पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक कर्टनी मेजरनिच

राइटिंग अंडरग्रेजुएट या ग्रेजुएट स्कूल के बीच कैसे फैसला करें

इन दिनों लेखन में औपचारिक शिक्षा पाने की इच्छा रखने वाले लोगों के लिए सर्टिफिकेट प्रोग्राम से लेकर बैचलर्स डिग्री, मास्टर्स डिग्री आदि तक कई विकल्प मौजूद हैं। लेकिन आप ऐसा प्रोग्राम कैसे चुनते हैं जिससे आपको सबसे ज़्यादा फायदा होगा?

यह कुछ चीज़ों पर निर्भर करता है, जिनमें आपका बैकग्राउंड, लक्ष्य, क्षमताएं और कभी-कभी आपका वित्त शामिल होता है।

अपनी जगह पर बने रहें!

SoCreate पटकथा लेखन सॉफ़्टवेयर का पहले ऐक्सेस पाएं। साइन अप करनामुफ़्त है!

अनगिनत फायदे-नुकसान वाली चीज़ों को सुलझाने में हमारी मदद करने के लिए, हमने निर्माता, पटकथा लेखक, टेलीविज़न लेखक और उपन्यासकार स्टेफनी के. स्मिथ से बात की। वह फ़िल्म इंडस्ट्री की अनुभवी इंसान हैं, और आप अमेज़ॅन प्राइम के "कार्निवल रो," उपन्यास "टैंगल इन द डार्क," एमी-नॉमिनेटेड लिमिटेड सीरीज़ "जीनियस," और "जॉन विक" के स्पिनऑफ़ "द कॉन्टिनेंटल" पर सह-निर्माता के रूप में क्रेडिट्स में उनका नाम पा सकते हैं।

उन्होंने न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय से बैचलर्स डिग्री प्राप्त की और दक्षिणी कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय से पटकथा लेखन में मास्टर्स की डिग्री प्राप्त की। अगर उसे यह सब फिर से करने का मौका मिला तो? जी हाँ, कुछ चीज़ें हैं जो वो अलग तरीके से करेंगी। उसकी किताब से एक पन्ना लो! आइये उनके अनुभव से सबक लें!

लेकिन सबसे पहले ... आज के विषय पर कुछ बैकग्राउंड:

अंडरग्रेजुएट छात्र, और अंडरग्रेजुएट डिग्री क्या होती है?

अंडरग्रेजुएट छात्र बैचलर्स डिग्री पाने के लिए प्रोग्राम में हिस्सा लेता है। संयुक्त राज्य में, हम आम तौर पर कॉलेज के छात्रों को अंडरग्रेजुएट के रूप में बताते हैं, और ये छात्र सामान्य तौर पर हाई स्कूल के तुरंत बाद इस उच्च स्तर की शिक्षा में प्रवेश करते हैं। अंडरग्रेजुएट डिग्री पाने में कम से कम चार साल का समय लगता है, हालाँकि कुछ प्रोग्रामों के लिए पांचवें या छठे वर्ष की भी ज़रूरत होती है। अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम में छात्र किसी ख़ास विषय या अध्ययन के क्षेत्र पर फोकस करेंगे। फिर भी, पहले दो सालों में उन्हें गणित, अंग्रेज़ी, इतिहास और विज्ञान जैसी सामान्य शिक्षा में व्यापक पाठ्यक्रम पूरा करना होगा।

ग्रेजुएट छात्र, और ग्रेजुएट डिग्री क्या होती है?

