पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक विक्टोरिया लूसिया

अपने पटकथा कौशलों को बेहतर बनाने के लिए पटकथा लेखन के अभ्यास

अपने पटकथा कौशलों को बेहतर बनाने के लिए पटकथा लेखन के अभ्यास

बाकी सभी चीज़ों की तरह ही, पटकथा लेखन में भी अच्छा बनने के लिए, साथ ही साथ अपने कौशलों को सुधारने और बनाये रखने के लिए आपको अभ्यास करना पड़ता है। पटकथा लिखना अपनी कला पर काम करने का सबसे अच्छा तरीका है, लेकिन अपनी रचना पर काम करते हुए अपने लेखन में सुधार करने के और भी दूसरे तरीके मौजूद हैं! अपने पटकथा कौशलों को बेहतर बनाने के लिए यहाँ पटकथा लेखन के छह अभ्यास दिए गए हैं।

SoCreate सदस्यताएँ जल्द ही आ रही हैं!

बीटा परीक्षण भरे हुए हैं, लेकिन आपकी सदस्यता सेवा शुरू होने के बाद आप अधिसूचित होने के लिए साइन अप कर सकते हैं।

  1. चरित्र का विश्लेषण

    किन्हीं भी दस चरित्रों के नाम सोचें (या ज़्यादा विविधता के लिए अपने दोस्तों से नाम पूछें!) और उनमें से सभी का चरित्र विवरण लिखने की कोशिश करें। इस अभ्यास से आपको न केवल चरित्रों का विवरण लिखने का अभ्यास करने में मदद मिलेगी, बल्कि आप यह भी सोच पाएंगे कि आपके विवरणों से चरित्र पाठक के सामने कैसे प्रस्तुत हो रहा है। क्या आपके विवरण से पाठक की कल्पना जाग पा रही है और वो अपने दिमाग में चरित्र की तस्वीर गढ़ पा रहा है? अब आपके पास अभ्यास करने का मौका है!

  2. कोई संवाद नहीं

    क्या आप एक ऐसे इंसान हैं जिसका पहला ड्राफ्ट संवाद से भरा पड़ा है? बिना किसी संवाद के एक पेज लिखकर अपनी कहानी कहने के लिए गतिविधि का इस्तेमाल करने का अभ्यास करें। आप अपनी ख़ुद की पटकथा से किसी बहुत ज़्यादा संवाद वाले दृश्य को लेकर, इसे संवाद के बिना दोबारा लिखने की भी कोशिश कर सकते हैं।

  3. बहुत लंबा वर्णन

    मैं अपनी पटकथाओं में बहुत ज़्यादा विवरण लिखती हूँ। यह अभ्यास उसपर काम करने का बहुत अच्छा तरीका है।

    किसी दृश्य का बहुत लंबा विवरण लिखें। इसे ज़्यादा से ज़्यादा विस्तृत बनाएं। इसके बाद उस बेहद जटिल विवरण को एक लाइन में बदलें। पटकथा लेखन में अक्सर आप जितना कम लिखते हैं उतना बेहतर होता है, और इससे मेरे जैसे बहुत ज़्यादा विवरण देने वाले लोगों को ख़ुद को रोकना सीखने में और छोटे विवरणों को अच्छा बनाने में मदद मिलेगी।

  4. कोई दृश्य लिखें

    किसी ऐसी फ़िल्म या टीवी शो का कोई छोटा सा दृश्य देखें, जिसकी असली पटकथा आपको मिल सकती है। उस दृश्य को अपने शब्दों में दोबारा लिखें और असली वाली पटकथा के दृश्य से मिलाएं।

    यह एक मज़ेदार अभ्यास है जो मैंने अपनी शुरूआती पटकथा लेखन की कक्षाओं में की थी। अपने लिखे हुए दृश्य की असली पटकथा से तुलना करना काफ़ी दिलचस्प होता है, क्योंकि इससे आपको अपनी ख़ुद की विवरणात्मक आवाज़ को बेहतर तरीके से समझने में मदद मिलती है।

  5. छोटा चरित्र

    किसी टीवी या फ़िल्म का छोटा चरित्र लें और उस चरित्र को मुख्य किरदार के रूप में रखकर एक-पेज का सार लिखकर देखें कि अब कहानी कैसी लगती है। यह रचनात्मक रूप से मुश्किल अभ्यास है, जिससे चरित्र की अवधारणा में सुधार करने का मौका मिलता है। लेखक होने के नाते, कभी-कभी हम कहानी को एक ही नज़रिये से देखते हैं। कहानियों को अलग-अलग और अप्रत्याशित दृष्टिकोण से देखना मददगार साबित हो सकता है।

  6. स्क्रिप्ट कवरेज लिखें

    क्या आपके कोई दोस्त पटकथा लेखक हैं? अगर ऐसा है तो उन्हें अपनी पटकथा पढ़वाने और फ़ीडबैक पाने के लिए किसी की ज़रुरत पड़ सकती है! किसी और की पटकथा पढ़ने और उसका मूल्यांकन करने से निष्पक्ष रहना सीखने में मदद मिलती है। इसके लिए आपको उन चीज़ों की तलाश करनी पड़ती है जो उपयोगी हैं और जो उपयोगी नहीं हैं। आदर्श रूप में, इस अभ्यास से आप अपनी बेहतर क्षमता को अपनी ख़ुद की पटकथाओं में इस्तेमाल करने में समर्थ होंगे।

