पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक कर्टनी मेजरनिच

टेलीविज़न राइटिंग में किसी लेखक का सफर

जब हमने मार्क गैफेन से पूछा कि उन्हें अपना पहला टेलीविज़न एपिसोड कैसे मिला था जिसके क्रेडिट्स में उनका नाम था तो उन्होंने बताना शुरू किया कि, "इसका कोई एक तरीका नहीं है।"

मार्क ने कैमरा असिस्टेंट से लेकर "मेयर ऑफ़ ईस्टटाउन" और "ग्रिम" और "लॉस्ट" जैसे पिछले हिट शोज़ में एक स्क्रिप्ट कोऑर्डिनेटर के रूप में अपनी वर्तमान भूमिका तक एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में बहुत सारी भूमिकाएं निभाई हैं। लेकिन इन सारी नौकरियों में एक चीज़ कॉमन थी? उन सबने मार्क को टेलीविज़न राइटिंग में जाने की राह पर लाकर खड़ा कर दिया।

अपनी जगह पर बने रहें!

SoCreate पटकथा लेखन सॉफ़्टवेयर का पहले ऐक्सेस पाएं। साइन अप करनामुफ़्त है!

तो, आप भी टीवी के लिए लिखना चाहते हैं?

कुछ भी बताने से पहले, मैं अभी आपको साफ़-साफ़ बता दूँ कि मार्क अभी भी फुल-टाइम टेलीविज़न लेखक नहीं हैं। 2000 की शुरुआत में LA आने के बाद से वो धीरे-धीरे सीढ़ियां चढ़ रहे हैं (और कुछ चक्कर लगा रहे हैं)। उनका यह सफर हॉलीवुड में कई पार्ट-टाइम लेखकों जैसा है: वो अपने खाली समय में ऐसे लिख सकते हैं जैसे ये उनकी फुल टाइम जॉब हो, लेकिन अपनी ज़रूरतें पूरी करने के लिए उन्हें टेलीविज़न शोज़ पर दूसरी भूमिकाओं में घंटों समय देना पड़ता है। क्या टीवी लेखक बनना आसान है? इसका छोटा सा जवाब है, नहीं। लंबा जवाब? वो नीचे है!

आप टेलीविज़न लेखक कैसे बनते हैं?

जैसा कि मार्क ने ऊपर बताया है, टेलीविज़न राइटिंग में आने का कोई एक तरीका नहीं है जो सबके लिए, हर समय काम करे। लेकिन, इसमें सफल होने वाले काफी सारे लोगों के इंटरव्यू लेने के बाद, हमें कुछ पैटर्न का पता चला है:

अध्ययन

चाहे आप क्रिएटिव राइटिंग, ड्रामेटिक राइटिंग, या किसी दूसरे फ़िल्म या टेलीविज़न प्रोग्राम के लिए अंडरग्रेजुएट या ग्रेजुएट स्कूल जाते हों, या गूगल विश्वविद्यालय से अपना ज्ञान पाते हों, आपके लिए सबसे ज़रूरी यह जानना है कि टेलीविज़न राइटिंग की बात आने पर आप क्या कर रहे हैं। उन बेहतरीन टीवी शोज़ और शैलियों का अध्ययन करें जिन्हें आप लिखना चाहते हैं, पता लगाएं कि कौन क्या बना रहा है, टीवी पटकथाओं का विश्लेषण करें और पता लगाएं कि वो क्यों सफल हुए हैं, और सबसे ज़रूरी बात यह है कि अपने ख़ुद के लेखन के लिए हमेशा समय निकालें।

LA या किसी दूसरे इंडस्ट्री हब जाएँ

हम डिजिटल दुनिया में रहते हैं। कई सारे लोग रिमोट तरीके से काम कर रहे हैं और नेटवर्क बना रहे हैं। पूरे यूएस में नए-नए फ़िल्म हब बन रहे हैं – अटलांटा, ऑस्टिन और अल्बुकर्क के बारे में सोचें – और दुनिया भर में यही देखा जा रहा है। आगे की दिशा में इन सभी सकारात्मक चरणों के बावजूद, अगर आप टीवी लेखक बनना चाहते हैं तो अभी भी आपको हॉलीवुड आना पड़ता है। क्योंकि वहीं पर ज़्यादातर निर्माण होते हैं, और इंडस्ट्री के ज़्यादातर पेशेवर लोग वहीं रहते हैं, और अगर आप लॉस एंजिल्स में हैं तो आपके लिए एक्सेस पाना कहीं ज़्यादा आसान हो जाता है।

