिन

    द वूल्फ मैन

    पटकथा

    • कर्ट सियोडमक

    द वूल्फ मैन -

    शायद आज के समय में हॉलीवुड में जिस तरह से वेयरवूल्फ को दिखाया जाता है उसके लिए "द वूल्फ मैन" ही जिम्मेदार है, जो एक हॉरर फ़िल्म है। इसे कर्ट सियोडमक ने लिखा था और आगे चलकर इसने वेयरवूल्फ वाली कई फ़िल्मों को भी प्रेरित किया। सियोडमक ने इस फ़िल्म में एक डरावनी कविता लिखी थी जिसे इसके सीक्वल में भी प्रयोग किया गया है, जिसमें वो कहते हैं कि "पतझड़ में वूल्फबेन खिलने पर" इंसान भेड़िये में बदलता है। हालाँकि, इसके दृश्य इस परिवर्तन को हमेशा पूर्णिमा से जोड़कर दिखाते थे। विशेषज्ञों का मानना है कि यहीं से फ़िल्मों में पूर्णिमा में इंसान को भेड़िये में बदलते हुए दिखाने का चलन शुरू हुआ, जिसे बाद की फ़िल्मों में अक्सर देखा गया है।

  • इतिहास में इस दिन

    देयर विल
      बी ब्लड

    पटकथा

    • पॉल थॉमस एंडरसन

    देयर विल बी ब्लड -

    "देयर विल बी ब्लड" 2007 में आज ही के दिन आयी थी, जिसे पॉल थॉमस एंडरसन द्वारा लिखा और निर्देशित किया गया था। इस फ़िल्म की कहानी थोड़ी-बहुत अप्टन सिंक्लेयर द्वारा लिखी गयी किताब ऑइल! पर आधारित है, जो 20वीं सदी की शुरुआत में दक्षिणी कैलिफ़ोर्निया के ऑइल बूम के बारे में बताती है। कहा जाता है कि इस फ़िल्म को लिखते समय कहानी के लिए असली प्रेरणा पाने के लिए एंडरसन ने बेकर्सफिल्ड में तेल संग्रहालयों का दौरा किया था। उन्होंने बताया कि उन्होंने अभिनेता डेनियल डे-लुईस को दिमाग में रखकर मुख्य किरदार की भूमिका लिखी थी। डेनियल प्लेनव्यू के चित्रण के लिए डे-लुईस ने 2008 का सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का अकादमी पुरस्कार जीता था, और एंडरसन को सर्वश्रेष्ठ निर्देशक और सर्वश्रेष्ठ अनुकूलित पटकथा के लिए नॉमिनेट किया गया था, साथ ही इस फ़िल्म को पांच और नॉमिनेशन मिले थे जो कुल मिलाकर आठ होते हैं।

  • इतिहास में इस दिन

    द लॉर्ड ऑफ़ द रिंग्स:
    द फ़ेलोशिप ऑफ़ द रिंग

    पटकथा

    • फ्रान वाल्श
    • फिलिपा बॉयेंस
    • पीटर जैक्सन

    द लॉर्ड ऑफ़ द रिंग्स: द फ़ेलोशिप ऑफ़ द रिंग -

    "द लॉर्ड ऑफ़ द रिंग्स: द फ़ेलोशिप ऑफ़ द रिंग" 18 साल पहले आज ही के दिन रिलीज़ हुई थी। इस फ़िल्म की लेखन टीम, फ्रान वाल्श, फिलिपा बॉयेंस, और पीटर जैक्सन, द्वारा बुक ट्राइलॉजी से ली गयी कहानी को काफ़ी छोटे में पेश किया गया था। इसकी वजह से पटकथा को ज़्यादा सुचारु बनाने के लिए कुछ चीज़ों को कालानुक्रमिक रूप से बदलना पड़ा था। जे.आर.आर. टोल्किन की असली किताब ट्राइलॉजी के रूप में नहीं लिखी गयी थी, लेकिन प्रकाशकों ने इसे तीन भागों में बाँट दिया था, इसलिए सीरीज़ की पहली किताब को अच्छा अंत नहीं मिला था, जिसे फ़िल्म के लिए बदलना पड़ा था। इस फ़िल्म को आज तक की सबसे अच्छी फैंटसी फ़िल्मों में से एक माना जाता है।

  • इतिहास में इस दिन

    वॉल स्ट्रीट

    पटकथा

    • स्टेनली वेज़र
    • ओलिवर स्टोन

    वॉल स्ट्रीट -

    ओलिवर स्टोन और स्टेनली वेज़र की, “वॉल स्ट्रीट” 1987 में आज ही के दिन आयी थी। यह 80 के दशक के वॉल स्ट्रीट पर आधारित है, जिसका मुख्य किरदार गॉर्डोन गेक्को, ख़ुद स्टोन सहित कई लोगों पर आधारित था। मूल रूप से, स्टोन ने क्विज़ शो के घोटालों के बारे में पटकथा लिखने के लिए वेज़र को शामिल किया था, लेकिन बाद में उन्होंने वेज़र को वॉल स्ट्रीट का अध्ययन करके इसपर एक पटकथा लिखने का सुझाव दिया। वेज़र ने पहला ड्राफ्ट लिखा, और स्टोन ने दूसरा। ऐतिहासिक सटीकता के लिए, उन दोनों ने कई हफ़्तों तक ब्रोकरेज हाउस में निवेशकों का साक्षात्कार लिया। गॉर्डोन गेक्को के किरदार के लिए माइकल डगलस को उस साल का सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का अकादमी पुरस्कार मिला था।