ग्रेजुएट छात्रों ने अपनी अंडरग्रेजुएट की पढ़ाई पूरी कर ली है, लेकिन अभी भी अध्ययन के एक विशेष क्षेत्र में उन्नत डिग्री की पढ़ाई कर रहे होते हैं, आम तौर पर वो वही विषय लेते हैं जिसमें उन्होंने अंडरग्रेजुएशन किया होता है, लेकिन ऐसा हमेशा नहीं होता। कुछ ग्रेजुएट प्रोग्रामों के मामले में, विशेष रूप से लेखन में, केवल इतना ज़रूरी होता है कि आवेदक ने पहले किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से बैचलर्स डिग्री हासिल की हो। ग्रेजुएट छात्र आम तौर पर मास्टर्स या डॉक्टरेट प्रोग्राम में दाखिला लेते हैं। अधिकांश स्नातक प्रोग्रामों में मास्टर्स डिग्री हासिल करने के लिए कम से कम दो साल के शोध की आवश्यकता होती है।

अंडरग्रेजुएट और ग्रेजुएट स्कूल के अनुभव के बीच के मुख्य अंतर

ग्रेजुएट प्रोग्राम किसी अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम से ज़्यादा मुश्किल होता है, जो अध्ययन के कुछ क्षेत्रों के मामले में तो और भी मुश्किल है। आपको ग्रेजुएट स्तर के ऐसे पाठ्यक्रम लेने की ज़रूरत होगी जो ज़्यादा मुश्किल हों और जिनके लिए आपको बैचलर्स डिग्री से ज़्यादा काम करने की ज़रूरत हो। आपके प्रोफेसर आपसे शोध करने और पेपर लिखने की उम्मीद कर सकते हैं, और निश्चित रूप से वो आपसे कक्षा में सक्रिय तरीके से भागीदारी करने की उम्मीद करेंगे, क्योंकि वहाँ कक्षाएं कॉलेज से ज़्यादा इंटरैक्टिव होती हैं। कक्षाएं ज़्यादा छोटी भी होती हैं, और आप समान-विचारधारा और उत्सुक लोगों से घिरे होंगे, इसलिए आपको उनसे कदम से कदम मिलाकर चलना होगा। ज़्यादातर ग्रेजुएट स्टडीज के लिए अपना GPA बनाये रखना ज़रूरी होता है; जैसा कि कहावत है, कॉलेज का C ग्रेजुएशन प्रोग्राम का F होता है। आपको अंडरग्रेजुएट स्टूडेंट से कहीं ज़्यादा पढ़ाई भी करनी होगी, और प्रोफेसर आपसे उम्मीद करते हैं कि आप कक्षा में रचनात्मक और नए आईडिया और विश्लेषण लेकर आएं। ग्रेजुएट छात्रों को बहुत कम ही छात्रवृत्ति मिलती है, इसलिए ढेर सारे पैसों या छात्र ऋण के साथ तैयार रहें। लेकिन आप केवल किसी बैचलर्स डिग्री वाले व्यक्ति के बजाय उस ऋण को ज़्यादा आसानी से चुका पाएंगे: सामाजिक सुरक्षा प्रबंधन का कहना है कि ग्रेजुएट डिग्री वाला कोई व्यक्ति सामान्य तौर पर सामान्य कॉलेज ग्रेजुएट की तुलना में अपने जीवनकाल में $800,000 से ज़्यादा कमाता है।

राइटिंग अंडरग्रेजुएट या ग्रेजुएट स्कूल के बीच कैसे फैसला करें

कोई भी राइटिंग डिग्री लेने का जीवन-बदलने वाला फैसला करने से पहले, ख़ुद से कुछ महत्वपूर्ण सवाल करना ज़रूरी है, जिनका स्टेफनी ने नीचे बहुत विनम्रतापूर्वक जवाब दिया है।

क्या आप सचमुच पेशेवर लेखक बनना चाहते हैं?

