पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक विक्टोरिया लूसिया

अपने आईफोन पर फ़िल्म कैसे शूट करें

अपने आईफोन पर फ़िल्म

भारी-भरकम पेशेवर फ़िल्म कैमरा के इस्तेमाल से DIY फ़िल्म निर्माण के दिन कबके चले गए। वर्तमान में, सभी लोग आसानी से अपने स्मार्टफोन का इस्तेमाल करके वीडियो बना सकते हैं, जिसके बारे में लोगों ने 25 साल पहले सोचा तक नहीं होगा। ख़ासकर, अपनी वीडियो क्षमताओं की वजह से एपल का आईफोन इस मामले में बहुत ज़्यादा लोकप्रिय है। क्या आप सच में अपने आईफोन ने फ़िल्म शूट कर सकते हैं?

आपका जवाब है, हाँ, आप अपने आईफोन पर एक पूरी फ़िल्म शूट कर सकते हैं। यहाँ तक कि आप शूटिंग से एडिटिंग, एक्सपोर्टिंग से अपलोडिंग तक, अपने स्मार्ट फोन पर फ़िल्म निर्माण की सम्पूर्ण प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं! यह बेहतरीन हैं।

अपनी जगह पर बने रहें!

SoCreate पटकथा लेखन सॉफ़्टवेयर का पहले ऐक्सेस पाएं। साइन अप करनामुफ़्त है!

आप एंड्रॉइड भी इस्तेमाल कर सकते हैं; बात बस इतनी है कि आईफोन ने फ़िल्म बनाने के मामले में एक अलग प्रतिष्ठा हासिल कर ली है। वास्तव में, जाने-माने निर्देशकों द्वारा बनाई गई कुछ लोकप्रिय फ़िल्में आईफ़ोन पर फिल्माई गई हैं।

  • स्टीवन सोडरबर्ग ने अपनी मनोवैज्ञानिक थ्रिलर "अनसेन" को आईफोन 7 प्लस पर फिल्माया था। जोनाथन बर्नस्टीन और जेम्स ग्रीर ने इसकी पटकथा लिखी थी।

  • शॉन बेकर की फीचर फ़िल्म और कॉमेडी क्राइम ड्रामा "टेंजेरिन" को रिलीज़ होने पर लोगों की प्रशंसा मिली थी। कई लोगों को विश्वास नहीं हो रहा था कि इसे पारंपरिक फ़िल्म की तरह नहीं फिल्माया गया है, बल्कि आईफोन 5s पर फिल्माया गया है। बेकर ने क्रिस बर्गोक के साथ इसकी स्क्रिप्ट लिखी थी।

  • मैथ्यू चेरी द्वारा निर्देशित "9 राइड्स", आईफोन 6s पर शूट की जाने वाली पहली फ़िल्म थी। यह एक फीचर-लेंथ ड्रामा है।

कौन सा आईफोन शूट करने के लिए सबसे अच्छा है?

अगर आप अच्छी तरह से योजना बनाते हैं और डिवाइस की सीमाओं को समझते हैं तो आप फ़िल्म बनाने के लिए किसी भी आईफोन का इस्तेमाल कर सकते हैं। जब भी कोई नया आईफोन आता है तो ऐसा लगता है कि उसका कैमरा पहले से ज़्यादा प्रभावशाली हो गया है, जिससे फ़िल्म निर्माता उससे फ़िल्म बनाने के लिए उत्सुक हो जाते हैं। आईफोन 13 ने फ़िल्म बनाने वाले फोन के रूप में अपनी विरासत को अपनाया है और "सिनेमैटिक मोड" नामक एक नई सुविधा को अपनाया है। सिनेमैटिक मोड फ़िल्म निर्माताओं को उनके फुटेज शूट करने और संपादित करने में मदद करने के लिए बनाया गया है। इसलिए, हालाँकि ज़रूरी नहीं है कि आपको फ़िल्म बनाने के लिए सबसे नए आईफोन की आवश्यकता पड़े, लेकिन यह नई आकर्षक सुविधाओं के साथ आ सकता है।

आप अपने आईफोन पर फ़िल्म कैसे बनाते हैं?

अपने फोन पर फ़िल्म बनाने के लिए आपको उन सभी चरणों और उपकरणों की आवश्यकता होती है, जिनकी आपको किसी भी अन्य कैमरे के साथ आवश्यकता होगी। किसी विचार पर विचार-मंथन करने के साथ शुरुआत करें। आप कौन सी फ़िल्म बनाना चाहते हैं? फिर बारीकियों पर जाएं। कथानक क्या है? विषय क्या हैं? एक बार जब आप अपनी कहानी को अच्छी तरह समझ लेते हैं, तो आप एक रूपरेखा या पूरी स्क्रिप्ट लिख सकते हैं। शॉर्ट फिल्मों के लिए, आप कभी-कभी रूपरेखा लिखकर भी फ़िल्म बना सकते हैं। फ़िल्म जितनी लंबी होगी, या जितनी मुश्किल होगी, आपको उतनी ही ज़्यादा योजना बनाने की ज़रूरत होगी।