  • इतिहास में इस दिन

    द गॉडफादर:
    पार्ट II

    पटकथा

    • फ्रांसिस फोर्ड कोपोला
    • मारियो पूज़ो

    द गॉडफादर: पार्ट II -

    अकादमी पुरस्कारों में सर्वश्रेष्ठ पिक्चर का पुरस्कार जीतने वाली पहली सीक्वल "द गॉडफादर: पार्ट II" की पटकथा फ्रांसिस फोर्ड कोपोला और मारियो पूज़ो ने लिखी थी, जिसके कुछ हिस्से पूज़ो के उपन्यास "द गॉडफादर" से लिए गए थे। इस फ़िल्म ने उस साल का सर्वश्रेष्ठ अनुकूलित पटकथा, सर्वश्रेष्ठ निर्देशक, और सर्वश्रेष्ठ सहायक कलाकार का पुरस्कार जीता था। कुछ समीक्षकों का कहना है कि यह फ़िल्म पहली फ़िल्म से भी ज़्यादा अच्छी है। इस फ़िल्म की पटकथा अपने आप में काफ़ी अलग है क्योंकि इसमें सीक्वल और प्रीक्वल दोनों दिखाए गए हैं, जो पिता के राज में अपराध की दुनिया में परिवार की तरक्की, और बेटे के राज में परिवार के पतन दोनों की कहानी साथ-साथ बताती है।

  • इतिहास में इस दिन

    रेन मैन

    पटकथा

    • रोनाल्ड बास
    • बैरी मोरो

    रेन मैन -

    रोनाल्ड बास और बैरी मोरो द्वारा लिखी गयी "रेन मैन" ने अकादमी पुरस्कारों में सर्वश्रेष्ठ मूल पटकथा, सर्वश्रेष्ठ पिक्चर, सर्वश्रेष्ठ निर्देशक, और सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार जीता था, और 1988 की सबसे ज़्यादा कमाई करने वाली फ़िल्म बनी थी। यह दो भाइयों की कहानी है, जिनमें से एक ऑटिस्टिक है और उसे अपने पिता की सारी जायदाद मिलती है, और वहीं दूसरे भाई को उसके होने के बारे में कुछ पता नहीं रहता। इस फ़िल्म को केवल अपनी पिच की वजह से मंज़ूरी मिली थी।

  • इतिहास में इस दिन

    अ ब्यूटीफुल
    माइंड

    पटकथा

    • अकीवा गोल्ड्समैन
    • सिल्विया नासर

    अ ब्यूटीफुल माइंड -

    "अ ब्यूटीफुल माइंड" इसी नाम की किताब पर आधारित है, जिसे सिल्विया नासर ने लिखा है। अकीवा गोल्ड्समैन ने फ़िल्म में अर्थशास्त्र के नोबेल पुरस्कार विजेता जॉन नैश की कहानी को दिखाया है। पटकथा लिखने के लिए बेहद जुनूनी होने के कारण निर्माता ब्रायन ग्रेजर ने गोल्ड्समैन को इसकी पटकथा लिखने के लिए चुना था। यह उनका ही आईडिया था कि दर्शकों को फ़िल्म में एक निश्चित मोड़ आने से पहले तक यह पता न चले कि वो एक वास्तविक चीज़ देख रहे हैं। इसके लिए गोल्ड्समैन को सर्वश्रेष्ठ अनुकूलित पटकथा का ऑस्कर पुरस्कार मिला था, और साथ ही इस फ़िल्म ने उस साल सर्वश्रेष्ठ पिक्चर, सर्वश्रेष्ठ निर्देशक, और सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री के लिए भी पुरस्कार जीते थे।

  • इतिहास में इस दिन

    द एविएटर

    पटकथा

    • जॉन लोगन

    द एविएटर -

    जॉन लोगन द्वारा लिखित और मार्टिन स्कॉर्सेस द्वारा निर्देशित "द एविएटर", एविएटर और फिल्म निर्माता हॉवर्ड ह्यूजेस की सच्ची कहानी पर आधारित है, जिसमें उनके सफलता की ऊंचाई तक पहुंचने और आंतरिक रूप से अपने ऑब्सेसिव-कंपल्सिव डिसऑर्डर के साथ जूझने के बारे में बताया गया है। इस कहानी के लिए लोगन को सर्वश्रेष्ठ मूल पटकथा का ऑस्कर नॉमिनेशन मिला था, और उस साल फ़िल्म को दस और अकादमी पुरस्कारों के लिए नॉमिनेट किया गया था। तथाकथित तौर पर, लोगन के एजेंट ने "द एविएटर" के अनुबंध में एक प्रावधान लिखा था, जिसने तय किया कि लोगन को फ़िल्म लिखने का पूरा श्रेय दिया जाए। इसकी वजह से लोगन के असली काम को संशोधित करने के लिए निर्माता दूसरे लेखकों को भी काम पर नहीं रख पाए थे।

  • इतिहास में इस दिन

    फिलाडेल्फिया

    पटकथा

    • रॉन निस्वानर

    फिलाडेल्फिया -

    "फिलाडेल्फिया" को बॉक्स ऑफिस पर बहुत बड़ी सफलता हासिल हुई थी, और $26 मिलियन के बजट में बनी इस फ़िल्म ने $206 मिलियन से भी ज़्यादा की कमाई की थी। रॉन निस्वानर की इस पटकथा की कहानी अधिवक्ताओं, जॉफ्री बोवर्स और क्लैरेंस बी कैन, के जीवन पर आधारित थी। रोजर एबर्ट ने इस फ़िल्म की प्रशंसा करते हुए इसे चार में से साढ़े तीन स्टार दिए थे और कहा था कि यह फ़िल्म एड्स की समझ को व्यापक बनाने में मदद कर सकती है। निस्वानर खुले तौर पर गे हैं और गे अधिकारों के समर्थक हैं, उन्होंने होमोफोबिया और एड्स जैसे विषयों पर बनी कई परियोजनाओं पर काम किया है। "फिलाडेल्फिया" को सर्वश्रेष्ठ मूल पटकथा के ऑस्कर के लिए नॉमिनेट किया गया था, लेकिन इसे सर्वश्रेष्ठ अभिनेता और सर्वश्रेष्ठ मूल गीत के लिए ऑस्कर पुरस्कार मिले थे।