मैं उम्मीद करती हूँ कि इन अभ्यासों से आपको अपने पटकथा लेखन के कौशलों को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी, ताकि SoCreate का प्लेटफॉर्म लॉन्च होने पर आप इसका इस्तेमाल करने के लिए तैयार रहें! क्या आप इसे आजमाने वाले पहले व्यक्तियों में से एक बनना चाहते हैं? सभी लोगों के लिए SoCreate उपलब्ध होने से पहले, हम निजी बीटा परीक्षणों का आयोजन कर रहे हैं, और आप यहाँ से सूची में शामिल हो सकते हैं।

लिखने के लिए शुभकामनाएं!

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

लेखक के अवरोध को दूर करें

अपनी रचनात्मकता दोबारा शुरू करने के 10 उपाय

लेखक के अवरोध को दूर करें - अपनी रचनात्मकता दोबारा शुरू करने के 10 उपाय

चलिए, हम सभी मान लेते हैं कि हम ऐसी स्थिति में रह चुके हैं। आखिरकार, आप आराम से बैठकर लिखने का समय निकालते हैं। आप पेज खोलते हैं, कीबोर्ड पर उंगली रखते हैं, और इसके बाद...कुछ नहीं। एक भी रचनात्मक विचार आपके दिमाग में नहीं आता। लेखक का भयानक अवरोध एक बार फिर से वापस आ गया, और आप अटक गए। यह याद रखना जरुरी है कि आप ऐसे अकेले नहीं हैं! दुनिया भर के लेखक हर दिन इस अवरोध का सामना करते हैं, लेकिन इस खालीपन की भावना पर काबू पाकर आगे बढ़ना संभव है! यहाँ अपनी रचनात्मकता को दोबारा प्रवाहित करने के लिए हमारे 10 पसंदीदा उपाय दिए गए हैं: 1. किसी अलग जगह लिखने का प्रयास करें। क्या आप हमेशा अपने डेस्क पर लिखते हैं? या अपने किचन टेबल पर लिखते हैं? इसे बदलें! ...

पारंपरिक पटकथा के लगभग हर एक भाग के लिए पटकथा लेखन के उदाहरण

पारंपरिक पटकथा के लगभग हर एक भाग के लिए पटकथा लेखन के उदाहरण

जब आप पहली बार पटकथा लिखना शुरू करते हैं तो आप जल्दी में होते हैं! आपके पास बहुत अच्छा आईडिया होता है, आप इसे टाइप करने के लिए बेसब्र होते हैं। शुरुआत में, यह समझ पाना मुश्किल हो सकता है कि पारंपरिक पटकथा के विभिन्न पहलु कैसे दिखाई देने चाहिए। इसलिए, यहाँ पर पारंपरिक पटकथा के मुख्य भागों के लिए पटकथा लेखन के पांच उदाहरण दिए गए हैं! शीर्षक पेज: आपके शीर्षक पेज पर कम से कम जानकारी मौजूद होनी चाहिए। यह बहुत ज़्यादा भरा हुआ नहीं लगना चाहिए। सबसे पहले आपको शीर्षक (बड़े अक्षरों में), उसके बाद अगली लाइन में "लेखक," उसके नीचे लेखक का नाम, और नीचे बायीं तरफ़...
20

पटकथा लेखन के बारे मेंप्रेरणादायकअनमोल वचन

पटकथा लेखन के बारे में 20 प्रेरणादायक अनमोल वचन

क्या आज आपको लिखने के लिए थोड़ी प्रेरणा की जरुरत है? पटकथा लेखन से संबंधित हमारे 20 पसंदीदा अनमोल वचन देखिये! "मुझे लगता है लेखक इसे लेकर बहुत चिंतित रहते हैं कि सबकुछ पहले ही कह दिया गया है। निश्चित रूप से यह पहले कहा गया है, लेकिन आपके द्वारा नहीं।" - आशा डॉर्नफेस्ट. "अच्छी फिल्म बनाने के लिए आपको केवल तीन चीजों की जरुरत है - स्क्रिप्ट, स्क्रिप्ट और स्क्रिप्ट।" - अल्फ्रेड हिचकॉक. "इस बात का ध्यान रखें कि आपकी स्क्रिप्ट बिलकुल तैयार हो। यदि यह पेज पर नहीं है तो यह स्क्रीन पर कभी भी जादू से नहीं दिखाई देगी।" - रिचर्ड ई. ग्रांट. "कहानी कहे बिना कोई भी संस्कृति विकसित नहीं हो सकती है। जब समाज बार-बार भड़कीली, खोखली और छद्म कहानियां सुनता है तो इसका पतन होता है। हमें सच्चे व्यंग और त्रासदी, ...