अपने शॉट की योजना बनाएं

आपने रुपरेखा या स्क्रिप्ट के संबंध में चाहे जो भी लिखा हो, आपको अपनी शॉट लिस्ट की योजना बनाने की ज़रूरत होती है। ऐसा करने का सबसे अच्छा तरीका है उन्हें स्टोरीबोर्ड में बदलना। मैं टेम्पलेट प्रिंट करके और अपने शॉट्स निकालकर पुराने ज़माने के तरीके से स्टोरीबोर्ड बनाना पसंद करती हूँ। स्टोरीबोर्ड के लिए आपको बहुत अच्छा कलाकार होने की आवश्यकता नहीं है; आपको बस यह दिखाने में सक्षम होना चाहिए कि दृश्य में क्या हो रहा है और यह कहाँ हो रहा है। अगर आप कुछ तकनीकी रूप से ज़्यादा उन्नत पसंद करते हैं, तो आप स्टोरीबोर्डिंग सॉफ्टवेयर आज़मा सकते हैं।

उपकरण

किसी भी अन्य कैमरे की तरह, आपको अपनी फ़िल्म बनाने के लिए कुछ उपकरणों की आवश्यकता होगी।

ट्राइपॉड

यह ट्राइपॉड हो या फिर कोई स्थिर करने वाला रिग, आप अपने शॉट्स की अच्छी क्वालिटी बनाये रखने के लिए ऐसी कोई चीज़ पाना चाहेंगे।

लाइटिंग

फिल्मांकन करते समय प्रकाश की उचित व्यवस्था आवश्यक है, ख़ासकर फोन का इस्तेमाल करते समय। फोन के आकार के कारण, उनमें छोटे सेंसर लगे होते हैं, यानी कम, प्राकृतिक लाइट में फुटेज बहुत अच्छी नहीं लगती। अपने दृश्यों में अच्छा प्रकाश सुनिश्चित करने के लिए इस बात का ध्यान रखें कि आपके पास अच्छी-खासी लाइट या अच्छा लाइटिंग किट मौजूद हो।

लेंस

मोमेंट जैसी कंपनियां लेंस की एक पूरी श्रृंखला बनाती हैं जिन्हें आप कस्टम शॉट्स बनाने के लिए अपने आईफोन से जोड़ सकते हैं, ठीक वैसे ही जैसे आप किसी भी अन्य कैमरे के साथ करते हैं।

बाहरी माइक्रोफोन

फ़िल्म निर्माण में ऑडियो एक महत्वपूर्ण कारक है, और आप आईफोन के बिल्ट-इन माइक्रोफोन पर भरोसा नहीं करना चाहेंगे। आपको एक अलग माइक्रोफोन चाहिए होगा क्योंकि बिल्ट-इन माइक कैज़ुअल वीडियो के लिए ठीक है, लेकिन आपको फ़िल्म लायक ऑडियो कैप्चर करने के लिए आपको बाहरी माइक की आवश्यकता होती है। इसके लिए कई सारे ऑडियो विकल्प मौजूद हैं, कुछ जो आसानी से आपके आईफोन से जुड़ जाएंगे। बाहरी माइक के विकल्पों के बारे में ज़्यादा जानने के लिए यह लेख देखें।

बाहरी ड्राइव

अपने आप पर एक एहसान करें और जितनी जल्दी हो सके अपनी फुटेज को बाहरी ड्राइव पर सहेजें, न कि उन स्मार्ट फोन पर जिन्हें आप शूट करने के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं। दुखी होने से अच्छा है कि सुरक्षित रहना। कुछ चीज़ें फुटेज खोने से भी बदतर हैं। मैं आपको अपनी फुटेज क्लाउड पर बैकअप करने और इसे इस तरह की ड्राइव पर रखने की सलाह दूंगी।

संपादन

आप iMovie या अन्य संपादन ऐप्स का इस्तेमाल करके सीधे अपने आईफोन पर फुटेज संपादित कर सकते हैं। हालाँकि, छोटे फुटेज के लिए यह ठीक है, लेकिन ज़्यादा लंबी परियोजनाओं के लिए मैं आपको संपादन सॉफ्टवेयर के डेस्कटॉप संस्करण का इस्तेमाल करने की सलाह देती हूँ।

सिर्फ इसलिए मूलभूत चीज़ों को न भूलें क्योंकि आप फोन के कैमरा पर फ़िल्म बना रहे हैं। फ़िल्म निर्माण की सभी मानक कार्यप्रणालियां अभी भी लागू होती हैं! इस बात का ध्यान रखें कि प्रत्येक शॉट से पहले प्रकाश और फ्रेमिंग की उचित व्यवस्था हो। अपने ऑडियो का परीक्षण करें और फ़िल्म बनाते समय उसकी जांच करें। यह न भूलें कि आपको क्षैतिज रूप से शूट करना चाहिए ताकि फ़िल्म वाइडस्क्रीन डिस्प्ले पर आराम से चल सके और ऐसा न लगे कि इसे फोन पर फिल्माया गया है। और अपने फुटेज का बैकअप लें!