  • इतिहास में इस दिन

    ग्लोरी

    पटकथा

    • केविन जर्रे

    ग्लोरी -

    केविन जर्रे द्वारा लिखित और एडवर्ड ज़्विक द्वारा निर्देशित "ग्लोरी," एक सिविल वॉर की कहानी है, जो 54वीं मैसाचुसेट्स इन्फैंट्री रेजिमेंट की सच्ची कहानी पर आधारित है। यह फ़िल्म युद्ध में सेकंड अफ्रीकी अमेरिकी रेजिमेंट और फोर्ट वैगनर के दूसरे युद्ध में उनके साहस की कहानी बताती है। जर्रे इस यूनिट का स्मारक देखने गए थे और वहीं से उन्हें यह फ़िल्म लिखने की प्रेरणा मिली। उन्होंने इसे दो अलग-अलग ऐतिहासिक किताबों, साथ ही रेजिमेंट के कमांडिंग ऑफिसर, कर्नल रॉबर्ट गोल्ड शॉ, के व्यक्तिगत पत्रों के आधार पर लिखा था। ऐसा कहा जाता है कि यह फ़िल्म ऐसी पहली अमेरिकी फिल्म है जो अश्वेत अमेरिकी सैनिकों की स्वतंत्रता की लड़ाई की कहानी पर केंद्रित है।

  • इतिहास में इस दिन

    यंग
            फ्रेंकस्टीन

    पटकथा

    • जीन वाइल्डर
    • मेल ब्रूक्स

    यंग फ्रेंकस्टीन -

    जीन वाइल्डर और मेल ब्रूक्स द्वारा लिखी गयी, "यंग फ्रेंकस्टीन" मैरी शेली की डरावनी कहानी "फ्रेंकस्टीन" का कॉमेडिक रूप है। इसे कई सर्वश्रेष्ठ कॉमेडी सूचियों में रखा गया है और लाइब्रेरी ऑफ़ कांग्रेस नेशनल फ़िल्म रजिस्ट्री में संरक्षण के लिए भी चुना गया है। वाइल्डर के दिमाग में विक्टर फ्रेंकस्टीन के पोते के बारे में एक कहानी का आईडिया आया, कि अगर उसे अपने दादा का शोध और प्रयोगशाला मिल जाता लेकिन वो इनका कुछ नहीं करना चाहता तो क्या होता। उन्होंने और ब्रुक्स ने इस फ़िल्म की पटकथा अपने बेल एयर होटल के बंगले में एक साथ मिलकर पूरी की थी।

  • इतिहास में इस दिन

    अवतार

    पटकथा

    • जेम्स कैमेरॉन

    अवतार -

    स्पेशल इफेक्ट्स की संभावनाओं, नवी भाषा, और बॉक्स ऑफिस की सफलता सहित, जेम्स कैमेरॉन की "अवतार" कई कारणों से एक क्रांतिकारी फ़िल्म थी। इस फ़िल्म के साथ दुनिया भर में $2.7 बिलियन से ज़्यादा की कमाई करके कैमेरॉन ने "टाइटैनिक" का अपना बॉक्स ऑफिस रिकॉर्ड तोड़ दिया था। उन्हें इस फ़िल्म का शुरूआती आईडिया 90 के दशक के अंत में आया था लेकिन उन्होंने स्पेशल इफेक्ट्स की तकनीक एडवांस्ड होने तक यह फ़िल्म न बनाने का फैसला किया। उन्होंने USC के एक भाषाविद् के साथ काम करके नवी के 1,000 से भी ज़्यादा शब्द विकसित किये ताकि वो इसे अपनी पटकथा में इस्तेमाल कर सकें। कैमेरॉन 2021 में अवतार 2 और इसके बाद 2023 में अवतार 3 रिलीज़ करने वाले हैं।

  • इतिहास में इस दिन

    जेम्स
        मैंगोल्ड

    • जन्मदिन मुबारक हो!

    जेम्स मैंगोल्ड -

    जन्मदिन मुबारक हो, जेम्स मैंगोल्ड! हम शानदार फ़िल्मों की पटकथाएं लिखने के लिए मैंगोल्ड के शुक्रगुज़ार हैं, जिनमें "कॉप लैंड", "गर्ल इंटरप्टेड," "केट एंड लियोपोल्ड," और "वॉक द लाइन" शामिल हैं। इस साल आयी "फोर्ड वी फेरारी" सहित उन्होंने कई फ़िल्मों का निर्देशन भी किया है। 2017 में मार्वल कॉमिक्स पर आधारित "लोगन" फ़िल्म की पटकथा लिखने के लिए मैंगोल्ड को उस साल सर्वश्रेष्ठ अनुकूलित पटकथा के लिए नॉमिनेट किया गया था।

  • इतिहास में इस दिन

    मैगनोलिया

    पटकथा

    • पॉल थॉमस एंडरसन

    मैगनोलिया -

    "मैगनोलिया" 20 साल पहले आज ही के दिन आयी थी। इस फ़िल्म को पॉल थॉमस एंडरसन ने लिखा, निर्देशित, और सह-निर्मित किया था। "बूगी नाइट्स" के निर्माण के बाद का काम पूरा करते समय उन्हें इसकी कहानी लिखने की प्रेरणा मिली। पटकथा लिखना शुरू करने से पहले ही उनके दिमाग में "मैगनोलिया" नाम मौजूद था। "बूगी नाइट्स" की अपार सफलता के बाद न्यू लाइन सिनेमा ने उन्हें अपनी मर्ज़ी से जैसी चाहे वैसी फ़िल्म बनाने की अनुमति दे दी थी। उन्होंने बताया कि वो ऐमी मैन के संगीत से काफ़ी ज़्यादा प्रेरित थे, और उन्होंने अपनी पटकथा में उनके गीत के कुछ बोल भी शामिल किये थे।