स्पेक स्क्रिप्ट लिखें और आईडिया रखें

आपके पास बहुत सारे ओरिजिनल सीरीज़ की परिकल्पनाएं होनी चाहिए, सीरीज़ आउटलाइन होने चाहिए, और टीवी पर अपने पसंदीदा शोज़ के एपिसोड के लिए कुछ पूरी गई स्पेक स्क्रिप्ट भी होनी चाहिए। अपने ओरिजिनल पायलट आईडिया के लिए आपके पास कम से कम एक बेहतरीन पायलट स्क्रिप्ट होनी चाहिए। यह आपकी रेंज दिखाती है। फ़िल्म के लेखक के विपरीत, जहाँ आप पटकथा लिखते समय अपने असली स्क्रिप्ट आईडिया पर काम कर रहे होते हैं, टेलीविज़न के लिए लिखते समय आप किसी और के लिए और दूसरे पेशेवर लेखकों के साथ लिख रहे होते हैं। आपको यह दिखाने में सक्षम होना चाहिए कि आप किसी टेलीविज़न शो के सामान्य आईडिया को उसके निर्माता से ले सकते हैं, उसी की शैली में टेलीविज़न स्क्रिप्ट लिख सकते हैं, और किरदारों और उनके उद्देश्यों के प्रति सच्चे रह सकते हैं। अपनी मूल आवाज़ और कहानी के मूल विचारों को विकसित करें, लेकिन यह दिखाएं कि आप किसी और की आवाज़ में भी लिख सकते हैं।

नौकरी पाएं

किसी टेलीविज़न सीरीज़ को साकार करने के लिए बहुत सारे लोगों की ज़रूरत होती है, और यह आपके लिए बहुत अच्छी बात है। इसका मतलब है कि वहां बहुत सारी नौकरियां हैं, भले ही वो वैसी नौकरियां नहीं हैं जो आप चाहते हैं, और भले ही आपकी ज़िम्मेदारियों का पहले लेखन से कोई लेना-देना न हो। मेल छांटने से लेकर कैमरा ऑपरेटरों की मदद करने तक, टेलीविज़न राइटिंग में आने की कोशिश करते समय कोई भी काम छोटा नहीं होता। इनमें से कई नौकरियों के लिए किसी पिछले अनुभव की ज़रूरत नहीं होती है। हर काम प्रक्रिया के बारे में जानने, अपने ज्ञान का प्रदर्शन करने और ऐसे लोगों से मिलने का अवसर प्रदान करता है जो सफलता के अगले चरण तक पहुंचने में आपकी मदद कर सकते हैं।

नेटवर्क

इंडस्ट्री के लोगों से मिलने के तरीके खोजें। अगर आप पूरे दिन अपने कंप्यूटर के पीछे बैठे रहेंगे तो आप बहुत दूर तक नहीं जा पाएंगे। आपको ख़ुद को और अपनी सामग्री को लोगों के सामने लाना होगा। सम्मेलनों, इंडस्ट्री पैनल, नेटवर्किंग इवेंट और लेखन सम्मेलनों में हिस्सा लें। फीडबैक पाने के लिए अपनी ओरिजिनल पायलट स्क्रिप्ट शेयर करने या अपनी ओरिजिनल सीरीज़ के लिए अपने विचारों को विकसित करने के लिए लेखन समूहों में शामिल होइए। राइटिंग वर्कशॉप में भाग लें। उन कॉफ़ी शॉप्स में जाएं जहाँ दूसरे लेखक जाते हैं। असहज होइए और ख़ुद को बाहर लाइए। यह बहुत ज़रूरी है।

