पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक विक्टोरिया लूसिया

वीडियो गेम के लिए स्क्रिप्ट राइटर कैसे बनें

वीडियो गेम के लिए स्क्रिप्ट राइटर

इसमें कोई शक नहीं है कि वीडियो गेम इंडस्ट्री तेज़ी से बढ़ रही है। तकनीक गेम्स को और ज़्यादा यथार्थवाद की तरफ ले जा रही है, जो हमने पहले कभी नहीं देखा। गेम्स जटिल फ़िल्म जैसी कहानियां बना रहे हैं, और प्रशंसकों को यह बहुत पसंद आ रही हैं, जिसकी वजह से यह साल में बिलियन डॉलर आय वाली इंडस्ट्री बन गयी है।

और पता है क्या? किसी को यह वीडियो गेम स्टोरी लिखनी पड़ती है। तो, ऐसा क्यों है कि मैं किसी को वीडियो गेम्स के लिए स्क्रिप्ट राइटर बनने के बारे में बात करते हुए नहीं देखती हूँ? दुनिया भर में मौजूद पटकथा लेखन के ढेर सारे सुझावों के बावजूद, कोई यह जानकारी नहीं देता कि गेम राइटिंग इंडस्ट्री में कैसे कदम रखना है। वीडियो गेम के लिए स्क्रिप्ट लिखना कैसा होता है? वैसे, अच्छी बात यह है कि मैं आपके लिए इसपर सारी जानकारियां लायी हूँ।

अपनी जगह पर बने रहें! हम जल्द ही सीमित संख्या में बीटा टेस्टरों के लिए SoCreate का पटकथा लेखन सॉफ्टवेयर लॉन्च करने जा रहे हैं। इस पेज से बाहर निकले बिना,

तो, वीडियो गेम लेखक का क्या काम है?

वीडियो गेम लेखक कोई एक ठोस स्क्रिप्ट नहीं लिखते, लेकिन महत्वपूर्ण पलों को विकसित करने के लिए उनकी ज़रूरत होती है, जो एक पूरी कहानी को एक साथ जोड़ते हैं। जहाँ किसी पटकथा लेखक को किसी की नज़रों में आने से पहले अपने से एक पूरा ड्राफ्ट लिखने की ज़रूरत पड़ती है, वहीं वीडियो गेम लेखक को शुरू से ही दूसरों के साथ मिलकर काम करना होता है। गेम निर्देशक और गेम डिज़ाइनर इस आधार पर एक व्यापक कहानी बनाते हैं कि वो गेम के भीतर क्या निर्माण करने में समर्थ हैं, और लेखक उन विचारों को बाहर निकालता है और उन्हें दस्तावेज़ में दर्ज करता है।

गेम निर्देशक या गेम डेवलपर अक्सर लेखकों को उनके द्वारा बनाए जा रहे गेम के प्रकार के आधार पर लिखने के लिए पैरामीटर या एक विशेष परिदृश्य देते हैं। उदाहरण के लिए, वो लेखक को एक कट सीन लिखने का निर्देश दे सकते हैं जहाँ मुख्य चरित्र चोरों के एक गिरोह से मिलता है, और इस दृश्य में मुख्य चित्रित को मार खाते और लूटते हुए दिखाने की ज़रूरत होती है। लेखक अपने से कहानियां नहीं बना सकता क्योंकि इसका कथानक ऐसा होना चाहिए जिसे गेम डिज़ाइनर तकनीकी रूप से प्राप्त कर सकें।

नैरेटिव डिज़ाइनर इस इंडस्ट्री में एक दूसरे तरह का लेखन रोज़गार है। नैरेटिव डिज़ाइनर को गेम की कहानी के डिज़ाइन को आकार देने के लिए, गेम प्लेयर के अनुभव पर फोकस करने के लिए लाया जा सकता है, और लेखक के बजाय उनका ज़्यादा तकनीकी गेमिंग बैकग्राउंड हो सकता है। जहाँ तक वीडियो गेम स्टोरी लिखने की बात आती है, कई तरह की भूमिकाएं और काम आपस में मिल सकते हैं, और अलग-अलग परियोजनाओं में कुछ मौजूद भी नहीं हो सकते हैं। इसमें बहुत ज़्यादा विविधता होती है।

क्या मैं वीडियो गेम के लिए स्पेक स्क्रिप्ट लिख सकता हूँ?