  • इतिहास में इस दिन

    द सिम्पसंस

    निर्माता

    • जेम्स एल. ब्रूक्स
    • मैट ग्रोनिंग
    • सैम साइमन

    द सिम्पसंस -

    मैट ग्रोनिंग, सैम साइमन, और जेम्स एल. ब्रूक्स द्वारा निर्मित "द सिम्पसंस" के लिए पिछले कई सालों के दौरान कई दर्ज़न लेखकों को काम पर रखा गया है, जिनमें कॉनन ओ'ब्रायन, रिकी जर्विस, सीठ रोगन और एली गोल्डबर्ग जैसी मशहूर हस्तियां भी शामिल हैं। कथित तौर पर, राइटर्स रूम में 16 लेखक शामिल होते हैं जिनमें से सभी साल में एक बार अपने आईडिया पर पिच देते हैं, इसके बाद हर एपिसोड के लिए एक लेखक को पहला ड्राफ्ट लिखने का काम सौंपा जाता है। इसके बाद, सामूहिक रीराइटिंग सत्रों की शुरुआत होती है। आज तक 671 एपिसोड के साथ, "द सिम्पसंस" सबसे लम्बे समय तक चलने वाला अमेरिकी सिटकॉम और स्क्रिप्टेड टेलीविज़न सीरीज है। इस समय इसका 31वां सीज़न चल रहा है।

  • इतिहास में इस दिन

    बैरी लिंडन

    पटकथा

    • स्टैनले कब्रिक

    बैरी लिंडन -

    "बैरी लिंडन" स्टैनले कब्रिक ने लिखी और निर्देशित की थी, और इसे उनकी सबसे महत्वपूर्ण उपलब्धियों में से एक माना जाता है। इसकी कहानी विलियम थेकरे की "द लक ऑफ़ बैरी लिंडन" उपन्यास पर आधारित है जिसमें एक आयरिश धोखेबाज़ आदमी एक अमीर विधवा से शादी कर लेता है ताकि वो उसके पहले पति का ऊँचा स्टेटस हासिल कर सके। अपनी सेटिंग (विलियम हॉगर्थ की पेंटिंग पर आधारित) और प्राकृतिक कैंडललाइट के इस्तेमाल के लिए समीक्षकों ने इस फ़िल्म की सिनेमैटोग्राफी को "अभूतपूर्व" बताया था।

  • इतिहास में इस दिन

    स्क्रीम

    पटकथा

    • केविन विलियम्सन

    स्क्रीम -

    केविन विलियम्सन की "स्क्रीम" को 90 के दशक के मध्य में हॉरर शैली को वापस जीवनदान देने का श्रेय दिया जाता है, क्योंकि उस दौरान दूसरी हॉरर फ़िल्में सीधे वीडियो पर आती थीं और ज़्यादा कमाई नहीं कर पाती थीं। उस समय विलियम्सन खुद भी काफ़ी पैसे नहीं कमाते थे और कहा जाता है कि इसकी पटकथा लिखने के लिए उन्होंने पाम स्प्रिंग्स के एक घर में तीन दिन तक ख़ुद को बंद कर लिया था, और वो उम्मीद कर रहे थे कि इसे बेचकर वो अपने बिल भरने के लिए थोड़े पैसे कमा पाएंगे। उन्होंने यह सोचकर आगे के दो सीक्वल की रूपरेखा भी तैयार की थी, ताकि वो खरीदारों को मना पाएं कि उनकी कहानी में दम है। हालाँकि, विलियम्सन के एजेंट ने उन्हें बताया कि उनकी पटकथा बहुत भयानक है और इसलिए इसे बेचना मुमक़िन नहीं होगा, लेकिन मीरामैक्स को ऐसा नहीं लगा और उन्होंने इसे खरीद लिया। दिसंबर, 1996 में "स्क्रीम" को सीमित मात्रा में सिनेमाघरों में रिलीज़ किया गया, और अगले साल अप्रैल में दोबारा रिलीज़ होने के बाद इसने $170 मिलियन से ज़्यादा की कमाई की, जबकि इसका बजट केवल $15 मिलियन था।

  • इतिहास में इस दिन

    अ क्लॉकवर्क
         ऑरेंज

    पटकथा

    • स्टैनले कब्रिक

    अ क्लॉकवर्क ऑरेंज -

    स्टैनले कब्रिक ने "अ क्लॉकवर्क ऑरेंज" लिखी, निर्मित, और निर्देशित की थी, जिसकी कहानी उन्होंने एंथोनी बर्गेस के उसी नाम के उपन्यास से ली थी। हालाँकि, इस उपन्यास के अमेरिकी प्रकाशन में आख़िरी अध्याय गायब था, इसलिए बर्गेस को लगा कि फ़िल्म ट्रीटमेंट को अच्छा अंत नहीं मिला है। रिलीज़ होने के बाद इस फ़िल्म को X रेटिंग दी गयी थी, इसलिए कब्रिक ने रेटिंग कम करने के लिए उन फुटेज को बदल दिया जिसकी वजह से फ़िल्म को X रेटिंग मिली थी। आगे चलकर बॉक्स ऑफिस पर इसे बड़ी सफलता मिली और उस साल के अकादमी पुरस्कारों में इसे सर्वश्रेष्ठ पिक्चर के लिए नॉमिनेट किया गया।