"जहाँ तक मेरी बात है मैं सात साल की उम्र से ही यह जानती थी कि मुझे लेखिका बनना है, और यही वो चीज़ है जो मैं जीवन में करुँगी, और मैं उसी समय से इसपर पूरी तरह केंद्रित थी," स्टेफनी ने कहा।

इसी वजह से उन्होंने अपने अंडरग्रेजुएट के दौरान लेखन पर ध्यान केंद्रित करने का फैसला किया था। लेकिन अगर आप इसे लेकर निश्चित नहीं हैं - तो इसमें भी कोई बुराई नहीं है - आप एक ज़्यादा सामान्यीकृत मेजर का पता लगाना चाह सकते हैं, जहाँ आपके सामने करियर के नए विकल्प और विचार उजागर हो सकें। अगर आपने मुझसे हाई स्कूल में पूछा होता कि मैं बड़ी होकर क्या बनना चाहती हूँ, तो मैंने कुछ सामान्य कहा होता (और मैंने कहा भी था ... मुझे लगता था कि मैं एक पत्रकार बनना चाहती हूँ)। लेकिन कॉलेज पहुंचते ही मेरी संभावनाएं बढ़ गईं। मुझे नहीं पता था कि आप फ़िल्में लिखने वाली व्यक्ति हो सकती हैं!

क्या अंडरग्रेजुएट स्कूल या ग्रेजुएट स्कूल मेरे लिए बेहतर है?

"आपका रास्ता इस बात पर निर्भर करता है कि आप किस तरह के लेखक हैं, है न? क्योंकि एक सोच कहती है कि आप [कॉलेज] जाते हैं, असिस्टेंट की नौकरी पाते हैं, ऊपर की तरफ बढ़ते हैं; और दूसरी सोच कहती है कि आप जाते हैं, और भरपूर ज़िन्दगी जीते हैं," स्टेफनी ने कहा। "मुझे लगता है कि लेखन से संबंधित शिक्षा बेहद मूल्यवान है, लेकिन अगर मुझे इसे दोबारा करने का मौका मिले, तो शायद मैं इसे एक अंडरग्रेजुएट के रूप में नहीं करती। उम्र के उस पड़ाव पर मुझे अपने बारे में बहुत सारी खोज करने की ज़रूरत थी जो मैंने नहीं की। असल में, मैं 20 साल की उम्र में NYU से ग्रेजुएट हो गई थी, तो उस वक़्त मैं ज़्यादा बड़ी नहीं थी, है न? और इसलिए, उस वक़्त से पहले तक मुझे ज़िन्दगी में बहुत सारी चीज़ें सीखनी थी।

मुझे लगता है, ग्रेजुएट स्कूल सचमुच बहुत अच्छा होता है क्योंकि आप एक ऐसी जगह पर होते हैं जहाँ आपको पता होता है कि आप क्या करना चाहते हैं, आप इसे मुमकिन बनाने के लिए समर्पित होते हैं, और कम से कम आप इतने चतुर और समझदार हो जाते हैं कि अपने करियर को आगे बढ़ाने के लिए उन चीजों पर ध्यान दे सकें जो आपको करनी चाहिए।"

क्या मुझे लेखन के लिए किसी विश्वविद्यालय जाने की ज़रूरत है?

स्टेफनी ने स्वीकार किया, "सच कहूं तो मैं ऐसे बहुत से लोगों को देखती हूँ, जिन्होंने लेखन का बिल्कुल भी अध्ययन नहीं किया था और जो दूसरे करियर में थे। अगर आप अंत में काम करना चाहते हैं, अगर आप किसी व्यावहारिक स्थान से इसमें आ रहे हैं और आप यह करना चाहते हैं, और ऐसी ही कोई चीज़ तो शायद कुछ और बन जाएं और फिर ऐसा होता है कि उन्हें ऐसे लोगों की ज़रूरत होती है जो वकील हैं और ऐसे लोगों की ज़रूरत होती है जो इंजीनियर हैं और उन चीज़ों को ज़्यादा सटीक तरीके से लिख सकते हैं।"