इंटर्नशिप, राइटिंग फ़ेलोशिप, और प्रतियोगिताएं

हम अपनी वेबसाइट पर पटकथा लेखन से जुड़े बहुत सारे इंटर्नशिप के बारे में पोस्ट करते हैं। और हालाँकि उनमें से ज़्यादातर के लिए आपको कोई पैसे नहीं मिलते, लेकिन अगर आप वर्तमान में छात्र हैं तो उनमें से बहुत सारे आपको फुल-टाइम जॉब या कोर्स लोड रखने की आज़ादी देते हैं। फ़ेलोशिप आपको राइटिंग इंडस्ट्री के लोगों के सामने और बीच में खड़ा कर देते हैं। और जहाँ टीवी राइटिंग प्रतियोगिताओं में मुक़ाबला बहुत कड़ा है, लेकिन अगर आप अपने काम को बाहर लोगों के सामने नहीं लाते तो आपको कभी पता नहीं चलेगा कि आप कहाँ रैंक करते हैं।

मजबूत बनें

टेलीविज़न लेखक बनने के लिए दृढ़ता, धैर्य और मोटी चमड़ी ज़रूरी है। और हम यह बस ऐसे ही नहीं बोल रहे हैं। हम जितने भी टेलीविज़न लेखकों से मिले हैं, वो इस चीज़ से गुज़र चुके हैं और फिर भी आगे बढ़ते जाते हैं।

इन सारी चीज़ों के अलावा, यहाँ पर वो रास्ता दिया गया है जो मार्क ने टीवी लेखक बनने और अपने पहले निर्मित टेलीविज़न एपिसोड का क्रेडिट पाने के लिए अपनाया था। अपना नेटवर्क और रिज्यूमे बड़ा होने और ढेर सारी सफलता पाने के बावजूद वो आज भी इसी रास्ते पर चल रहे हैं।

  1. न्यूयॉर्क में इथाका कॉलेज में गए और रेडियो, टेलीविजन और डिजिटल संचार में स्नातक की डिग्री हासिल की

  2. बिना किसी नौकरी, ऑफर या संपर्क के लॉस एंजिल्स गए

  3. नौकरी पाने की कोशिश में टेलीविज़न शोज़ के पास 100 रिज्यूमे भेजे

  4. उन्हें एक टीवी शो, "द बर्नी मैक शो" से जवाब मिला, जिन्होंने उन्हें कैमरा क्रू PA के रूप में नौकरी ऑफर की

  5. इस बीच, उन्होंने म्यूज़िक वीडियो, शॉर्ट फ़िल्मों, टेलीविज़न निर्माणों और पायलटों पर एक स्वतंत्र कैमरा सहायक के रूप में काम किया

  6. वार्नर ब्रदर्स में टीवी शो "जैक एंड बॉबी" में ऑफिस प्रोडक्शन असिस्टेंट के रूप में काम मिला

  7. एनबीसी के शो "लास वेगास" में असिस्टेंट से लाइन प्रोड्यूसर की भूमिका में आगे बढ़े

  8. पुराने संपर्कों से स्क्रिप्ट कोऑर्डिनेटर की भूमिका के बारे में जाना और वार्नर ब्रदर्स के "रिज़ोली एंड आइल्स" पर अपनी पहली स्क्रिप्ट कोऑर्डिनेटर की नौकरी पाने का मौका मिला

  9. एक स्क्रिप्ट कोऑर्डिनेटर के रूप में "ग्रिम" शो में आये और पूरे शो को अंदर से बाहर तक जाना

  10. अच्छे काम के इनाम के रूप में शोरनर ने उन्हें "ग्रिम" के लिए एक एपिसोड का आईडिया पेश करने के लिए बुलाया

  11. "ग्रिम" के एक एपिसोड के लिए एक सीरीज़ की रूपरेखा तैयार की, जो लेखकों को पसंद आया, और लेखकों ने इसे एपिसोड 316, "द शो मस्ट गो ऑन" में बदलने में मदद की।

मार्क ने निर्मित टेलीविज़न का अपना पहला एपिसोड पाने के बारे में कहा:

"आजकल यह थोड़ा अलग है क्योंकि ज़्यादातर शो में 22 एपिसोड नहीं होते, लेकिन मुझे एक ऐसे शो, "ग्रिम," में होने का सौभाग्य मिला जिसमें 22 एपिसोड थे। और आम तौर पर, जैसे-जैसे सीज़न आगे बढ़ता है, शोरनर सहायकों, लेखक के सहायकों और स्क्रिप्ट कोऑर्डिनेटर को एपिसोड पिच देने का मौका देकर उन्हें इनाम देते हैं, और अगर उन्हें पिच किया हुआ एपिसोड पसंद आता है तो वो उन्हें लिखने देते हैं, और मेरे साथ भी यही हुआ था। शो पर एक असिस्टेंट मेरा दोस्त था। हमने एक साथ आने का फैसला किया, और "ग्रिम" शो के आधार पर एक कॉमिक बुक सीरीज़ पिच की, और, इसके साथ ही हमने उन्हें एक एपिसोड भी पिच किया। उन्हें दोनों आईडिया अच्छे लगे, और उन्होंने हमें दोनों करने की अनुमति दे दी। जो बहुत शानदार बात थी। हमें "ग्रिम" कॉमिक बुक का एक पूरा ब्रह्माण्ड बनाने का मौका मिला, जो किसी भी कॉमिक बुक प्रशंसक के लिए एक सपने के सच होने जैसा था। और इसे डायनामाइट एंटरटेनमेंट ने प्रकाशित किया था, जो एक जाना-माना कॉमिक बुक ब्रांड है। और फिर तीसरे सीज़न में, लोगों को एक एपिसोड के लिए मेरा आईडिया पसंद आया, और इस तरह मैं रूम में आ गया। सारे लेखकों के साथ काम करने पर, आप उनके साथ हफ्ते में 60 घंटे से ज़्यादा समय तक काम करते हैं। आपकी उनसे दोस्ती हो जाती है, और वो आपकी टीम में आ जाते हैं, और सभी लोग आपको सफल होते हुए देखना चाहते हैं, और इसलिए जब आप वो आईडिया पिच करते हैं, उसे लोगों के सामने लाते हैं, तो आम तौर पर पूरा रूम उन लोगों के साथ खड़ा हो जाता है जो ऊपर जा रहे होते हैं और यह सुनिश्चित करता है कि वो एपिसोड ज़्यादा से ज़्यादा अच्छा बन सके।"

स्क्रिप्ट कोऑर्डिनेटर और लेखक मार्क गैफेन

2013 में टेलीविज़न के उस पहले निर्मित एपिसोड के बाद से, मार्क के लॉस एंजिल्स जाने के पूरे एक दशक बाद, उन्हें एनबीसी के "न्यू एम्स्टर्डम" पर लिखने से लेकर अफ्रीका में हाथियों के अवैध शिकार के बारे में "टस्कर्स" नामक एक ग्राफ़िक उपन्यास विकसित करने तक लिखने के कई अवसर मिले। उन्होंने स्क्रिप्ट कोऑर्डिनेटर का काम भी जारी रखा। इस दौरान, वो अपने लेखन कौशल को बनाए रखने और अपने लेखन पोर्टफोलियो को नया रखने की कोशिश में रहते हैं, लेकिन वो यह मानते हैं हफ्ते दर हफ्ते, साल दर साल लिखना मुश्किल होता है। फिर भी वो आगे बढ़ते जाते हैं।

टीवी लेखक बनने में कितना समय लगता है?

इसका जवाब इस बात पर निर्भर करता है कि आप टीवी लेखक को कैसे परिभाषित करते हैं। जहाँ तक मार्क की बात है, उन्होंने टीवी के लिए लिखा है, लेकिन फुल टाइम एक स्क्रिप्ट कोऑर्डिनेटर के रूप में काम करते हैं। वो दो दशकों से इसमें लगे हुए हैं। हमने दूसरे लेखकों से बात की है जो पांच साल में टीवी लेखन में आ गए थे और ऐसे भी लेखक हैं जिन्हें दस साल बाद आख़िरकार फुल टाइम राइटर्स रूम में आने का मौका मिला। इस बात का ध्यान रखें कि किसी लेखक द्वारा राइटर्स रूम में बिताया जाने वाला समय भी बदल रहा है। पहले लेखक टेलीविज़न के पूरे सीज़न में बने रहते थे, लेकिन स्ट्रीमिंग आने के साथ, लेखक कुछ ही महीने में अपने सारे एपिसोड लिख लेते हैं, और फिर उन्हें जाने दिया जाता है। इसके बाद उन्हें दूसरी नौकरी ढूंढनी पड़ती है। टीवी लेखन बहुत मेहनत का काम है।

संक्षेप में, अगर आप टीवी लेखन में आना चाहते हैं तो ये चीज़ें याद रखें:

  1. दृढ़ बनें। अगर आप किसी चीज़ को बहुत ज़्यादा चाहते हैं तो आपको कभी हार नहीं माननी चाहिए। ये रातों-रात नहीं होगा, लेकिन कभी न कभी, कोई आपके काम को नोटिस ज़रूर करेगा और आपको ख़ुद को साबित करने का मौका देगा।

  2. नेटवर्किंग ज़रूरी है। यह कहावत आज भी कायम है कि जब एक दरवाज़ा बंद होता है तो दूसरा खुल जाता है। इसलिए, अपने क्षेत्र में अन्य लोगों के साथ नेटवर्क बनाएं, उद्योग के कार्यक्रमों में भाग लें, संगठनों आदि में शामिल हों, और रिश्ते बनाएं। इससे भविष्य में रोज़गार मिल सकता है या यहाँ तक कि आपको फ्रीलांस के काम पाने में भी मदद मिल सकती है।

  3. हर दिन लिखें। अगर आप हर सत्र में बस 20 मिनट का समय भी निकाल पाते हैं तो इस शेड्यूल पर बने रहें। आपके दिमाग को भी आराम की ज़रूरत होती है।

  4. सकारात्मक रहें। पीछे देखने के बजाय हमेशा आगे देखें। याद रखें: हॉलीवुड में चीज़ें बदलते वक़्त नहीं लगता। एक पल आप बेरोजगार होंगे; अगले ही पल आपको स्टाफ की पोज़िशन हासिल हो जाएगी।

  5. मज़ा लें। जी हाँ, यह मुश्किल काम है, लेकिन नीरस नहीं लगना चाहिए। इस प्रक्रिया का मज़ा लेने की कोशिश करें। आख़िरकार आप वो कर रहे हैं जो आपको अच्छा लगता है।

जो चीज़ आसानी से मिल जाए उसमें क्या मज़ा,

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

पटकथा लेखक एडम जी. साइमन का "बहुमूल्य ना बनें," एवं अन्य सुझाव

हॉलीवुड से लेकर पाकिस्तान तक, दुनिया भर के पटकथा लेखकों ने पटकथा लेखक एडम जी. साइमन से अपने पटकथा लेखन के करियर को आगे बढ़ाने के बारे में सवाल पूछने के लिए हमारी इंस्टाग्राम स्टोरी का रुख किया। उन्होंने लेखन समुदाय से बताया कि, "मुझे योगदान करना पसंद है क्योंकि वास्तव में मेरी किसी ने मदद नहीं की थी। मैं चाहता हूँ कि ज्यादा लोग सफलता पाएं। मैं चाहता हूँ कि ज्यादा लोग अंदर आएं। मैं चाहता हूँ कि ज्यादा लोग योजनाएं बनाएं। उद्योग में अंदर आने से पहले, मेरे पास बैंक खाते में नेगेटिव 150 डॉलर और पटकथाओं का एक झोला था। इसने मुझे एक ऐसी स्थिति में डाल दिया था जहाँ मेरे लिए करो या मरो की स्थिति हो गयी थी। उस समय थोड़ी सलाह मेरे लिए अच्छी होती।" और इसलिए, उन्होंने सलाह दी...

अपनी पटकथा बेचें

अपनी पटकथा कैसे बेचें

आपने अपनी पटकथा पूरी कर ली है, और पूरी करने से मेरा मतलब है आपने इसे बिल्कुल पूरा कर लिया है। आपने इसे लिखने के बाद, दोबारा दोहरा लिया है, इसे संपादित कर लिया है, और अब आप इसे बेचना चाहते हैं। आप वो कैसे करते हैं?! आज मैं आपको अपनी पटकथा बेचने के तरीकों के बारे में बताने वाली हूँ। मैनेजर या एजेंट पाएं: मैनेजर किसी लेखक की विकसित होने में मदद करते हैं। वे आपको फ़ीडबैक देते हैं जिससे आपकी पटकथा ज़्यादा मजबूत होगी, नेटवर्क बनाने में आपकी मदद करते हैं, और इंडस्ट्री के पेशेवर लोगों का ध्यान आपकी ओर आकर्षित करने की कोशिश करते हैं। मैनेजर आपके लिए एक ऐसा एजेंट खोजने में...