पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक विक्टोरिया लूसिया

फैनफिक्शन पटकथा कैसे लिखें

फैनफिक्शन पटकथा कैसे लिखें

"50 शेड्स ऑफ़ ग्रे," "आफ्टर," और "द इम्मोर्टल इंस्ट्रूमेंट्स" इन सबमें एक चीज़ समान है: ये सभी फैनफिक्शन का काम हैं जो आगे चलकर फ़िल्मों में तब्दील हुए! कभी-कभी फैनफिक्शन, फैन फिक्शन, फैनफिक, और फिक के रूप में लिखी गयी, इन कहानियों को फ़िल्म, किताब, या टेलीविज़न शो के रूप में पहले से मौजूद काल्पनिक कार्यों के प्रशंसकों द्वारा निर्मित काल्पनिक लेखन के रूप में परिभाषित किया जा सकता है। आज, मैं आपको बताने वाली हूँ कि अपनी ख़ुद की फैनफिक्शन पटकथा लिखते समय एक पटकथा लेखक को किन चीज़ों पर विचार करना चाहिए।

अपनी जगह पर बने रहें!

SoCreate पटकथा लेखन सॉफ़्टवेयर का पहले ऐक्सेस पाएं। साइन अप करनामुफ़्त है!

फ़िल्म और टेलीविज़न उद्योगों में फैनफिक्शन क्या है?

टेलीविज़न में, आप ख़ुद को स्पेक स्क्रिप्ट लिखते हुए पा सकते हैं, जो वो एपिसोड है जिसे आप वर्तमान में प्रसारित होने वाले टेलीविज़न शो से प्रेरित होकर अपनी कल्पना से लिखते हैं। फ़िल्म में, कोई कहानी किताबों, लेखों, लघु कथाओं, या यहाँ तक कि पुरानी फ़िल्मों से ली जा सकती है।

अभी हाल के वर्षों में, हमने इस बारे में बात करना शुरू किया है कि कितनी सारी "फैनफिक्शन" फ़िल्में बनाई जा रही हैं और हम उन्हें इस रूप में जानते हैं, लेकिन अगर आप इसके बारे में सोचें तो आपको पता लगेगा कि फैनफिक्शन फ़िल्में बहुत लम्बे वक़्त से बनाई जा रही हैं। 90 के दशक की हाई स्कूल फैनफिक “10 थिंग्स आई हेट अबाउट यू” शेक्सपियर के टैमिंग ऑफ़ द श्रू पर आधारित है। "गैलेक्सी क्वेस्ट" "स्टार ट्रेक" से प्रेरित फैनफिक है। और "रिक एंड मोर्टी?" "बैक टू द फ्यूचर" पर आधारित फैनफिक है।

चाहे लोग यह माने या न माने, हमारे हाल के बहुत सारे पॉप कल्चर पसंदीदा पहले से मौजूद कहानियों से बहुत ज़्यादा प्रेरित हैं। एक ऐसी इंडस्ट्री जिसे रिबूट, फ्रैंचाइज़ी, और स्पिन-ऑफ इतना पसंद है, ज़ाहिर तौर पर, हमारे पास ऐसे बहुत सारे काम मौजूद हैं जिन्हें फैनफिक्शन के रूप में बताया जा सकता है।

पब्लिक डोमेन में मौजूद कामों को देखें

अगर आप मेरी तरह हैं, और किसी मौजूदा संपत्ति पर आधारित कोई चीज़ लिखने से संबंधित कानूनी दांव-पेंच से आपका सिर घूमने लगता है तो आप पब्लिक डोमेन में मौजूद किसी चीज़ के आधार पर अपनी पटकथा लिखने पर विचार कर सकते हैं।