अंत में, कॉलेज, ग्रेजुएशन स्कूल, या लेखन पर फोकस करने वाले किसी भी स्कूल में जाना है या नहीं वो आपका ख़ुद का फैसला है और इसके लिए थोड़े आत्मनिरीक्षण की ज़रूरत पड़ सकती है। यह बस अपने रिज्यूमे के लिए न करें। क्या आप सच में लेखक बनना चाहते हैं? क्या आपको औपचारिक प्रशिक्षण की ज़रूरत है? क्या आप कनेक्शन की सबसे ज़्यादा ज़रूरत है? क्या आप ग्रेजुएट स्कूलको अपना समय और पैसा दे सकते हैं? क्या आप अन्य पेशों को लेकर बिल्कुल भी उत्सुक हैं? ख़ुद के साथ ईमानदार रहें, और फिर आपका दिल आपको सही रास्ता दिखायेगा।

क्या आपको किस और की राय चाहिए। पटकथा लेखक केलॉर्ड हिल का यह साक्षात्कार पढ़ना न भूलें जहाँ वो फ़िल्म स्कूल के विषय पर बात करते हैं, और बताते हैं कि आपको वहाँ जाना चाहिए या नहीं, और स्कूल कैसे चुना जाता है।

"आप जानते हैं, वास्तव में यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप कहाँ से आ रहे हैं," स्टेफनी ने अंत में कहा। "इस सबका कोई न कोई मूल्य है; कोई एक रास्ता नहीं है।"

क्या आपको यह ब्लॉग पोस्ट पसंद आया? चीज़ें शेयर करना अच्छी बात है! इसलिए अगर आप इसे अपने मनपसंद सोशल प्लेटफॉर्म पर शेयर करते हैं तो हमें बहुत अच्छा लगेगा।  

यह आपका सफर है, और हम इस सफर में आपके साथ हैं,

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

कमाएं पटकथा लेखन में करियर बनाने की कोशिश करते हुए लेखक के रूप में पैसे

पटकथा लेखन में करियर बनाने की कोशिश करते हुए लेखक के रूप में पैसे कैसे कमाएं

कई पटकथा लेखकों की तरह, आपको भी अपने बड़े ब्रेक का इंतज़ार करते हुए अपना खर्च उठाने का तरीका खोजने की आवश्यकता होगी, जिससे आप विशेष रूप से अपनी ज़रुरतों को पूरा करते हुए लिखने का काम कर सकते हैं। उद्योग में नौकरी ढूंढना मददगार साबित हो सकता है या आप कोई ऐसी नौकरी ढूंढ सकते हैं जो कहानीकार के रूप में आपके कौशलों का प्रयोग करती है या इसे बढ़ाती है। यहाँ पटकथा लेखन में करियर बनाने की कोशिश करते हुए पैसे कमाने के कुछ तरीके दिए गए हैं। सामान्य 9 से 5 की नौकरी: अपना पटकथा लेखन करियर शुरू करने पर काम करते हुए आप अपनी ज़रुरतें पूरी करने के लिए कोई भी नौकरी कर सकते हैं...
Veteran Screenwriter & Producer Ross Brown Reveals His Favorite Writing Resources

पटकथा लेखन के मुफ़्त पाठ्यक्रम कैसे खोजें

किसी भी पेशे में प्रवेश करने पर हमेशा बाधाएं आती हैं, लेकिन पटकथा लेखन की कुछ विशेष बाधाएं हैं। भौगोलिक स्थिति: अगर आप दुनिया भर में मौजूद किसी पटकथा लेखन केंद्र में नहीं रहते तो शिक्षा सहित पटकथा लेखन के उद्योग में प्रवेश कर पाना ज़्यादा मुश्किल हो जाता है। खर्च: किसी अच्छे फ़िल्म स्कूल में जाने पर आपको बहुत पैसे खर्च करने पड़ते हैं, और यहाँ तक कि जिन ऑनलाइन पाठ्यक्रमों को ज़्यादा किफायती माना जाता है, उनके लिए भी कई सौ डॉलर का खर्च आ सकता है। लेकिन, पटकथा लेखन की खूबसूरती यह है कि इसके लिए किसी महँगी डिग्री या किसी विशेष पाठ्यक्रम की ज़रुरत नहीं होती...