Company

SoCreate का निर्माण कोई तेज़ दौड़ या मैराथन नहीं रहा बल्कि ... यह एक सफ़र रहा है।

बड़े पर्दे पर आने वाले कई शानदार सफ़र की तरह, SoCreate के बनने की कहानी भी बहुत सारे उतार-चढ़ावों, बड़े उछालों के बाद बड़ी नाकामयाबियों, कामयाबियों, और साथ ही साथ जोखिम से भरी हुई है। हमारी कहानी हमारी अपनी है और सच्ची है। यही हमारे मिशन को पूरा होता हुआ देखने के लिए हमारा फोकस और दृढ़ संकल्प है। हमारे संस्थापक ने 20 साल पहले SoCreate का सपना देखा था, और अब हम एक बड़े ख़ुलासे के बहुत क़रीब हैं - जो केवल एक बड़े परिदृश्य की झलक भर है। अगर आप यह सोच रहे हैं और जानना चाहते हैं कि आज से दो दशक पहले किसी ऐसी तकनीक के बारे में सोचना कैसे संभव हो सकता है जो आज के समय के लिए उपयुक्त हो, तो ऐसा सोचने वाले आप अकेले नहीं हैं। सबको ऐसा ही लगता है जब तक कि वो इसे पहली बार देख नहीं लेते। हमें लगता है SoCreate सबकुछ बदलने वाला है।

हमारी कहानी एक छोटे से शहर के छोटे से खेत से शुरू हुई थी।

हमारे संस्थापक एक छोटे से शहर के छोटे से खेत में काम करने वालों, समाधान निकालने वालों, और समस्या सुलझाने वालों के बीच पले-बढ़े थे। जब कोई चीज़ ठीक से काम नहीं करती थी तो वो अपने पास मौजूद सभी सामग्रियों या उपकरणों से समस्या को सुलझाने की कोशिश करते थे। जब आप ऐसी परिस्थिति में बड़े होते हैं तो आप उन समस्याओं को कभी भी पहचानना और सुलझाना बंद नहीं करते जो आपको उत्पादक बनने से रोकती हैं। यह आपके डीएनए में होता है और इसे बंद करने का कोई तरीका नहीं होता।

कॉलेज में फ़िल्म में अपना करियर बनाते समय, जस्टिन पटकथा लिखना सीख रहे थे और इसकी प्रक्रिया से पूरी तरह से हताश थे। उद्योग में प्रयोग किया जाने वाला जो सॉफ्टवेयर वो इस्तेमाल कर रहे थे वो बोझिल और बेकार था। उसकी वजह से जस्टिन बिल्कुल परेशान हो गए और उनकी सारी रचनात्मक क्षमता ख़त्म हो गयी। बस शुरुआत करने के लिए उन्हें बहुत सारी चीज़ें जानने की जरुरत पड़ी थी। ये बहुत साधारण उपकरण था, जिसका इस्तेमाल करने से अच्छा था कि आप कोई उपकरण इस्तेमाल ही न करते। यह घटिया था। जस्टिन इसके बारे में सोचना बंद नहीं कर पा रहे थे। यह हमेशा उनके दिमाग में चलता रहता था। उन्होंने सोचा, ये प्रक्रिया इतनी हताशा भरी क्यों है? इतनी मज़ेदार चीज़ हज़ारों सुइयों से होने वाली मौत में कैसे बदल सकती है? वो बार-बार बस उन बेहतरीन कहानीकारों के बारे में सोचते थे जिनके लिए यह प्रक्रिया इतनी मुश्किल रही होगी कि उन्होंने इससे हार मान ली। उन्हें इसे ठीक करना था।

जहाँ जस्टिन पटकथा लेखन के बुरे अनुभव के बारे में सोचना बंद नहीं कर पा रहे थे, वहीं वो एक इंटरनेट सेवा प्रदाता के यहाँ काम करके कॉलेज की फीस भी दे रहते थे जहाँ वो कोड लिखना सीखते थे।