फ़िल्म और टेलीविज़न के विपरीत, एक वीडियो गेम लेखक के पास अपनी स्पेक स्क्रिप्ट को एक तैयार उत्पाद में बदलते हुए देखने का अवसर नहीं होता है। परियोजना के निर्देशक एक परिकल्पना बनाते हैं और गेम डिज़ाइनरों के साथ डिज़ाइन, गेम मैकेनिक्स और गेमप्ले बनाने के लिए काम करते हैं। गेम राइटर अक्सर इस प्रक्रिया में काफी बाद में आता है और एक ऐसा काम करता है जो पटकथा लेखन के अन्य रूपों की तुलना में बहुत ज़्यादा तकनीकी और गौण होता है।

मुझे वीडियो गेम इंडस्ट्री में कैसे काम मिल सकता है?

हर वीडियो गेम का विकास एक-दूसरे से बिल्कुल अलग हो सकता है। कुछ गेम टीम लेखकों को प्राथमिकता दे सकते हैं और उन्हें परियोजना पर जल्दी ला सकते हैं। कुछ एक साथ कई भूमिकाएं निभा सकते हैं और लेखक कोई ऐसा व्यक्ति हो सकता है जो पहले से ही परियोजना पर कोई दूसरा काम कर रहा होता है। दूसरों को लेखकों की बिल्कुल भी ज़रूरत नहीं हो सकती है, क्योंकि वो जिस तरह का गेम बना रहे होते हैं उसमें कहानी ज़रूरी नहीं होती है।

जहाँ वीडियो गेम इंडस्ट्री में एक लेखक बनना चुनौतीपूर्ण हो सकता है, आप बहुत सारे गेम खेलकर और उनकी कहानियों का विश्लेषण और आलोचना करना सीखकर अपने अवसरों को बेहतर बना सकते हैं। अपने आप को उस माध्यम में पूरी तरह डूबा दें, जिसके लिए आप लिखना चाहते हैं।

आप किसी गेमिंग स्टूडियो में अपना राइटिंग सैंपल भी जमा कर सकते हैं। ऐसा करने से पहले, आपको स्टूडियो के खेलों पर शोध करना चाहिए और उन्हें समझना चाहिए। एक ऐसी कंपनी खोजें, जिसका काम वैसा ही लगे जैसा आप बनाने में रुचि रखते हैं। आपका राइटिंग सैंपल ज़्यादा लंबा नहीं होना चाहिए और आपको इसकी शुरुआत में अपना सर्वश्रेष्ठ काम रखना चाहिए।

पटकथा लेखन के दूसरे मोड की तरह, इस इंडस्ट्री में आने के लिए भी नेटवर्किंग बहुत ज़रूरी है। वीडियो गेम इंडस्ट्री के लोगों से मिलें, बात करें, और सवाल करें! यहाँ पर वर्तमान वीडियो गेम लेखन रोज़गारों की सैंपल सूची दी गयी है। एक वीडियो गेम कंपनी गेम लेखक, नैरेटिव डिज़ाइनर, और नैरेटिव लेखकों को काम पर रख सकती है। अभी रोज़गार के अवसर देने वाली कुछ वीडियो गेम कंपनियों में शामिल हैं:

क्या आपको किसी दूसरी वीडियो गेम कंपनी के बारे में पता है जो नियुक्ति कर रही है? हमें @SoCreate.it पर ट्वीट करें!

गेम लेखक के लिए एक औसत दिन कैसा होता है?

वीडियो गेम का निर्माण अलग-अलग चरणों में होता है। गेम किस चरण में है, इसके आधार पर वर्कलोड अलग-अलग हो सकता है।

गेम के शुरुआती चरणों में, आप अपना ज़्यादातर समय गेम के डिज़ाइनरों से गेम के बारे में विवरण पाने में बिताएंगे, साथ ही वर्तमान परियोजना के लिए पढ़ेंगे और नोट बनाएंगे। इस आधार पर कि टीम अपने दृष्टिकोण को कैसे साकार होते हुए देखती है यह पता लगाना बहुत ज़रूरी है कि आप किस तरह का गेम बनाना चाहते हैं और डायलॉग और नैरेटिव दोनों में इसके लिए कितना लिखने की ज़रूरत पड़ेगी।