  • इतिहास में इस दिन

    प्लाटून

    पटकथा

    • ओलिवर स्टोन

    प्लाटून -

    ओलिवर स्टोन ने वियतनाम युद्ध में अपने अनुभव के आधार पर "प्लाटून" की पटकथा लिखी थी। यह वियतनाम युद्ध पर बनी फ़िल्मों की ट्राइलॉजी में पहली फ़िल्म थी और साथ ही ऐसी पहली यूएस फ़िल्म थी जिसे किसी वियतनाम के सैनिक ने लिखा और निर्देशित किया था। स्टोन ने वियतनाम से घर लौटने के थोड़े समय बाद ही एक पटकथा लिखी थी, और हालाँकि उस समय यह नहीं बन पायी, लेकिन सालों बाद इसने "प्लाटून" के लिए नींव तैयार की। इस फ़िल्म को सर्वश्रेष्ठ पिक्चर, सर्वश्रेष्ठ निर्देशक, सर्वश्रेष्ठ साउंड, और सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म एडिटिंग के लिए ऑस्कर पुरस्कारों से नवाज़ा गया।

  • इतिहास में इस दिन

    इट्स अ वंडरफुल
       लाइफ

    पटकथा

    • फ्रांसिस गुडरिच
    • अल्बर्ट हैकेट
    • फ्रैंक कैप्रा

    इट्स अ वंडरफुल लाइफ -

    कइयों के लिए छुट्टियों की परंपरा बन चुकी फ़िल्म "इट्स अ वंडरफुल लाइफ" 73 साल पहले आज ही के दिन आई थी। फ्रैंक कैप्रा, फ्रांसिस गुडरिच, और अल्बर्ट हैकेट ने इसकी पटकथा फिलिप वान डोरेन स्टर्न की "द ग्रेटेस्ट गिफ्ट" शॉर्ट स्टोरी के आधार पर लिखी थी। प्रकाशकों ने वान डोरेन की असली कहानी को नकार दिया था, इसलिए उन्होंने ख़ुद ही इसकी 200 कॉपियां प्रिंट करवाकर अपने दोस्तों और परिवार में बाँट दी थीं। आख़िरकार, एक दिन ये कहानी कैप्रा को मिली, और बाकी अब इतिहास है। इस फिल्म को आज तक की 100 सबसे अच्छी अमेरिकी फ़िल्मों में से एक माना जाता है।

  • इतिहास में इस दिन

        वंस अपॉन अ टाइम
    इन द वेस्ट

    पटकथा

    • सर्जियो डोनाटी
    • सर्जियो लियॉन

    वंस अपॉन अ टाइम इन द वेस्ट -

    सर्जियो डोनाटी और सर्जियो लियोन की "वंस अपॉन अ टाइम इन द वेस्ट" एक इटैलियन वेस्टर्न फिल्म है, जिसे स्पेगेटी वेस्टर्न के रूप में भी जाना जाता है। लियॉन ने इस फिल्म का निर्देशन भी किया था, और धीमी गति और उदासी भरे थीम सहित, उनकी सिग्नेचर स्टाइल पूरी फ़िल्म में देखी जा सकती है। रिलीज़ के समय इसे बहुत अच्छी समीक्षा नहीं मिली थी लेकिन बाद के सालों में यह फ़िल्म कल्ट हिट बन गयी। क्वेंटिन टारनटिनो और जॉर्ज लुकास सहित, कई बेहतरीन फ़िल्म निर्माताओं ने बताया कि इस फ़िल्म ने उनकी परियोजनाओं को प्रभावित किया था। आगे चलकर, इसे टाइम मैगज़ीन की आज तक की 100 सबसे महान फ़िल्मों में से एक के रूप में दर्ज़ किया गया।

  • इतिहास में इस दिन

    लॉरेन्स ऑफ़
    अरबिया

    पटकथा

    • टी.ई. लॉरेंस
    • रॉबर्ट बोल्ट
    • माइकल विल्सन

    लॉरेन्स ऑफ़ अरबिया -

    अपनी शानदार कहानी, अभिनय, और सिनेमैटोग्राफी की वजह से "लॉरेन्स ऑफ़ अरबिया" को सिनेमा के इतिहास में एक महत्वपूर्ण फ़िल्म माना जाता है। मेटाक्रिटिक पर इसे बहुत अच्छा स्कोर मिला है और इसे कई सर्वश्रेष्ठ फ़िल्मों वाली सूचियों में भी शामिल किया गया है। सबसे पहले माइकल विल्सन ने यह फ़िल्म लिखी थी, लेकिन किरदार के बजाय ऐतिहासिक घटनाओं पर फोकस करने के कारण निर्देशक डेविड लीन इससे ख़ुश नहीं थे। टी.ई. लॉरेंस के चरित्र पर ज़्यादा फोकस करने के लिए रॉबर्ट बोल्ट ने इसकी पटकथा दोबारा लिखी, साथ ही उन्होंने फ़िल्म के लगभग सारे संवाद भी ख़ुद ही लिखे थे।

  • इतिहास में इस दिन

    द ग्रेजुएट

    पटकथा

    • कैल्डर विलिंगम
    • बक हेनरी

    द ग्रेजुएट -

    1967 में "द ग्रेजुएट" आज ही के दिन आयी थी और रोजर एबर्ट ने इसे उस साल की सबसे मज़ेदार अमेरिकी कॉमेडी फ़िल्म बताया था। कैल्डर विलिंगम और बक हेनरी द्वारा लिखी गयी इस फ़िल्म की कहानी एक नए कॉलेज ग्रेजुएट पर आधारित है जिसे उसी लड़की से प्यार हो जाता है जिसकी माँ उसे लुभाने की कोशिश करती है। इस फ़िल्म को बॉक्स ऑफिस पर बड़ी सफलता मिली थी, और अमेरिकी फ़िल्म संस्थान के "100 साल … 100 फ़िल्म" की सूची में यह 17वें पायदान पर स्थित है। इसे ऑस्कर में सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का पुरस्कार मिला था और इसे छह और श्रेणियों में नॉमिनेट किया गया था।

