पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक विक्टोरिया लूसिया

अच्छी तरह से फॉर्मेट की गयी पारंपरिक पटकथा कैसे बनाएं

अच्छी तरह से फॉर्मेट की गयी पारंपरिक पटकथा बनाएं

आपने कर दिखाया! आपके पास पटकथा का एक बढ़िया आईडिया है! इस आईडिया से शानदार फ़िल्म बन सकती है, लेकिन अब क्या? आप इसे लिखना चाहते हैं, लेकिन आपने सुना है कि पटकथा को फॉर्मेट करने का एक विशेष तरीका होता है, और शुरुआत करना थोड़ा मुश्किल है। फ़िक्र न करें, क्योंकि जल्दी ही, SoCreate पटकथा लिखने की प्रक्रिया से इस डर को बाहर निकाल देगा। तब तक, मैं आपको यहाँ बता देती हूँ कि अच्छी तरह से फॉर्मेट की गयी पारंपरिक पटकथा कैसे बनाई जाती है!

आप अपने मन में सोच सकते हैं कि, "मुझे अपनी पटकथा को किसी विशेष तरीके से फॉर्मेट करने की क्या ज़रूरत है?" अच्छी तरह से फॉर्मेट की गयी पारंपरिक पटकथा पाठक को आपके पेशेवर होने का एहसास दिलाती है। सही तरीके से फॉर्मेट की गयी पटकथा की वजह से इसे पढ़ना ज़्यादा आसान भी हो जायेगा। आप नहीं चाहेंगे कि फॉर्मेटिंग में की गयी गलतियों की वजह से पाठक का ध्यान पटकथा से इधर-उधर भटके।

  • फ़ॉन्ट

    12-पॉइंट कूरियर फ़ॉन्ट का प्रयोग करें। यह स्टाइल उद्योग में मानक है, इसलिए इसे एक सख्त नियम मानें।

  • पेज नंबर

    आपके पेज हेडर में बिल्कुल दायीं तरफ़, आपके पेज नंबर के अलावा और कुछ नहीं होना चाहिए। यह पेज के ऊपर से आधे-इंच पर होना चाहिए और इसके बाद एक विराम चिन्ह होना चाहिए। आपके शीर्षक वाले पेज या आपकी पटकथा के पहले पेज पर पेज नंबर नहीं होना चाहिए। आपकी पटकथा के दूसरे पेज से नंबर शुरू होने चाहिए, और इसे नंबर 2 होना चाहिए।

  • पेज मार्जिन

    ऊपर और नीचे का मार्जिन 1 इंच होना चाहिए। आपका बायां मार्जिन 1.5 इंच होना चाहिए। आपका दायां मार्जिन 1 और 1.25 इंच के बीच होना चाहिए।

  • गतिविधि

    पटकथाएं दृश्यों से बनी होती हैं। एक दृश्य में गतिविधि और संवाद होता है। गतिविधि दृश्य में जो दिखाया जा रहा है उसका विवरण होता है। गतिविधि बाएं और दाएं दोनों मार्जिन तक जाने के लिए समायोजित होनी चाहिए। इसे वर्तमान काल में लिखा जाता है और इसमें एक-स्पेस होना चाहिए।

  • संवाद

    आपके चरित्र जो भी अपने मुंह से बोलते हैं वो संवाद होता है। संवाद की हर लाइन के ऊपर बड़े अक्षरों में चरित्र का नाम होना चाहिए, जो ख़ुद संवाद से एक इंच आगे की ओर होना चाहिए। संवाद पेज के बायीं ओर से 2.5 इंच जगह छोड़कर लिखा जाना चाहिए।

  • दृश्य की हेडिंग

    इसे स्लग लाइन के रूप में भी जाना जाता है। दृश्य की हेडिंग पाठक को बताती है कि गतिविधि कब और कहाँ हो रही है। स्लग लाइन के तीन भाग होते हैं; पहले भाग में आप बताते हैं कि दृश्य अंदर (आंतरिक, जिसे INT. के रूप में लिखा जाता है) हो रहा है या बाहर (बाहरी, जिसे EXT. के रूप में लिखा जाता है)। दूसरे भाग में आप स्थिति बताते हैं; यह घर के किसी कमरे जितना स्पष्ट हो सकता है या किसी राज्य जितना अस्पष्ट हो सकता है। तीसरे भाग में पाठक को बताएं कि दिन है या रात।

सही पटकथा लेखन सॉफ्टवेयर फॉर्मेटिंग की चिंता से मुक्ति दिला सकता है। SoCreate पटकथा लेखन को पहले से कहीं ज़्यादा आसान बनाने का नया तरीका लाने की तैयारी में जुटा है। SoCreate लोगों की पटकथा लिखने में मदद करेगा, भले ही उन्होंने पहले कभी कोई पटकथा न लिखी हो! 2020 में सॉफ्टवेयर लॉन्च होने वाला है, इसलिए इसपर नज़र बनाये रखें, और

मुझे उम्मीद है, इस ब्लॉग से आपको फॉर्मेटिंग से जुड़े सवालों का जवाब मिल गया होगा। लिखने के लिए शुभकामनाएं!