गेम के निर्माण चरण में जाने पर आपका काम बहुत ज़्यादा बढ़ सकता है। अगर गेम ज़्यादातर कहानी के साथ आगे बढ़ता है तो यह सुनिश्चित करने के लिए कि विचारों का एक सामंजस्यपूर्ण प्रवाह बना रहे, आपको मिशन डिज़ाइनरों के साथ-साथ अभिनेताओं और निर्देशकों के साथ बहुत सारी बैठकें करनी पड़ती हैं।

निर्माण ख़त्म होने तक, आपको अपने काम में बहुत सारे बदलाव करने पड़ते हैं, साथ ही अपनी टीम के साथ प्ले टेस्ट भी करना पड़ता है ताकि आप यह देख सकें कि आपका दृष्टिकोण कैसे बाहर आ रहा है।

वीडियो गेम की कहानी कैसे लिखें

एक बेहतरीन वीडियो गेम पटकथा लिखने के लिए सबसे ज़रूरी है कि आप व्यापक तौर पर शुरू करें और उसके बाद धीरे-धीरे इसे छोटा करते जाएं।

1) कहानी की रुपरेखा तैयार करें

सबसे प्रमुख कहानी क्या है? चाहे खेलते समय गेमर कोई भी निर्णय ले, लेकिन किसी चरित्र को मुख्य रूप से किन बाधाओं को पार करना पड़ता है?

2) वो दुनिया बनाएं जिसमें आपकी कहानी है

किसी भी तरह की कहानी बनाने के लिए अगला चरण उस दुनिया की स्थापना करना है जिसे आप दिखाना चाहते हैं। इसका मतलब यह तय करना है कि कौन से तत्व इस ब्रह्मांड को बनाने वाले हैं। इसके चरित्र क्या पहनेंगे? उनकी संस्कृति कैसी होगी? दुनिया का निर्माण एक वीडियो गेम का परिवेश बनाने की प्रक्रिया है। इस परिवेश में वो सब कुछ शामिल है जो चरित्र उस परिस्थिति में ही अनुभव करेंगे।

इस बात की फिक्र किये बिना कोई आकर्षक परिवेश बनाना बहुत मुश्किल है कि खिलाड़ी को इसे एक्स्प्लोर करने में मज़ा आएगा या नहीं। इसीलिए दुनिया का निर्माण लगभग किसी भी चीज़ से कहीं ज़्यादा पहले आना चाहिए। अगर आप किसी एक स्थान को बनाने में सैकड़ों घंटे खर्च करने वाले हैं, तो इस बात का ध्यान रखें कि वो जगह दिखने में अच्छी लगे।

3) अपने चरित्र और उनके लक्ष्य बनाएं

चरित्र वो लोग होते हैं जिनके रूप में हम वीडियो गेम खेलते हैं। वो पूरे अनुभव के दौरान हमारी गतिविधियों को संचालित करते हैं। आपको यह जानने की ज़रूरत होती है कि उनमें से हर एक अपने लक्ष्यों को कैसे हासिल करना चाहता है। यह जानकारी यह निर्धारित करने में मदद करती है कि कौन से विकल्प उन्हें सफलता की ओर ले जाते हैं और कौन से नहीं।

4) पता करें कि हर चरित्र दूसरे लोगों से कैसे बातचीत करता है

हर इंसान में अपनी ख़ुद की अलग विशेषता और व्यक्तित्व होता है। ये विशेषताएं इस बात को प्रभावित करती हैं कि चरित्र दूसरों के साथ कैसे बातचीत करते हैं। यह जानने से आप चरित्रों के बीच दिलचस्प बातचीत विकसित कर सकते हैं।

5) फ़्लोचार्ट बनाएं

वीडियो गेम लेखक अक्सर मुख्य कहानी का ख़ाका तैयार करने के लिए, प्रयोगकर्ता के निर्णयों के आधार पर किसी भी तरह के विचलन के लिए, और साइड क्वेस्ट दिखाने के लिए फ़्लोचार्ट का इस्तेमाल करते हैं।

6) लिखना शुरू करें

इससे पहले कि आप अपने किरदारों के लिए सभी संभावित परिणामों को फ़्लोचार्ट करने में बहुत आगे निकल जाएं, मुख्य कहानी को सारांश या हर एक दृश्य की सामग्री के रूप में लिखें। इसके बाद, कोई भी साइड क्वेस्ट या दूसरे ज़रूरी विवरण जोड़ें।