इसके बाद, 1999 की एक शाम, स्कूल, काम, और पटकथा लेखन का एक परेशानी भरा सत्र बिताने के बाद, जस्टिन नहाने गए और वहीं उनके मन में विचार आया। पटकथा लेखन को किस तरह से ज्यादा बेहतर बनाया जा सकता है इसके बारे में महीनों तक अलग-अलग योजनाओं पर विचार करने के बाद, जस्टिन ने पारंपरिक लेखन को छोड़ दिया। उन्होंने एक बिल्कुल नए अनुभव की कल्पना की, जो बाधाओं को बहुत कम करता और पटकथा लेखन के मज़े को बढ़ाता। अपने विचारों से ऊर्जावान होने के बाद, जस्टिन शावर से बाहर निकलें और उन्होंने रात में देर तक प्रोग्राम बनाया। महीनों तक इसपर काम करने के बाद उन्हें यह समझ आ गया कि उनके कौशल और तकनीक की वर्तमान स्थिति उस चीज़ के लिए काफ़ी नहीं थी जो उन्हें चाहिए थी। तो उसी समय, उन्होंने अपने विचारों को संभालकर रखने का फ़ैसला किया और अपने आप से यह वादा कि भविष्य में वो अपनी योजनाओं को पूरा करने का तरीका खोजेंगे, जब दुनिया इसके लिए तैयार होगी। लेकिन उन्होंने यह नहीं सोचा था कि वो भविष्य इतना दूर होगा।

उसके बाद जल्द ही, उनके मन में एक नया विचार आया जिसके लिए जस्टिन को लगा कि दुनिया तैयार थी। अपने दोस्तों की मदद से, जस्टिन ने अपनी एक नयी योजना को आकार दिया और दुनिया के सबसे पहले आधुनिक कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम में से एक प्रदान करने के लिए सोम्नियो वर्ल्ड वेब सोल्यूशंस नामक स्टार्टअप की सह-स्थापना की। यह CMS अपने समय से बहुत आगे था – और वर्डप्रेस से भी चार साल आगे था। जस्टिन और उनके सहयोगियों ने स्टार्टअप शुरू करने के लिए दिन-रात काम किया। इसके बाद, लॉन्च होने से ठीक पहले, .COM क्रैश आया, जिसकी वजह से तकनीकी दुनिया इतनी ज्यादा बर्बाद हो गयी कि लोगों ने सचमुच यह सोचना शुरू कर दिया कि वेबसाइटें केवल एक तरह की सनक थीं। फिर भी, जस्टिन और उनके सहयोगियों ने काम करना जारी रखा और कुछ हफ़्तों के बाद इस दौरान ही अपना CMS लॉन्च कर दिया। उनका CMS समाधान बेहतरीन था और अपने समय से आगे का था, फिर भी उसके कोई प्रशंसक नहीं मिले।

2001 में 11 सितंबर के हमले के बाद स्थिति और ज़्यादा खराब हो गयी। जस्टिन और उनके सहयोगियों ने स्टार्टअप पर अपने ख़ुद के पैसे लगाते हुए, तीन साल तक इसे जारी रखा जब तक कि 2004 के मार्च महीने में अंत में इसे ख़रीद नहीं लिया गया।

अपने इस अनुभव से जस्टिन को दो चीज़ें सीखने को मिलीं। पहली: दुनिया को अपने सॉफ्टवेयर के बारे में बताने के लिए इसके पूरा होने का इंतज़ार न करें। आप जितनी जल्दी इसके बारे में बताते हैं, उनकी रूचि जगाने के लिए आपके पास उतना ही ज़्यादा वक़्त होता है। दूसरा: पैसों के लिए अपने ऊपर निर्भर रहें। अगर पैसे आसानी से आते हैं तो? बहुत अच्छी बात है। लेकिन इसपर निर्भर न रहें क्योंकि हो सकता है ज़रूरत के समय ये आपके लिए मौजूद न रहे।

चार साल बाद, अपना स्टार्टअप सफलतापूर्वक बेचने के बाद भी, जस्टिन पटकथा लेखन की समस्या के बारे में सोचना बंद नहीं कर पा रहे थे। इस समय तक, यही उनका उद्देश्य बन गया था। उन्होंने अब फ़ैसला कर लिया था कि उनकी दूसरी कंपनी ही उनकी तीसरी कंपनी में पैसा लगाने का तरीका बनेगी - जो एक क्रांतिकारी पटकथा लेखन प्लेटफॉर्म होगा।