  • इतिहास में इस दिन

    द थिन
       रेड लाइन

    पटकथा

    • टेरेंस मैलिक

    द थिन रेड लाइन -

    लेखक और निर्देशक टेरेंस मैलिक ने "द थिन रेड लाइन" के साथ 20 साल के अंतराल के बाद फ़िल्म निर्माण में वापसी की थी। इसकी कहानी काल्पनिक है लेकिन इसका कथानक दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान माउंट ऑस्टेन के असली युद्ध के दौरान रखा गया है। यह इसी नाम की किताब पर आधारित है, जिसे जेम्स जोंस ने लिखा है। मैलिक को इस फ़िल्म की पटकथा लिखने में पांच महीने का समय लगा, जिसके लिए निर्माताओं ने उन्हें $250,000 दिए थे।

  • इतिहास में इस दिन

    डर्टी हैरी

    पटकथा

    • हैरी जूलियन फिंक
    • रीटा एम. फिंक
    • डीन रिज़नर

    डर्टी हैरी -

    पति-पत्नी की टीम हैरी और रीटा फिंक साथ ही साथ डीन रिज़नर (टेरेंस मैलिक और जॉन मिलियस सहित जिन्हें इसका श्रेय नहीं मिला) द्वारा लिखी गयी "डर्टी हैरी" में क्लिंट ईस्टवूड ने एक बेरहम पुलिस का किरदार निभाया है, जो एक पागल हत्यारे को पकड़ने की पुरज़ोर कोशिश में रहते हैं। इस फ़िल्म को नियो-नोयर एक्शन थ्रिलर माना जाता है और यह कानून प्रवर्तन फ़िल्मों की एक नयी शैली की शुरुआत करने के लिए भी मशहूर है। फ़िल्म में उठाये जाने वाले सवालों को लेकर इसकी आलोचना और सराहना दोनों की जाती है: सुरक्षा बनाये रखने के लिए कानून कितना आगे तक जा सकता है?

  • इतिहास में इस दिन

    गुड मॉर्निंग
         वियतनाम

    पटकथा

    • मिच मार्कोविट्ज़

    गुड मॉर्निंग वियतनाम -

    अमेरिकी फ़िल्म संस्थान द्वारा अमेरिका की 100 सबसे मज़ेदार फ़िल्मों में से एक के रूप में दर्ज़, "गुड मॉर्निंग वियतनाम," एक कॉमेडिक वॉर फ़िल्म है जिसे मिच मार्कोविट्ज़ ने लिखा था और रॉबिन विलियम्स ने इसमें अभिनय किया है। मार्कोविट्ज़ ने इस फ़िल्म की पटकथा अमेरिकी बल के रेडियो सर्विस डी.जे., एड्रियन क्रोनॉर, की वास्तविक जीवन की कहानी के आधार पर लिखी थी, हालाँकि यह कभी भी बिल्कुल सच्ची कहानी नहीं बनने वाली थी। निर्माण के दौरान विलियम्स ने इसकी बहुत सारी लाइनों में बदलाव किये थे। असली स्टोरी ट्रीटमेंट लिखने वाले, क्रोनॉर, ने बताया कि वो फ़िल्म से काफ़ी ख़ुश थे।

  • इतिहास में इस दिन

    अरिस्टोकैट्स

    पटकथा

    • केन एंडरसन, फ्रैंक थॉमस
    • लैरी क्लीम्न्स, वेंस गेरी
    • एरिक क्लेवर्थ, जूलियस स्वेनडसन, राल्फ राइट

    अरिस्टोकैट्स -

    "अरिस्टोकैट्स" वो आख़िरी फ़िल्म थी जिसे 1966 में वॉल्ट डिज्नी ने अपनी मौत से पहले मंज़ूरी दी थी। इस फ़िल्म के लिए सात लोगों को पटकथा में योगदान देने का श्रेय दिया गया है, और "नाइन ओल्ड मेन" (स्टूडियो के सबसे लंबे समय तक रहने वाले मुख्य एनिमेटर) में से असली पांच ने इस कहानी को पर्दे पर लाने में मदद की थी। केन एंडरसन, फ्रैंक थॉमस, लैरी क्लीम्न्स, वेंस गेरी, एरिक क्लेवर्थ, जूलियस स्वेनडसन और राल्फ राइट द्वारा लिखी गयी पटकथा को मूल रूप से वॉल्ट डिज्नी के वंडरफुल वर्ल्ड ऑफ़ कलर के लिए एक लाइव-एक्शन एपिसोड के रूप में प्रदर्शित किया जाने वाला था। लेकिन, पटकथा को कई बार दोबारा लिखने के बाद, डिज्नी को लगा कि इसकी कहानी एनीमेशन के लिए ज़्यादा ठीक रहेगी और इसलिए "द जंगल बुक" पूरी होने के थोड़े समय बाद इस परियोजना को हरी झंडी मिल गयी।

  • इतिहास में इस दिन

         टू किल
    अ मॉकिंगबर्ड

    पटकथा

    • हॉर्टन फूट

    टू किल अ मॉकिंगबर्ड -

    पटकथा लेखक हॉर्टन फूट ने इस फ़िल्म की कहानी हार्पर ली की "टू किल अ मॉकिंगबर्ड" से ली थी, जिसे लॉस एंजेल्स में आज ही के दिन दिखाया गया था। इस फ़िल्म ने अकादमी पुरस्कारों में सर्वश्रेष्ठ अनुकूलित पटकथा, सर्वर्श्रेष्ठ अभिनेता और, सर्वश्रेष्ठ कला निर्देशक के लिए ऑस्कर पुरस्कार जीते थे। फ़िल्म में बू रैडली के रूप में रॉबर्ट डुवैल के डेब्यू के लिए भी फूट ही जिम्मेदार थे, जिनसे वो न्यूयॉर्क सिटी के एक प्लेहाउस में मिले थे। उन्होंने इस भूमिका के लिए डुवैल का सुझाव दिया था। कई और कथात्मक उपलब्धियों के बाद, आगे चलकर लगभग 40 साल बाद फूट को यूएस नेशनल मेडल ऑफ़ आर्ट्स का सम्मान प्रदान किया गया।