वीडियो गेम राइटिंग सॉफ्टवेयर

अभी, बाज़ार में वीडियो गेम लेखन के लिए केवल कुछ सॉफ्टवेयर विकल्प मौजूद हैं, हालाँकि, कुछ लेखक माइक्रोसॉफ्ट वर्ड जैसा सामान्य वर्ड प्रॉसेसर इस्तेमाल करने का चुनाव करते हैं। Twine एक मुफ़्त, ओपन सोर्स टूल है जिसे विशेष रूप से इंटरैक्टिव फिक्शन बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया है। Inklewriter भी मुफ़्त है लेकिन Twine की तुलना में यह ज़्यादा सीमित है, जिसमें लेखकों के लिए फिक्शन ब्रांच वाली कहानियां बनाने में मदद करने के लिए टूल्स मौजूद हैं। इन दोनों टूल्स से प्रयोगकर्ता टेक्स्ट बॉक्स और बटनों के इस्तेमाल से कहानियां तैयार कर सकते हैं। इसके अलावा, दोनों प्रोग्राम इन पटकथाओं को HTML पेजों में एक्सपोर्ट कर सकते हैं ताकि उन्हें ऑनलाइन देखा जा सके।

दोनों प्रोग्रामों में समान सुविधाएं हैं:

  • टेक्स्ट इनपुट बॉक्स

  • बटन

  • उपलब्ध कमांड की एक सूची

  • इन्वेंटरी सिस्टम

  • डायलॉग ट्री

  • स्टोरी आर्क्स

हालाँकि, उनके बीच कुछ अंतर हैं। उदाहरण के लिए, Inklewriter डायलॉग ट्री का समर्थन नहीं करता है, जबकि Twine करता है। इसके अलावा, Inklewriter केवल दो आयामों का समर्थन करता है, जबकि Twine तीन हैंडल कर सकता है। अंत में, Inklewriter सीधे वेब पेजों में एक्सपोर्ट करता है, जबकि twine को ऐसा करने के लिए अतिरिक्त काम की आवश्यकता होती है।

अरैखिक कहानियां लिखने के लिए Twine एक शानदार विकल्प है, लेकिन अगर आप रैखिक कहानियां बताना चाहते हैं जो कई वीडियो गेम्स में पायी जाती हैं, तो InkleWriter आपके लिए ज़्यादा बेहतर हो सकता है।

तो आपको किस टूल का इस्तेमाल करना चाहिए? वैसे तो दोनों प्रोग्राम समान सुविधाएं प्रदान करते हैं लेकिन उनमें काफी अंतर भी हैं। यहाँ पर प्रत्येक विकल्प के फायदे और नुकसानों के बारे में बताया गया है।

Inklewriter के फायदे

  • मुफ़्त

  • सीखने में आसान

  • कोई भी इस्तेमाल कर सकता है

  • किसी प्रोग्रामिंग कौशल की आवश्यकता नहीं है

Inklewriter के नुकसान

  • केवल दो आयामों का समर्थन करता है

  • डायलॉग ट्री की अनुमति नहीं देता

  • अतिरिक्त एडिटिंग टूल की ज़रूरत पड़ती है

Twine के फायदे

  • प्रयोगकर्ताओं को अपनी कहानी में टेक्स्ट के अलावा भी दूसरी चीज़ें जोड़ने देता है

  • इसमें एक बिल्ट-इन एडिटर है जो लेखन को आसान बनाता है

Twine के नुकसान

  • HTML फाइल के रूप में नहीं सहेजा जा सकता

  • वेबसाइट चलाने के लिए इंटरनेट कनेक्शन की आवश्यकता होती है

आख़िर में, फैसला आपका है। अगर आपको शुरुआत करने के लिए कुछ प्रोग्रामिंग कौशल सीखने में कोई परेशानी नहीं है, तो दोनों उपकरण बेहतरीन विकल्प हैं। नहीं तो, Twine ज़्यादा उपयुक्त हो सकता है क्योंकि यह इंकलराइटर की तुलना में ज़्यादा अच्छी कार्यक्षमता प्रदान करता है।