"प्राइड एंड प्रेज्यूडिस एंड ज़ॉम्बीज़" को देखें। अगर यह प्राइड एंड प्रेज्यूडिस पर आधारित ज़ोंबी की क़यामत वाला वैकल्पिक ब्रह्माण्ड (जिसे कभी-कभी AU कहा जाता है) फैनफिक नहीं है तो क्या है? चूँकि प्राइड एंड प्रेज्यूडिस 1813 में प्रकाशित हुई थी, इसलिए इसका कॉपीराइट ख़त्म हुए एक लम्बा अरसा बीत चुका है, इसलिए इस ज़ोंबी फैनफिक्शन के लेखक को अपना काम प्रकाशित करने से पहले जेन ऑस्टेन के एस्टेट से अनुमति लेने की ज़रुरत नहीं पड़ी होगी।

पुराने कामों के पब्लिक डोमेन में आने के कुछ तरीके हैं:

  • कॉपीराइट ख़त्म हो गया है

  • कॉपीराइट का मालिक अपना कॉपीराइट दोबारा नया नहीं करवा पाया है

  • कॉपीराइट मालिक ने जानबूझकर इसे पब्लिक डोमेन में रखा है

  • कॉपीराइट कानून उस विशेष तरह का काम सुरक्षित नहीं करता है

पब्लिक डोमेन की लोकप्रिय कृतियों में शेक्सपियर की कहानियां, आर्थर कॉनन डॉयल द्वारा लिखी गयी शेरलॉक होम्स की कहानियां, एफ. स्कॉट फिट्जजेराल्ड की द ग्रेट गैट्सबी, ब्रैम स्टोकर की ड्रैकुला, आदि शामिल हैं। पब्लिक डोमेन में बहुत सारी कहानियां मौजूद हैं और प्रेरणा पाने के लिए उन्हें देखा जा सकता है!

1 जनवरी 2021 तक, 1925 में प्रकाशित किताबें, 1925 में रिलीज़ हुई फ़िल्में और 1925 में प्रकाशित अन्य कृतियाँ पब्लिक डोमेन में प्रवेश करेंगी।

नाम और अन्य संदर्भों को असली से अलग रखें

मान लीजिये आप अपना ख़ुद का फैनफिक्शन लिखने की कोशिश कर रहे हैं। आप किसी लोकप्रिय टीवी सीरीज़ के किरदारों के बारे में लिख रहे हैं, लेकिन अगर आप उस पटकथा के साथ कुछ करना चाहते हैं तो क्या होगा? क्या किसी और की संपत्ति का सन्दर्भ देना और उनके किरदारों को प्रयोग करना ठीक है?

चलिए उदाहरण के तौर पर ई.एल. जेम्स की किताब 50 शेड्स ऑफ़ ग्रे को लेते हैं। यह ट्वाईलाईट के फैनफिक्शन के रूप में लिखी गयी थी और शुरू में इसे बेला और एडवर्ड को एक दूसरी दुनिया में रखकर लिखा गया था, जहाँ एडवर्ड एक अमीर व्यापारी, और बेला एक जवान कॉलेज स्टूडेंट होती है, जिनका आमना-सामना होता है। क़ानूनी कारणों की वजह से, इसमें बदलाव करना पड़ा, और अब हमें प्रकाशित किताब और विभिन्न फ़िल्मों में बेला और एडवर्ड की जगह क्रिश्चियन और अनास्तासिया दिखाई देते हैं।

जहाँ हॉलीवुड हमेशा अगले बड़े आईडिया की तलाश में रहता है, वहीं यह हमेशा चीज़ों को आपस में मिलाने और पुराने को नए में बदलने में भी लगा रहता है। चाहे आप इसे फैनफिक्शन कहें या अनुकूलन, किसी चीज़ से प्रेरित या पहले से मौजूद कामों पर आधारित कहानियां बताना हमेशा से लोकप्रिय रहा है और आगे भी रहेगा। अगर लोग आपसे कहें कि फैनफिक्शन फ़िल्में बस एक प्रचलन हैं तो उनपर यक़ीन न करें! अगर मार्वल यूनिवर्स, "रिवरडेल," या कोई अन्य प्रसिद्ध काम आपको अपनी कहानी में उन पात्रों के बारे में लिखने के लिए प्रेरित कर रहा है, तो इसे ज़रुर लिखें!