  • इतिहास में इस दिन

    द एक्सॉर्सिस्ट

    पटकथा

    • विलियम पीटर ब्लेटी

    द एक्सॉर्सिस्ट -

    विलियम पीटर ब्लेटी ने अपने इसी नाम के उपन्यास के आधार पर "द एक्सॉर्सिस्ट" की पटकथा तैयार की थी। अब इसे आज तक की सबसे अच्छी हॉरर फ़िल्मों में से एक माना जाता है और लाइब्रेरी ऑफ़ कांग्रेस द्वारा नेशनल फ़िल्म रजिस्ट्री में भी रखा गया है। ब्लेटी ने बताया कि इसकी कहानी रोलैंड डो नामक एक लड़के की सच्ची घटनाओं पर आधारित है, जिसका परिवार यह मान चुका था कि उसपर शैतान का साया है। उन्होंने बताया कि घटना के साक्षी लोगों ने फ़िल्म में दिखाई गयी ज़्यादातर घटनाओं का सत्यापन किया है। कहानी के लिए रोलैंड डो का लिंग और उम्र बदल दिया गया था। इस फ़िल्म को सर्वश्रेष्ठ पटकथा का अकादमी पुरस्कार मिला था।

  • इतिहास में इस दिन

    शिकागो

    पटकथा

    • बिल कॉन्डन

    शिकागो -

    बिल कॉन्डन ने म्यूज़िकल फ़िल्म "शिकागो" की पटकथा एक नाटक के आधार पर लिखी थी, जिसे उन्होंने दशकों पहले देखा था। वो बचपन से ही ब्रॉडवे कार्यक्रमों के प्रशंसक थे, लेकिन "शिकागो" उनकी पहली म्यूज़िकल फ़िल्म थी जिसने साबित कर दिया कि वो फ़िल्मों के लिए ही बने थे। उन्हें म्यूज़िकल दृश्यों को भरोसा करने लायक बनाने में कठिनाई आ रही थी, लेकिन तभी उन्हें डेनिस पॉटर की "पेनीज़ फ्रॉम हेवन" में इस्तेमाल की गयी एक डिवाइस से प्रेरणा मिली, और उन्हें समझ आ गया। उन्होंने म्यूज़िकल दृश्यों को रॉक्सी हार्ट की कल्पना का हिस्सा बना दिया। इस फ़िल्म को अपार सफलता मिली थी, और सर्वश्रेष्ठ पिक्चर सहित इसने छह ऑस्कर पुरस्कार जीते थे। इस फ़िल्म ने म्यूज़िकल फ़िल्म की शैली में दुनिया की रूचि वापस जगाई और कॉन्डन ने पिछले दो दशकों के समय में कई म्यूज़िकल फ़िल्मों का निर्माण किया है।

  • इतिहास में इस दिन

    स्टैन ली

    • 97 साल पहले पैदा हुए

    स्टैन ली -

    हल्क, एक्स-मेन, ब्लैक विडो, ब्लैक पैंथर, एंट-मैन सहित कॉमिक बुक्स के कई सारे सुपरहीरोज के पीछे की रचनात्मक शक्ति, स्टैन ली, आज 97 साल के होते। दो दशकों के दौरान ली ने मार्वल कॉमिक्स को उस विशाल मीडिया कंपनी में तब्दील किया जिसे आज हम जानते हैं। उनके निर्देशन में, मार्वल ने ऐसे चरित्रों का निर्माण किया, जिनमें कमियां थीं और जिन्हें अपनी समस्याओं को दूर करने के लिए मजबूर होना पड़ा। उन्हें लेखक के अलावा उन सभी लोगों को क्रेडिट देने के लिए भी जाना जाता था, जो किसी कॉमिक बुक को पूरा करना संभव बनाते थे। पिछले साल उनका देहांत हो गया था। 2008 में ली को नेशनल मेडल ऑफ़ आर्ट्स से नवाज़ा गया था।

  • इतिहास में इस दिन

    अगरे,
    द रैथ ऑफ़ गॉड

    पटकथा

    • वर्नर हेर्ज़ोग

    अगरे, द रैथ ऑफ़ गॉड -

    वर्नर हेर्ज़ोग ने "अगरे, द रैथ ऑफ़ गॉड" लिखी और निर्देशित की थी और जर्मनी में टेलीविज़न और सिनेमाघरों में इस फ़िल्म को लगभग एक ही समय पर दिखाया गया था। बाद में इसे यूके और यूएस में रिलीज़ किया गया, जहाँ लोगों ने इसे बहुत पसंद किया और इसके प्रशंसकों का अपना एक विशेष वर्ग था। हेर्ज़ोग को लोप डे अगरे के बारे में एक कहानी पढ़ने के बाद इसकी पटकथा लिखने की प्रेरणा मिली, हालाँकि, कहानी के ज़्यादातर विवरण काल्पनिक थे। कहा जाता है कि उन्होंने तीन दिन से भी कम समय में बहुत कम संवादों के साथ इसकी पटकथा पूरी की थी और उस समय वो अपनी फुटबॉल टीम के साथ एक बस ट्रिप पर गए थे। बताया जाता है कि टीम के एक सदस्य के शराब पीकर उनपर उल्टी करने के बाद, उन्हें अपनी पटकथा के कई पन्ने बस के बाहर फेंकने पड़े थे।