आपको यह ब्लॉग पोस्ट कैसा लगा? चीज़ें शेयर करना अच्छी बात है! इसलिए अगर आप इसे अपने मनपसंद सोशल प्लेटफॉर्म पर शेयर करते हैं तो हमें बहुत अच्छा लगेगा।

बस इतना ही, इस तरह से आप आईफोन पर फ़िल्म बनाते हैं! मुझे उम्मीद है, इस ब्लॉग से आपको फोन से फ़िल्म बनाने पर एक उपयोगी गाइड मिला होगा। अगर आप कोई फ़िल्म बनाने के लिए अपने फोन का उपयोग करने के बारे में सोच रहे हैं, तो मैं कहती हूँ कि यह ज़रूर करें! हो सकता है, आपकी फ़िल्म आईफोन से बनाई गई अगली बड़ी फ़िल्म बन जाए!

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

सीखें टेम्पलेट के साथ अपनी फ़िल्म का बजट

टेम्पलेट के साथ अपनी फ़िल्म का बजट बनाना सीखें

अगर आप अपनी पटकथा पर कोई इंडिपेंडेंट फ़िल्म बनाने की सोच रहे हैं, तो इसका मतलब है कि आपके पास किसी बड़े फ़िल्म स्टूडियो का आर्थिक समर्थन और सहयोग नहीं है, और इसलिए आपको कुछ पैसों की ज़रूरत पड़ेगी। लेकिन कितने पैसों की? नीचे हम वो कैलकुलेट करेंगे। लेकिन इंडिपेंडेंट निर्माणों के लिए उससे कहीं ज़्यादा पैसों की ज़रूरत पड़ेगी, जितने आपके या हमारे बैंक अकाउंट में कभी नहीं होंगे। आख़िर में, इस बात को ध्यान में रखें कि एक औसत इंडिपेंडेंट फीचर बनाने में लगभग $750,000 का खर्च आता है। अब, अगर आप अपनी फ़िल्म बनाने की लागत की भरपाई करना चाहते हैं और आपके पास अपनी फ़िल्म में पैसा लगाने के लिए ऐसे निवेशक मौजूद हैं जो मुनाफे की तलाश में नहीं हैं तो बेशक आपके पास एक अच्छी डील है...

कैसे करेंअपने से फ़िल्म का वितरण

अपने से फ़िल्म का वितरण कैसे करें

इसमें कोई दोराय नहीं है कि स्वतंत्र फ़िल्म निर्माण की प्रक्रिया अक्सर कहीं ज़्यादा रोचक और (पारंपरिक हॉलीवुड फ़िल्मों से) तेज़ होती है। हालाँकि, स्वतंत्र तरीके से फ़िल्म का निर्माण करना कोई आसान काम नहीं है, लेकिन अपने से फ़िल्म बनाने पर आपको एक अलग ही ताकत और संतोष का अनुभव होता है। लेकिन स्वतंत्र फ़िल्म के प्रोडक्शन और पोस्ट-प्रोडक्शन के बाद क्या करना होता है? किसी स्वतंत्र फिल्मकार को सेल्स एजेंट या पारंपरिक वितरक के बिना वितरण डील कैसे मिलती है? आगे पढ़िए, क्योंकि आज मैं आपको बताने वाली हूँ कि आप अपनी फ़िल्म के लिए वितरण की रणनीति बनाकर इसे अपने से कैसे वितरित कर सकते हैं...

बनाएं अपनी फ़िल्म के लिए व्यावसायिक योजना

अपनी फ़िल्म के लिए व्यावसायिक योजना कैसे बनाएं

तो, आप अपनी फ़िल्म बनाना चाहते हैं? आपकी परियोजना का आकार चाहे जो भी हो, किसी भी तरह का निर्माण शुरू करने से पहले, व्यावसायिक योजना बनाने में समझदारी होती है। फ़िल्म की व्यावसायिक योजना क्या होती है, और आप इसे कैसे बनाते हैं? आज के ब्लॉग में, आपको फ़िल्म के लिए व्यावसायिक योजना बनाने के बारे में बताते समय मैं इन सवालों का जवाब दूंगी और यह भी बताऊंगी कि यह ज़रूरी क्यों है। फ़िल्म की व्यावसायिक योजना क्या होती है? फ़िल्म की व्यावसायिक योजना यह बताती है कि आपकी फ़िल्म क्या है, कौन इसे देखना चाहता है, आप अपनी फ़िल्म कैसे बनाएंगे, इसकी लागत कितनी होगी, पैसा कहाँ से आएगा, आप इसे कैसे वितरित करेंगे, और आप इससे किस तरह का लाभ कमाने की उम्मीद कर रहे हैं...