वीडियो गेम के लिए लिखना फ़िल्म या टेलीविजन के लिए लिखने से बहुत अलग है। यह ज़्यादा तकनीकी है और इसके लिए गेम के व्यापक ज्ञान की आवश्यकता होती है। यह एक ऐसा क्षेत्र है जिसमें आपको माध्यम के प्रति जुनूनी होने की ज़रूरत पड़ती है। अंदर आने में होने वाली मुश्किलों के बावजूद, अगर आपको सचमुच वीडियो गेम के लिए लिखना पसंद है तो आपको कोशिश नहीं छोड़नी चाहिए और टिके रहना चाहिए।

चाहे आप जिस भी माध्यम के लिए लिख रहे हों, लिखने के लिए आप सबको शुभकामनाएं!

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

कॉन्सेप्ट बोर्ड देखता हुआ पटकथा लेखक

पटकथा लेखक के रोजगार का विवरण

पटकथा लेखक क्या करता है? पटकथा लेखक पटकथाएं लिखता है, लेकिन शायद आपके मन में यह ख्याल आया होगा कि वास्तव में इसका क्या मतलब है। पेशेवर पटकथा लेखक अपने काम के बारे में कैसे बताते हैं? आगे पढ़ते रहिये क्योंकि आज मैं आपके सामने पटकथा लेखक के रोजगार के बारे में सारे राज़ खोलने वाली हूँ! पटकथा लेखक के रोजगार की मूलभूत चीज़ें: पटकथा किसलिए इस्तेमाल की जाती है? पटकथाओं को फ़िल्म, टेलीविज़न, नाटकों, प्रचारों, ऑनलाइन प्लेटफॉर्म, और यहाँ तक कि वीडियो गेम्स सहित, सभी तरह के माध्यमों के लिए इस्तेमाल में लाया जा सकता है। मूल रूप से, पटकथा उन सभी चीज़ों का ब्लूप्रिंट है जो होने वाली हैं...

पटकथा लेखक कितना वेतन पाने की उम्मीद कर सकता है?

पटकथा लेखक कितना वेतन पाने की उम्मीद कर सकता है?

शेन ब्लैक द्वारा लिखी गयी एक्शन थ्रिलर, "द लॉन्ग किस गुडनाइट" (1996), $4 मिलियन में बिकी थी। डेविड कोएप द्वारा लिखी गयी थ्रिलर, "पैनिक रूम" (2002), $4 मिलियन में बिकी थी। टेरी रोसियो और बिल मार्सिली द्वारा लिखी गयी साइंस फिक्शन एक्शन फ़िल्म, "डेजा वू" (2006), $5 मिलियन में बिकी थी। क्या हर पटकथा बेचने वाला पटकथा लेखक करोड़ों कमाने की उम्मीद कर सकता है? ऊपर मैंने आपको करोड़ों में बिकने वाली जिन पटकथाओं का ज़िक्र किया है, बहुत कम ही ऐसा होता है जब फ़िल्म जगत में आपको अपनी पटकथा के लिए उतने पैसे मिलते हैं, इतनी कीमतें वहां सामान्य नहीं हैं। 1990 के दशक में या 2000 के दशक...

स्क्रीनराइटिंग गिल्ड में हिस्सा लें

स्क्रीनराइटिंग गिल्ड में कैसे हिस्सा लें

स्क्रीनराइटिंग गिल्ड सौदा करने वाला एक सामूहिक संगठन या संघ है, जो विशेष रूप से पटकथा लेखकों के लिए होता है। गिल्ड का मुख्य काम स्टूडियो या निर्माताओं के साथ व्यावसायिक बातचीत में पटकथा लेखकों का प्रतिनिधित्व करना होता है और साथ ही वो यह सुनिश्चित करते हैं कि उनके पटकथा लेखक सदस्यों के अधिकार सुरक्षित रहें। गिल्ड लेखकों को हेल्थ केयर और पेंशन योजनाओं जैसे बहुत सारे लाभ प्रदान करते हैं, साथ ही अपने सदस्यों के आर्थिक और रचनात्मक अधिकार (लेखक को रॉयल्टी दिलवाना या किसी लेखक की पटकथा को चोरी होने से बचाना) सुरक्षित करते हैं। क्या आप इसे समझ नहीं पा रहे हैं? चलिए इसका...