  • इतिहास में इस दिन

    इवान द टेरिबल,
                   भाग I

    पटकथा

    • सर्गी एम. आइसेंस्टीन

    इवान द टेरिबल, भाग I -

    सर्गी एम. आइसेंस्टीन ने उस समय के सोवियत प्रीमियर, जोसफ स्टैलिन, के अनुरोध पर "इवान द टेरिबल, भाग I" लिखी और निर्देशित की थी। तथाकथित तौर पर, स्टैलिन रूस के इवान IV को बहुत पसंद करते थे और उन्हें लगता था कि इवान की नेतृत्व शैली उनसे काफ़ी मिलती-जुलती है। इस कहानी में इवान द टेरिबल को राष्ट्रीय नायक के रूप में दिखाया गया था, और स्टैलिन इससे ख़ुश थे। स्टैलिन को भाग II उतना अच्छा नहीं लगा जितना भाग I लगा था, और उन्होंने दस साल से भी ज़्यादा वक़्त तक इसे रिलीज़ नहीं होने दिया क्योंकि इसमें उन्हें इवान का चित्रण अच्छा नहीं लगा था। इसके भाग III को लगभग पूरी तरह से नष्ट कर दिया गया था।

  • इतिहास में इस दिन

    वन फ्रॉगी
       इवनिंग

    कहानी

    • माइकल माल्टीज़

    वन फ्रॉगी इवनिंग -

    "वन फ्रॉगी इवनिंग" माइकल माल्टीज़ की 1955 की एनिमेटेड शॉर्ट फ़िल्म है। मेंढक के गाने के अलावा, इसमें कोई संवाद शामिल नहीं हैं। फ़िल्म में "द मिशिगन रैग" नाम के एक गाने की वजह से निर्देशक चक जोंस ने बाद में उस मेंढक को मिशिगन जे. फ्रॉग नाम दिया। यह फ़िल्म एक ऐसे आदमी के बारे में है जो एक नाचने-गाने वाले मेंढक से पैसे कमाने की कोशिश करता है, लेकिन उसके अलावा कोई और उसका प्रदर्शन नहीं देख सकता। यह फ़िल्म टेक्नीकलर में आयी थी। बाद में, 90 के दशक में यह डब्ल्यू.बी. टेलेविज़न नेटवर्क का शुभंकर प्रतीक बनी।

इस ब्लॉग में छवियों को संशोधित किया गया है, और मूल छवियां Wikimedia Commons में दिखाई गयी हैं।

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

पटकथा में 4 सामान्य संवाद संबंधी समस्याएं

पटकथाएं कसी हुई, सटीक, और पढ़ने में बिलकुल सहज होनी चाहिए। लेकिन कुछ ऐसी संवाद समस्याएं हैं जो किसी भी पटकथा की शुद्धता को खराब कर देती हैं, और सबकुछ पाठक के सिर के ऊपर से चला जाता है। सौभाग्य से, दोबारा लिखने के दौरान इन समस्याओं का पता लगाना आसान होता है। पटकथा की चार सामान्य संवाद समस्याओं के बारे में पढ़िये जिन्हें आप अभी ढूंढ (और ठीक कर) सकते हैं। हमने हाल ही में SoCreate में "गेट राइटिंग" की एक पृष्ठ की पटकथा प्रतियोगिता समाप्त की है, और इसके परिणाम बेहद आकर्षक हैं। जहाँ कुछ लेखकों ने यह शिकायत की कि केवल एक पृष्ठ पर अच्छी तरह से फॉर्मेट किये गए दृश्य को फिट करना बिलकुल असंभव है, वहीं दूसरों ने इसमें शानदार सफलता हासिल की। सफल लेखकों ने बेकार ...

पटकथा में विदेशी भाषा कैसे लिखें

हॉलीवुड, बॉलीवुड, नॉलीवुड … 21वीं सदी में हर जगह फिल्में बन रही हैं। और जैसे-जैसे फिल्म उद्योग बढ़ता है, हमारी और अधिक अलग-अलग आवाज़ें सुनने की इच्छा भी बढ़ती है, भले ही हम उन भाषाओं को नहीं समझते हैं। लेकिन सख्त पटकथा फॉर्मेटिंग के साथ, अपनी कहानी की प्रामाणिकता को बढ़ाने के लिए, और साथ ही इसे पढ़ने योग्य और स्पष्ट बनाने के लिए आप विदेशी भाषा का प्रयोग कैसे करते हैं? डरे नहीं, अपनी पटकथा में विदेशी भाषा के संवाद डालने के कुछ सरल तरीके मौजूद हैं, किसी अनुवाद की जरुरत नहीं। विकल्प 1: जब इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि दर्शक विदेशी भाषा समझता है या नहीं जब दर्शक के लिए यह जरुरी नहीं होता कि वो चरित्र द्वारा बोले जाने वाले संवाद (शायद यह बस दृश्य के लिए टोन सेट कर रहा होता ...

अंक, दृश्य और घटनाक्रम - इनमें से प्रत्येक कितना लम्बा होना चाहिए?

अगर मुझे अपनी पसंदीदा कहावत कहनी हो तो ये यह होगा कि नियम तो टूटने के लिए ही बने होते हैं (ज्यादातर - लेकिन गति सीमाएं इसमें नहीं आती हैं!), लेकिन नियमों को तोड़ने से पहले आपके लिए उनको जानना चाहिए। इसलिए, जैसे-जैसे मैं आपको पटकथा में अंकों, दृश्यों और घटनाक्रमों के समय के बारे में "दिशानिर्देश" देती हूँ इसे दिमाग में रखते जाइये। इन दिशानिर्देशों के होने का एक अच्छा कारण है (बिलकुल गति सीमाओं की तरह 😊) इसलिए इसमें बहुत ज्यादा गलती न करें, नहीं तो बाद में आपको इसका खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। चलिए बिलकुल ऊपर से शुरू करते हैं। एक 90-110-पृष्ठ की पटकथा मानक होती है और इससे डेढ़ से दो घंटे तक की फिल्म बनती है। टीवी नेटवर्क डेढ़ घंटे की फिल्म को ज्यादा पसंद कर सकते हैं ...

टिप्पणियां