पटकथा लेखन ब्लॉग
पर प्रविष्ट किया लेखक विक्टोरिया लूसिया

पटकथा लेखन लैब में मेरा अनुभव

पटकथा लेखन लैब में मेरा अनुभव

सितंबर 2019 में, मुझे स्टोव, वर्मोंट में स्टोव स्टोरी लैब्स के नैरेटिव लैब में हिस्सा लेने के लिए NewEnglandFilm.com के फ़ेलो के रूप में चुने जाने का सौभाग्य मिला। आज मैं आप सबको लैब में हिस्सा लेने से जुड़े अपने अनुभव के बारे में बताने वाली हूँ कि मुझे इसमें क्या अच्छा लगा, मुझे इससे कौन सी सबसे बड़ी सीख मिली, और अगर आप लेखन लैब में हिस्सा लेते हैं तो मैं आपको क्या सलाह दूंगी!

स्टोव स्टोरी लैब क्या है?

स्टोव स्टोरी लैब एक गैर-लाभकारी संस्था है, जिसका उद्देश्य परियोजनाएं बनाने के लिए लेखकों, फिल्मकारों, और निर्माताओं को इंडस्ट्री में काम करने वाले पेशेवर लोगों के साथ लाना है। उनके प्रोग्रामों में लैब, लेखक के रिट्रीट, साथ ही साथ एक वित्तीय एजेंसी शामिल है, जो चुनिंदा परियोजनाओं का समर्थन करने में मदद करती है।

मैंने नैरेटिव लैब में हिस्सा लिया था, जो कौशल विकास, दूसरे लेखकों के साथ नेटवर्किंग, और इंडस्ट्री में काम करने वाले लोगों तक पहुंच बनाने पर केंद्रित चार-दिन का व्यापक कार्यक्रम है।

क्या इसमें हिस्सा लेने के लिए पैसे देने पड़ते हैं?

हाँ, नैरेटिव लैब में हिस्सा लेने के लिए आपको $2,450 देना पड़ता है। लेकिन आप पूर्ण और आंशिक स्कॉलरशिप का आवेदन कर सकते हैं! मेरे NewEnglandFilm.com फ़ेलोशिप ने मेरे प्रतिभागिता शुल्क की भरपाई की थी।

एक सामान्य दिन कैसा होता था?

एक सामान्य दिन में निम्नलिखित शामिल होता था:

  • छोटे-छोटे समूहों में बैठक होती थी और हम अपनी परियोजनाएं पिच करने के बारे में चर्चा करते थे। हम अपनी पिच का अभ्यास करते थे और फ़ीडबैक देते थे। हमने हर दिन पिच देने का अभ्यास किया, इसलिए यह देखकर बहुत अच्छा लगा कि पूरी लैब के दौरान सबकी पिच में काफ़ी सुधार हुआ था।

  • कहानी की संरचना जैसे विषय पर हमें एक प्रेजेंटेशन मिला।

  • दोपहर के खाने पर, हम उन लोगों से मिलने और बातचीत करने के अवसर का फ़ायदा उठाते थे जिनसे अब तक हमारी मुलाक़ात नहीं हुई है।

  • लैब से पहले, हम अपने साथी समूह में सबके पास अपनी पटकथाएं भेजते थे। इसलिए, हर दिन, हम साथी समूहों से मिलते थे, और फ़ीडबैक देने के लिए किसी एक व्यक्ति की पटकथा चुनते थे।

  • हम प्रशिक्षकों से मिलते थे और इसपर बातचीत करते थे कि वे क्या करते हैं और उन्हें किसकी तलाश है, और इसके बाद हम अपनी परियोजनाएं पिच करते थे और उनसे फ़ीडबैक पाते थे।

  • डिनर के समय, हम एक बार फिर संपर्क बनाते थे और एक-दूसरे को जानने की कोशिश करते थे।

  • डिनर के बाद, हम अक्सर ड्रिंक के लिए जाते थे और आपस में घुलते-मिलते थे।

सबसे बड़ी सीख

स्टोव स्टोरी लैब ने मेरे लिए जो सबसे बड़ी चीज़ की वो यह कि इसमें हिस्सा लेने के बाद, इसने मुझे मिलने वाले अवसरों का फ़ायदा उठाने के लिए तैयार किया। नैरेटिव लैब ने मुझे अपनी परियोजनाओं के बारे में बात करना और इसे पिच करना सिखाया। हर दिन पिच पर काम करके मैं यह सीख पायी कि मैं अपनी पटकथा की उन महत्वपूर्ण चीज़ों को कैसे व्यक्त कर सकती हूँ जिन्हें मैं दूसरे इंसान तक पहुंचाना चाहती हूँ, मैं उस व्यक्ति को अपनी पटकथा से कैसे संतुष्ट कर सकती हूँ जिससे मैं बात कर रही हूँ, और मैं जिस तरह के बैठक में हूँ उसके आधार पर अपनी पिच कैसे बढ़ा या घटा सकती हूँ। इस लैब ने मुझे अपने काम को लेकर घबराहट और बेचैन महसूस करने के बजाय आत्म-विश्वासी और मजबूत महसूस करना सिखाया।

