संस्थापक का ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक जस्टिन काउटो

भाग 1: सबसे अच्छी मूवी वॉच लिस्ट, 2013 का फ़्लैशबैक

फ़िल्म देखते हुए SoCreate के सीईओ जस्टिन काउटो और SoCreate की सीएफओ रोज़ा काउटो का डूडल।

इसमें कोई राज़ नहीं है कि मुझे फ़िल्में देखना बहुत पसंद है। मुझे हमेशा से ये इतना ज़्यादा अच्छा पसंद था कि मैंने फ़िल्मों के लिए लोगों के कहानियां लिखने के तरीके को बदलने के लिए बीस साल का लंबा सफर तय किया। Covid-19 की महामारी से पहले से, SoCreate की सीएफओ, मेरी पत्नी, रोज़ा और मैं अक्सर फ़िल्में देखने जाया करते थे। 2013 के बाद से, जब कभी भी हम फ़िल्म देखते थे, चाहे हम इसे सिनेमाघर में देखें या घर पर, हम इसे रेट करते थे और यह रिकॉर्ड रखते थे कि हमने वो फ़िल्म कहाँ देखी थी, किस दिन देखी थी, और किसके साथ देखी थी। फ़िल्मों को स्कोर देने का हमारा सिस्टम डेढ़ से पांच स्टार पर काम करता था, जिसमें किसी चौथाई स्टार की अनुमति नहीं थी। जब हमारे दोस्तों को इस बात का पता चला तो उन्होंने हमें हमारी चुनी हुई फ़िल्मों के बारे में बताने के लिए कहा ताकि घर पर या कहीं बाहर जाने पर उनके पास चीज़ें देखने के लिए कुछ सुझाव मौजूद हों। मैं हमेशा से हमारी इस सूची को शेयर करना चाहता था, लेकिन अब तक, मुझे ऐसा करने का मौका नहीं मिला था। फिर एक दिन मेरे किसी दोस्त ने मुझसे क्वारंटाइन में देखने के लिए फ़िल्मों के सुझाव मांगे, और मुझे लगा कि अब हमारी देखी गयी फ़िल्मों और उनके बारे में हमारी राय बताने का इससे ज़्यादा बेहतर वक़्त नहीं हो सकता। तो, आज से मैं मासिक पोस्ट की एक सीरीज़ शुरु करने वाला हूँ जहाँ मैं आपको बताऊंगा कि मैंने किसी साल में क्या देखा था। मैं 2013 से शुरु करूँगा, क्योंकि उसी साल हमने अपनी पहली सूची तैयार की थी और उसी साल हमारा पहला बच्चा भी हुआ था। इसलिए, इसमें कोई हैरत की बात नहीं होनी चाहिए कि 2013 में ही हमारी सबसे ज़्यादा देखी गयी फ़िल्मों का रिकॉर्ड मौजूद है। यहाँ जानें कि हमने 2013 में क्या-क्या देखा था:

इससे पहले कि मैं सूची पर जाऊं, कृपया निम्नलिखित पर ध्यान दें:

  • हमने ये फ़िल्में 2013 में देखी थीं, लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि ये 2013 में रिलीज़ हुई थीं।

  • इस सूची के अंत में, मैं आपको अपनी राय और अपनी पसंदीदा फ़िल्मों के बारे में बताऊंगा।

  • यहाँ पर फ़िल्मों को सबसे ज़्यादा संयुक्त रेटिंग से सबसे कम रेटिंग के क्रम में रखा गया है, और देखने या रिलीज़ के दिन से क्रमबद्ध नहीं किया गया है।

मेरी राय

रोज़ा और मेरे लिए 2013 फ़िल्म देखने का सबसे अच्छा साल था। ज़रा उन सभी शानदार फ़िल्मों पर नज़र डालें जो हमने देखी थीं। मुझे लाइफ ऑफ़ पाई, मड, रश, बिफोर मिडनाइट, और ज़ीरो डार्क थर्टी बेहद पसंद आयी। द वुल्फ ऑफ़ वॉल स्ट्रीट, अमेरिकन हसल, और द डलास बायर्स क्लब भी काफ़ी अच्छी फ़िल्में हैं।

2013 में, जब मुझे पता चला कि बिफोर मिडनाइट आने वाली है और ये उन फ़िल्मों के सीरीज़ की तीसरी फ़िल्म है, जिन्हें एक ही कलाकारों के साथ उनके 20वें, 30वें, और 40वें साल में दस साल के अंतर पर बनाया गया है, तो यह सुनकर मैं इसे देखने के लिए बहुत उत्सुक था। यह उन फ़िल्मों में से नहीं थी, जो मैं आम तौर पर देखने के लिए चुनता, लेकिन यह मुझे बहुत अच्छी लगी। रोज़ा और मैंने इस सीरीज़ की पहली दो फ़िल्मों को घर पर देखा था और इसके बाद तीसरी फ़िल्म बिफोर मिडनाइट रिलीज़ होने पर इसे देखने सिनेमाघर गए थे। यह बहुत अच्छी सीरीज़ है और अगर आप अपने तीसवें और चालीसवें साल में हैं तो आपको इसे देखने में और ज़्यादा मज़ा आएगा, क्योंकि आप किरदारों के विकास के अनुभव और उनके दृष्टिकोण में बदलाव से ख़ुद को जोड़ पाएंगे। इस फ़िल्म ने मुझे 2023 आने का इंतज़ार करने और यह सोचने पर मजबूर कर दिया है कि क्या वो इस सीरीज़ की चौथी फ़िल्म लाएंगे और हमें किरदारों की ज़िन्दगी का नया पड़ाव दिखाएंगे।

इन सभी शानदार फ़िल्मों में से, मुझे लगता है लाइफ ऑफ़ पाई को मैं उस साल की नंबर एक फ़िल्म मानूंगा। इसकी कहानी इतनी बेहतरीन है कि मैं आपसे इसकी जितनी भी तारीफ़ करूँ कम है। तो, अगर आपने इसे नहीं देखा और कुछ देखना चाहते हैं तो मैं आपको इस फ़िल्म से शुरुआत करने का सुझाव दूंगा। इसके बाद, आप चार से पांच स्टार रेटिंग वाली सारी फ़िल्में देख सकते हैं। वो सब बहुत अच्छी हैं। वो सब देखने के बाद, आप कम रेटिंग वाली फ़िल्में देख सकते हैं।

2013 फ़िल्मों के लिए सबसे अच्छा साल था। रोज़ा और मेरी देखी गयी फ़िल्मों की सूची को दोबारा देखते समय हमारी बहुत सारी यादें ताज़ा हो गयी थीं। उम्मीद है, फ़िल्में चुनने में मदद करने के लिए आपको हमारा यह पोस्ट अच्छा लगेगा जो आपको कम से कम अगले महीने तक व्यस्त रखेगा। इसके बाद, मैं आपको उन फ़िल्मों की सूची दूंगा जिन्हें हमने 2014 में देखा था।

आपका दिन मंगलमय हो!

टिप्पणियां