जस्टिन की योजना सरल थी। उन्हें अपनी दूसरी कंपनी ऐसी बनानी थी कि उससे बड़ी मात्रा में पैसे आते रहें ताकि पटकथा लेखन प्लेटफॉर्म के विकास के लिए इसे इस्तेमाल किया जा सके, और अपने सपनों की परियोजना बनाने के लिए उन्हें वेंचर फंडिंग पर निर्भर होने की ज़रूरत न पड़े। लगभग दो साल तक, उन्होंने परामर्श का काम करते हुए ज़्यादा से ज़्यादा पैसे बचाएँ। इसके बाद, 2005 के अंत में, उन्होंने काउटो सॉल्यूशंस लॉन्च करने के लिए, अपने चचेरे भाई, मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी, बिली सौज़ा के साथ साझेदारी की। एक साल बाद, उन्होंने सॉफ्टवेयर प्रमुख जेमी ल्यूरॉक, UX प्रमुख ब्रायन ट्रीसे, और मुख्य वित्त अधिकारी रोज़ा काउटो को नियुक्त करके अपनी टीम को बड़ा किया।

2010 तक, काउटो सॉल्यूशंस के लिए चीज़ें ठीक से चलने लगीं। टीम ने ऑनलाइन समुदायों के लिए सॉफ्टवेयर बनाने पर अपना ध्यान केंद्रित किया। दो साल बाद, काउटो सॉल्यूशंस के एंटरप्राइज ग्राहकों को बढ़ाने में मदद करने के लिए संचालन प्रमुख एमी प्रुएट टीम का हिस्सा बनीं। इन ग्राहकों की सूची में माइक्रोसॉफ्ट, द मार्च ऑफ़ डाइम्स, लेक्समार्क, स्लिमफास्ट, आदि शामिल थे। अपने ऑनलाइन समुदायों को बढ़ाने और प्रबंधित करने में मदद करने के लिए ग्राहक काउटो सॉल्यूशंस के सॉफ्टवेयर पर निर्भर हुए, और उन्होंने इसके अच्छे पैसे भी दिए।

2014 में, जस्टिन ने इतने पैसे बचा लिए थे कि अब वो उस चीज़ को बनाना शुरू कर सकते थे जिसका वो इतने सालों से सपना देख रहे थे, लेकिन उन्हें लगा कि एक अपस्ट्रीम प्रदाता अधिग्रहण उनके इस सपने पर मोहर लगा देगा। और वो डील जल्द ही हुई। जैसे-जैसे डील अपने परीक्षण के चरण से आगे बढ़ने लगी उत्सुकता भी बढ़ी। लेकिन फिर, किसी बुरे सपने की तरह, सबकुछ बर्बाद हो गया। अंतिम समय में, अपस्ट्रीम प्रदाता ने समझौते को बदलने की कोशिश की, और उनकी शर्तों का कोई मतलब नहीं बन रहा था। टीम ने इस डील को पूरा करने की पूरी कोशिश की लेकिन वो लड़ाई हम तब हार गए जब उस अपस्ट्रीम प्रदाता को किसी दूसरी कंपनी ने ख़रीद लिया, और इसका फोकस पूरी तरह से बदल दिया।

जस्टिन हताश हो गए थे। उनकी काउटो सॉल्यूशंस की टीम अपना ब्रांड बदलकर पटकथा लेखन प्लेटफॉर्म बनाना शुरू करने के लिए तैयार थी, लेकिन अब, जस्टिन को लगा कि उनके इस सपने को पूरा करने के लिए बैंक में पर्याप्त पैसे नहीं थी। टीम आगे बढ़कर यह कैसे सुनिश्चित कर पायी कि कंपनी बची रहे? टीम ने एक साथ मिलकर सोच-विचार किया और एक हाइब्रिड समाधान बनाया: उन्होंने सहयोग अनुबंधों को अपने प्रतिस्पर्धियों को बेच दिया, इसके बाद एक मौजूदा ग्राहक के लिए नया और बड़ा कस्टम डेवलपमेंट प्रोजेक्ट लिया। इससे कंपनी बच गयी और वे जस्टिन की महत्वाकांक्षी परियोजना शुरू कर पाए, लेकिन इसकी गति बहुत ज़्यादा धीमी हो गयी।

1 फरवरी, 2015 को, हमने आधिकारिक रूप से अपना ब्रांड बदला और SoCreate लॉन्च किया। यह उम्मीद और उत्साह से भरा हुआ रोमांचक दिन था। हमारे पास एक नया मिशन था, एक नया लोगो था, और एक नयी वेबसाइट थी। अब दुनिया को बताने का समय आ गया था कि हम क्या करने की सोच रहे हैं।