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

पटकथा लेखन कार्टून में एक हरा क्या है

पटकथा लेखन में एक बीट क्या है?

फिल्म उद्योग में, बीट शब्द का अक्सर जिक्र आता है, और इसका हमेशा एक ही मतलब नहीं होता। पटकथा के संदर्भ में, और इसके विपरीत फिल्म के समय-निर्धारण के संदर्भ में बात करने पर बीट के विभिन्न मतलब होते हैं। समझ नहीं आया! डरिये नहीं, हमारा विश्लेषण यहाँ मौजूद है। पटकथा में बीट क्या है? आमतौर पर संवाद में बीट का मतलब होता है कि पटकथा का लेखक विराम दर्शाना चाहता है। यह एक नाट्‍य संबंधी शब्द है जिसे आपको सीधे पटकथा में प्रयोग नहीं करना चाहिए, क्योंकि यह अभिनेता और/या निर्देशक के लिए निर्देश के रूप में दिखाई देता है। और अभिनेताओं और निर्देशकों को हमेशा यह सुनना पसंद नहीं होता कि उन्हें क्या करना है! इसके अलावा, पटकथा में केवल बीट जोड़ देने से चरित्र-चित्रण में कोई वृद्धि नहीं होती। ...

पारंपरिक पटकथा लेखन में शीर्षक पेज कैसे फॉर्मेट करें

ठीक से स्वरूपित शीर्षक पृष्ठ के साथ एक मजबूत पहली छाप बनाओ।

पारंपरिक पटकथा लेखन में शीर्षक पेज कैसे फॉर्मेट करें

हालाँकि, आपकी पटकथा पाठक का ध्यान आकर्षित करने में सफल होगी या नहीं इसमें आपके लॉगलाइन और पहले 10 पेजों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है, लेकिन अच्छी तरह फॉर्मेट किये गए शीर्षक पेज से ज्यादा बेहतर पहला प्रभाव किसी और चीज का नहीं पड़ता है। "आपको कभी भी अपना अच्छा पहला प्रभाव छोड़ने का दूसरा मौका नहीं मिलता।" क्या आपको नहीं पता कि शीर्षक पेज से सर्वश्रेष्ठ, पहला प्रभाव कैसे बनाएं? डरने की कोई जरुरत नहीं है! आप बिलकुल सही जगह आये हैं। हम आपको उन सभी अवयवों के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे जिन्हें आपको अपने शीर्षक पेज पर शामिल करना चाहिए और नहीं शामिल करना चाहिए। अपनी बाकी की पटकथा के समान, आपके शीर्षक पेज पर सभी टेक्स्ट कूरियर, 12-पॉइंट फॉन्ट में फॉर्मेट किये ...

अपनी पटकथा के पहले 10 पन्ने लिखने के 10 उपाय

अपनी पटकथा के पहले 10 पन्ने लिखने के 10 उपाय

हमारे पिछले ब्लॉग पोस्ट में, हमने आपको पटकथा लेखन के पहले 10 पन्नों के बारे में "मिथक" या वास्तव में कहें तो तथ्य के बारे में बताया। ऐसा नहीं है कि केवल वे महत्वपूर्ण होते हैं, लेकिन जहाँ तक आपकी पूरी पटकथा पढ़े जाने की बात आती है तो निश्चित रूप से वो सबसे ज्यादा मायने रखते हैं। इसपर ज्यादा जानकारी पाने के लिए कृपया हमारे पिछले ब्लॉग पर जाएँ: "मिथक का खंडन: क्या केवल पहले 10 पन्ने अहमियत रखते हैं?" अब जबकि हमें उनकी महत्ता के बारे में अच्छी समझ है तो चलिए उन कुछ तरीकों के बारे में जानते हैं जिनका ध्यान रखकर हम अपनी पटकथा के पहले कुछ पन्नों को शानदार बना सकते हैं! 1. वो दुनिया तैयार करें जिसके चारों ओर आपकी कहानी घूमती है। अपने पाठकों को कुछ संदर्भ प्रदान करें। दृश्य तैयार करें। ...

टिप्पणियां