क्या आपको शुरुआत करने के लिए मदद की ज़रुरत है? इसके लिए SoCreate के पास एक ऐप मौजूद है … जो जल्द आ रहा है।

लिखने से न डरें और देखें कि यह आपको कहाँ ले जाता है। लिखने के लिए शुभकामनाएं!

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

चुनें अपनी पटकथा के लिए किरदार का नाम

अपनी पटकथा के लिए किरदार का नाम कैसे चुनें

क्या किसी और के पास भी उनके नोट्स ऐप में उन नामों की लंबी फेहरिस्त मौजूद है, जिनसे आपको कुछ अलग एहसास होता है, या वो सुनने में अच्छे लगते हैं? नहीं, बस मैं ही ऐसी हूँ? मैं अपने कई किरदारों के लिए इस सूची को देखती हूँ, जिसमें मैं अपनी पसंद के नाम नियमित रूप से जोड़ती रहती हूँ। कभी-कभी, ख़ासकर मुख्य किरदार के लिए, मैं कोई ऐसा नाम चाहती हूँ जिसमें कुछ गहराई हो, और नाम चुनते समय मुझे थोड़ा ज़्यादा सोच-विचार करने की ज़रुरत पड़ती है। आज मैं आपको बताने वाली हूँ कि किसी किरदार का नाम कैसे चुना जाता है। वैसे नाम में क्या रखा है? वो कौन हैं? अपने किरदार...

पाएं लिखने की प्रेरणा

लिखने की प्रेरणा कैसे पाएं

कभी-कभी अचानक ही आपके अंदर प्रेरणा आ जाती है। और कभी-कभी प्रेरणा ढूंढना रेगिस्तान में पानी ढूंढने के बराबर हो सकता है। तो, प्रेरित रहने के क्या तरीके हैं? किसी कामकाज़ी लेखक को निरंतर प्रेरणा कैसे मिलती है, जिसे एक शेड्यूल के हिसाब से चलना पड़ता है? यह ब्लॉग प्रेरणा से जुड़ी सभी चीज़ों के लिए आपका स्रोत है, इसलिए इसे बुकमार्क करें और जब कभी भी आपको जल्दी से प्रेरणा की ज़रुरत पड़े तो इसपर वापस आएं! प्रेरणा बनाये रखना: किसी रचनात्मक क्षेत्र में काम करना और नयी प्रेरणा खोजना मुश्किल हो सकता है। आपको यह महसूस हो या न हो, आपको रचनात्मक रहना पड़ता है, तो फिर आप ऐसी प्रक्रिया कैसे बनाते हैं जिससे सफलता मिलना निश्चित होता है...

लिखें पटकथा

पटकथा कैसे लिखें

आपका स्वागत है! पटकथा लिखने के लिए आप मेरे व्यापक गाइड पर आ गए हैं। मैं आपको पटकथा के विभिन्न जीवन-चक्रों से लेकर चलते हुए उनके बारे में आपका मार्गदर्शन करुँगी, जिसमें अपनी पटकथा की परिकल्पना सोचने से लेकर इसे दुनिया में लाने तक शामिल है। अगर आप पटकथा लिखने की सोच रहे हैं तो आप बिल्कुल सही जगह हैं। चलिए इसे शुरू करें! विचार-मंथन: सबसे पहली बात, आप किस बारे में लिखने वाले हैं? लिखना शुरू करने से पहले हमें आईडिया सोचने पड़ते हैं। अब यह सोचने का वक़्त आ गया है कि आपकी पटकथा की क्या शैली होगी, और अपनी कहानी बताने के लिए आप कौन सी संरचना इस्तेमाल करने वाले हैं...