हमने धीरे-धीरे आगे बढ़ना शुरू किया। काउटो सॉल्यूशंस के ग्राहकों को उनके नए सेवा प्रदाताओं के पास भेजने में ढाई साल का वक़्त लगा। टीम ने अपने अनुबंधात्मक दायित्वों से भी आगे बढ़कर यह सुनिश्चित किया कि उनके महत्वपूर्ण ग्राहकों के लिए यह परिवर्तन सफल हो। उन्हें अपने कस्टम डेवलपमेंट प्रोजेक्ट पर भी अपने संसाधन लगाने पड़ रहे थे जो SoCreate के वित्तपोषण में मदद कर रहा था।

2017 तक, जब हमारी ज़्यादातर टीम कस्टम डेवलपमेंट प्रोजेक्ट पर काम कर रही थी, तब सीओओ एमी प्रुइट और जस्टिन उद्योग में हर स्तर पर मौजूद पेशेवर पटकथा लेखकों के साथ 50 से अधिक विस्तृत साक्षात्कार पूरे कर चुके थे। हॉलीवुड के सबसे सफल पटकथा लेखकों से लेकर अपना सबसे पहला काम पाने वाले पटकथा लेखकों तक से बात करके, एमी और जस्टिन पेशेवर तरीके से यह काम करने वाले लोगों के अनुभवों के बारे में जानना चाहते थे ताकि वो जस्टिन के विचारों से उनका मेल कर पाएं, और पटकथा लेखन उद्योग और लेखकों की ज़रूरतों के बारे में हर संभव चीज़ जान पाएं। उन्होंने प्रत्येक व्यक्ति के काम करने के तरीके, उनके कार्यप्रवाह, और उनकी रचनात्मक प्रक्रियाओं की हर बारीकी पर ध्यान दिया। उन्होंने कुछ भी अपनी कल्पना पर नहीं छोड़ा। उन्होंने लेखकों का तब तक साक्षात्कार लिया जब तक कि इस प्रक्रिया से सबकुछ ज़ाहिर नहीं हो गया।

अंत में, उन्हें यह जानकर हैरानी हुई कि पटकथा लेखक हर रोज़ इस्तेमाल किये जाने वाले उद्योग के मानक सॉफ्टवेयर से कितना ज़्यादा परेशान थे। जितने भी पटकथा लेखकों का साक्षात्कार लिया गया था, उसमें से केवल एक इंसान ने कहा कि उन्हें वो उपकरण पसंद हैं जिसे वो प्रयोग कर रहे हैं। यह बहुत चकित करने वाली बात थी कि इतने सालों से जस्टिन ने जो भी अनुमान लगाए थे वो कितने सटीक थे। बीस साल बाद भी, लगभग कुछ नहीं बदला था। दुनिया पूरी तरह बदल गयी थी। हमारे पास आईफोन, मोबाइल इंटरनेट, क्लाउड सबकुछ था, फिर भी पटकथा लेखन सॉफ्टवेयर की दुनिया अभी भी ठहरी हुई थी।  

जैसा कि जस्टिन ने सोचा था, SoCreate हर स्तर के पटकथा लेखकों को होने वाली लगभग 80 प्रतिशत समस्या का हल निकालेगा। अच्छी बात यह है कि इन पटकथा लेखकों की बातों को गहराई से सुनने और इसपर विचार करने के बाद उन्हें जो भी नयी जानकारी मिली है, उससे SoCreate की टीम को उस बाकी के 20 प्रतिशत की खाई को भरने का और एक बेहतरीन पटकथा लेखन समाधान प्रदान करने का मौका मिलेगा।

UX प्रमुख ब्रायन ट्रेसी और जस्टिन ने SoCreate का प्रोटोटाइप डिज़ाइन करना शुरू किया। हर बार प्रोटोटाइप में बदलाव के बाद, ब्रायन और जस्टिन प्रतिक्रिया प्राप्त करने के लिए SoCreate के टीम के सदस्यों के साथ प्रोटोटाइप साझा करते थे। इस प्रक्रिया को पूरा होने में लगभग दो साल लगे। जब SoCreate का प्रोटोटाइप बनकर पूरा हुआ, तो इसने सबके होश उड़ा दिए। यह सरल, शक्तिशाली और मज़ेदार था। हमें इसपर बेहद गर्व हुआ।