पसंदीदा हिस्सा

लैब में मुझे कई सारे दूसरे लेखकों साथ ही साथ इंडस्ट्री के पेशेवर लोगों से मिलना सबसे अच्छा लगा! स्टोव स्टोरी के समुदाय में जगह पाना और दूसरे शानदार कहानीकारों से मिलना बेहद अच्छा अनुभव था, ख़ासकर तब जब मैं एक ऐसी जगह आती हूँ जहाँ बहुत प्रभावशाली फ़िल्म समुदाय नहीं है।

सलाह

अगर किसी लेखन लैब में आपका आवेदन स्वीकार कर लिया जाता है तो अपने अंदर सबकुछ समाहित करने के लिए तैयार रहें! लैब अक्सर बहुत व्यस्त होते हैं और वहां आपको लगातार सीखते रहने की ज़रुरत होती है, इसलिए हमेशा जागरूक रहें और हर चीज़ पर ध्यान दें।

लोगों से मिलने से न डरें! संपर्क बनाएं! मैं एक ऐसी इंसान हूँ जिसे नए लोगों से मिलने में घबराहट होती है, इस लैब से मुझे इस घबराहट से छुटकारा पाने और ज़्यादा आसानी से संपर्क बनाने में मदद मिली।

साथ ही, यह पता लगाएं कि आपका मनपसंद लैब स्कॉलरशिप देता है या नहीं! अगर मुझे फ़ेलोशिप न मिली होती तो मैं स्टोव स्टोरी लैब में हिस्सा नहीं ले पाती। कुछ लैब सहायता प्रदान करते हैं ताकि ज़िन्दगी के सभी क्षेत्रों से आने वाले लेखक इसमें हिस्सा ले सकें।

स्टोव स्टोरी लैब में बिताया गया समय मुझे बहुत अच्छा लगा। मैं बहुत सारे बेहतरीन लेखकों और प्रशिक्षकों से मिल पायी, और मुझे यह सीखने में मदद मिली कि मैं अपनी पिच में किसी पटकथा को किस तरह से प्रस्तुत कर सकती हूँ। अगर आपको इसके लिए आवेदन करने का मौका मिलता है तो मैं इसका सुझाव ज़रुर दूंगी! मैंने इस लेख में दुनिया के कुछ सबसे अच्छे पटकथा लेखन लैबों की सूची तैयार की है, इसलिए इसे देखना न भूलें।

आपको इसमें भी दिलचस्पी हो सकती है...

Ashlee Stormo: A Day in the Life of An Aspiring Screenwriter

एश्ली स्टॉर्मो: एक महत्वाकांक्षी पटकथा लेखिका की ज़िंदगी का एक दिन

हैलो, पटकथा लेखकों! एश्ली स्टॉर्मो एक महत्वाकांक्षी पटकथा लेखिका हैं, और वो अपनी रोज़मर्रा की ज़िन्दगी को रिकॉर्ड करके हमारे साथ शेयर करने वाली हैं। आप उनसे कुछ सीख सकते हैं, या शायद पटकथा लेखन में नया संपर्क बना सकते हैं! जो भी हो, हमें उम्मीद है कि अगले कुछ महीनों के दौरान उनके साप्ताहिक सीरीज़ से आपको कुछ सीखने का मौका मिलेगा। आप @AshleeStormo पर उनसे इंस्टाग्राम या ट्विटर के माध्यम से जुड़ सकते हैं, और आप हमारे यूट्यूब चैनल पर "महत्वाकांक्षी लेखिका की ज़िन्दगी का एक दिन" पर जाकर उनकी पूरी सीरीज़ भी देख सकते हैं। "आज मैं आपको दिखाना चाहती थी कि दो नौकरियां करते हुए भी...
SoCreate's “So, Write Your Bills Away” Sweepstakes winner 28-year-old Zachary Rowell

Let’s Hear it for Zachary Rowell, SoCreate’s “So, Write Your Bills Away” Sweepstakes Winner

From nearly 5,000 entries, we are proud to introduce you to 28-year-old Zachary Rowell, SoCreate’s “So, Write Your Bills Away” Sweepstakes winner! Over the next three months (October 2019-December 2019), we’ll pay Zachary’s bills so he can focus on writing a feature-length screenplay, instead of focusing on finances. The best part is that you get to follow along as he does it! Zachary made the risky choice to move to California two years ago from his small hometown in Texas to pursue his screenwriting dreams. He makes ends meet through freelance writing projects and Postmates and DoorDash...

टॉप स्क्रीनराइटिंग लैब

दुनिया के टॉप स्क्रीनराइटिंग लैब

क्या आपने कभी यह सोचा है कि काश आप किसी ऐसी जगह जा पाते जहाँ आप समान विचारधारा वाले लोगों से मिलते, अपनी कला को बेहतर बनाते, और अपना करियर आगे बढ़ाते? आप ऐसा कर सकते हैं! स्क्रीनराइटिंग लैब ऐसे ही स्थान होते हैं। प्रशिक्षकों के मार्गदर्शन में सीखने और अपनी लिखने की कला विकसित करने के लिए ये लैब लेखकों को एक साथ लाते हैं। वो उन लेखकों के लिए अच्छा विकल्प हैं जिनके पास लिखने का अच्छा अनुभव है, लेकिन वो अपनी कला को और आगे ले जाना चाहते हैं। लैब में प्रवेश पाना मुश्किल हो सकता है, इसलिए आप यहाँ अपना शुरूआती ड्राफ्ट जमा नहीं करना चाहेंगे...

टिप्पणियां