प्रोटोटाइप पूरा होने के बाद, सॉफ्टवेयर प्रमुख जेमी ल्यूरॉक और जस्टिन ने उस तकनीक के शेष भागों को मज़बूत बनाया, जिसे इस्तेमाल करके हम SoCreate बनाने वाले थे। यह प्लेटफॉर्म क्लाउड पर आधारित एप्लीकेशन होगा जो दुनिया भर के सभी लोगों की सेवा के लिए उपलब्ध हो सकता है।

तकनीक के ठोस होने के बाद, उस कस्टम डेवलपमेंट प्रोजेक्ट के दायरे में बड़े पैमाने पर बढ़ोतरी हुई जिसे हमने SoCreate के वित्तपोषण के लिए लिया था। असली योजना में एक आंतरिक और पुराने एप्लीकेशन के प्रयोगकर्ता इंटरफ़ेस का आधुनिकीकरण करके इसे आधुनिक वेब ब्राउज़र के साथ सुसंगत बनाना था। इसके बाद, जब टीम डिज़ाइन अपग्रेड करने वाली थी तब ग्राहक ने अपने एप्लीकेशन को क्लाउड पर भेजने का फ़ैसला किया और अब वो उस पुरानी तकनीक में निवेश नहीं करना चाहते थे जिसपर उनका एप्लीकेशन बना हुआ था। इसका नतीजा ये हुआ कि परियोजना को लगभग वापस दोबारा लिखना पड़ा। जिसकी वजह से एक मुश्किल परिस्थिति पैदा हुई जिसका फ़ायदा और नुकसान दोनों था। फ़ायदा यह था कि हम ग्राहक की परियोजना के लिए प्रयोग की गयी तकनीक को उस तकनीक के साथ मिला सकते थे, जिसे SoCreate को बनाने के लिए प्रयोग किया गया था। ऐसा करके, हम ग्राहक की परियोजना के लिए आवश्यक क्लाउड प्रौद्योगिकी स्टैक सीखने के लिए भुगतान पा सकते थे और फिर उस जानकारी का उपयोग करके जल्दी से SoCreate का निर्माण कर सकते हैं। इसके अलावा, भविष्य में यह SoCreate के वित्तपोषण के लिए पैसे पाने में भी मदद करता। इसमें दोनों को फ़ायदा था। लेकिन इसका नुकसान यह था कि यह हमारी गति को धीमा कर देता, और इसने यही किया। बहुत बड़े स्तर पर।

धीमी गति में भी, हमने अपना फोकस नहीं खोया और आगे बढ़ना जारी रखा। अक्टूबर 2018 में, जल्द ही, सामुदायिक जनसंपर्क निर्देशक कोर्टनी मेज़नेरिक SoCreate टीम में शामिल हुईं। कोर्टनी का फोकस उस काम को बढ़ाना था जो हम कर रहे थे और बहुत सारे लोगों को SoCreate के बारे में जागरूक करना था। जब कोर्टनी ने शुरुआत की थी तब हमारे पास पहले से ही एक निजी बीटा सूची थी जिसमें 6,000 से थोड़े ज़्यादा पटकथा लेखक शामिल थे। हमें उम्मीद थी कि कोर्टनी इस सूची को बढ़ा सकती हैं और उन लोगों तक पहुँच बनाने के सबसे अच्छे तरीकों का पता लगा सकती हैं जिन्हें इसमें सबसे ज़्यादा दिलचस्पी होगी। कोर्टनी ने हमारी उम्मीद को भी पार कर दिया और तेज़ी से हमारी बीटा सूची को 10,000 तक बढ़ाया, इसके बाद 15,000 तक पहुंचा दिया और अब हम 20,000 के करीब हैं। हर दिन, हमारी सूची ज़्यादा मज़बूत हो रही है, और ज़्यादा से ज़्यादा पटकथा लेखकों को शामिल कर रही है जो कुछ नया चाहते हैं। हम उस दिन का इंतज़ार कर रहे हैं जब हम उनके लिए एक पूरी नयी दुनिया खोलेंगे, और वो दिन जल्द ही आने वाला है।

2019 के जून में, जब हमने अपने बीटा लॉन्च के बारे में सोचना शुरू किया, तो हमें यह पता चल गया था कि अब हमें अपनी चार साल पुरानी वेबसाइट को सुधारना होगा। हम दुनिया भर के पटकथा लेखकों की सेवा के लिए अपनी सामग्री को आठ अलग-अलग भाषाओं में मैन्युअल रूप से अनुवादित कर रहे थे, और हमें इसमें लगने वाले समय को कम करने की ज़रूरत थी। नियुक्ति से लेकर सहयोग तक, हमारी कंपनी के सभी पहलुओं का समर्थन करने के लिए हमें एक मज़बूत प्लेटफॉर्म की भी ज़रूरत थी। अब हमारे ब्रांड को बड़ा करने का भी समय आ गया था, ताकि हम इसका एक ऐसा स्वरुप स्थापित कर सकें जिसे लोग कहीं भी पहचान सकें और इससे जुड़ सकें।

एक साल बाद, जून 2020 में, हमने वो साइट लॉन्च की जिसपर आप यह पढ़ रहे हैं। अब हमारे लिए केवल एक चीज़ पर फोकस करना बचा है वो है हमारे प्लेटफॉर्म को पूरा करना और इसे दुनिया भर के कहानीकारों के पास पहुँचाना। हमने इस परियोजना में और ज़्यादा मेहनती इंजीनियर शामिल किये हैं, और चीज़ें पूरी हो रही हैं। हम अपने और पटकथा लेखन के भविष्य को लेकर बहुत उत्साहित हैं। अब हमारे अंदर पहले से कहीं ज़्यादा उत्साह है। हमें कोई चीज़ नहीं रोक सकती।

SoCreate को बनाने का सफ़र लंबा रहा है। यह उस पारंपरिक ज्ञान का पर्दाफ़ाश करता है कि आपको तकनीकी स्टार्टअप कैसे बनाना "चाहिए"। लोग इसे विफलता और संघर्ष से जोड़ते हैं, और ज़्यादातर "जानकार" लोग ऐसा सोचेंगे कि आप पागल हैं जो यह अलग तरीके से कर रहे हैं। हम अलग हैं। हम अलग होने की योजना बनाते हैं। यह अंतर हमें हमारा दृष्टिकोण, विकास, और हमारे भाग्य के लिए हमारा अलग रास्ता बताता है। हमें कोई चीज़ नहीं रोक सकती।

हम लोगों का कहानियां बताने का तरीका बदल देंगे। कहानी कहने की कला के माध्यम से दुनिया को एकजुट करना हमारा मिशन है, और हम हर दिन इस मिशन के एक कदम और करीब आ रहे हैं। हम रणनीतिक और व्यवस्थित हैं। हम केंद्रित रह सकते हैं और हमारे अंदर अपने मिशन को अंज़ाम तक पहुँचाने की इच्छा है। हमें कोई चीज़ नहीं रोक सकती।

हमारे मुख्य आदर्श

  • कहानीकार को हमेशासबसे ऊपर रखें

    कहानीकार को
    हमेशा सबसे
    ऊपर रखें

  • इसे आसानरखें

    इसे आसान
    रखें

  • बारीकियों परध्यान दें

    बारीकियों
    पर ध्यान दें

  • विवेकपूर्णरहें

    विवेकपूर्ण
    रहें

  • मेहनत से काम करें, समझदार बनें,और जो सही है वो करें

    मेहनत से काम करें,
    समझदार बनें, और
    जो सही है वो करें

  • याद रखें, हमेशा एक दूसरारास्ता भी होता है

    याद रखें, हमेशा
    एक दूसरा रास्ता
    भी होता है

SoCreate से जुड़े तथ्य

  • 2015 मेंस्थापित

    2015 में
    स्थापित

  • आंतरिक रूप सेवित्तपोषित

    आंतरिक रूप
    से वित्तपोषित

  • सैन लुइस ओबिस्पो,कैलिफोर्निया में स्थित

    सैन लुइस ओबिस्पो,
    कैलिफोर्निया
    में स्थित

  • 23 ऑन-साइट कर्मचारीसदस्य

    23 ऑन-साइट
    कर्मचारी सदस्य

  • 2 मुख्य परियोजनाएंनिर्माण के अंतर्गत

    2 मुख्य परियोजनाएं
    निर्माण के अंतर्गत

  • 15k+ लेखक SoCreateआजमाने के लिए तैयार हैं!

    15k+ लेखक
    SoCreate आजमाने
    के लिए तैयार हैं!

अब तक की कहानी ...

क्या आप हमारी टीम में शामिल होना चाहते हैं?